आशा-आंगनबाड़ी कार्यकर्ता कुपोषित बच्चों और गर्भवती महिलाओं का विशेष ध्यान रखें : विमला बाथम

 
1

नोएडा। उत्तर प्रदेश राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष विमला बाथम ने आशा व आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं से अपील की है कि वह सरकारी योजनाओं की जानकारी घर-घर तक पहुंचाएं। इससे पात्र लोगों को योजना का लाभ मिल सकेगा। मिशन शक्ति अभियान 03 के तहत बुधवार को राजकीय बालिका इंटर कॉलेज होशियारपुर में आयोजित पोषण पंचायत कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि विमला बाथम ने कई अहम पहलुओं पर प्रकाश डाला। उन्होंने कुपोषित बच्चों, अति कुपोषित बच्चों और एनिमिक महिलाओं पर विशेष ध्यान देने की अपील की।

कार्यक्रम में जिला कार्यक्रम अधिकारी दिलीप कुमार सिंह ने प्रदेश में चल रहे पोषण माह के बारे में बताया। साथ ही अवगत कराया कि विभाग के निरंतर प्रयास से कुपोषित एवं अति कुपोषित बच्चों की स्थिति में सुधार हो रहा है।

जिला प्रोबेशन अधिकारी अतुल कुमार सोनी ने प्रदेश में चल रहे मिशन शक्ति-03 अभियान के बारे में बताया तथा महिला कल्याण विभाग द्वारा संचालित विभिन्न योजना- मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला, मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना की जानकारी दी।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि विमला बाथम ने महिला कल्याण विभाग की लाभार्थी परक योजनाओं- मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला, मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना एवं निराश्रित महिला पेंशन योजना के लाभार्थियों को स्वीकृति प्रमाण पत्र बांटे। कार्यक्रम का संचालन बेसिक शिक्षा विभाग से एसआरजी आकांशा सक्सेना ने किया। कार्यक्रम में अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी अर्चना सक्सेना, विद्यालय की प्रधानाचार्य हेमलता, जिला समुदाय विशेषज्ञ मोनिका श्रीवास्तव उपस्थित रहीं।

इस अवसर पर बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग द्वारा स्थानीय खाद्य पदार्थों एवं पौष्टिक व्यंजनों की प्रर्दशनी लगाकर उचित पोषण के प्रति जागरूक किया गया। इस अवसर पर अन्न प्राशन तथा गर्भवती महिलाओं की गोद भराई की रस्म मुख्य अतिथि ने की। विमला बाथम ने स्कूल प्रांगण में बनायी गयी वाटिका में पौधरोपण भी किया।

From around the web