कोविड अस्पताल में है कोरोना पॉजिटिव गर्भवती के प्रसव की सुविधा

 
x
नोएडा। जनपद का स्वास्थ्य विभाग महिलाओं को बेहतर स्वास्थ्य लाभ के लिए हर दिन नए प्रयास करता रहता है। इसी क्रम में जहां कोविड का संक्रमण बढ़ रहा है वहीं गर्भवती के प्रसव संबंधी मुश्किलें हल करने के लिए विभाग ने पहल की है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) डा. सुनील कुमार शर्मा के अनुसार कोविड पॉजिटिव गर्भवती महिलाओं के प्रसव के लिए नोएडा सेक्टर 39 स्थिति कोविड अस्पताल में व्यवस्था की गई है।
अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी (आरसीएच) डा. भारत भूषण ने कहा कोरोना काल में किसी भी गर्भवती या उनके परिजन को घबराने की जरूरत नहीं है। स्वास्थ्य विभाग उनके साथ है। किसी भी आपात स्थित में सरकारी एम्बुलेंस 102 की मदद से यहां पहुंचा जा सकता है। यही नहीं प्रसव के बाद जच्चा बच्चा को घर पहुंचाने की जिम्मेदारी का भी निर्वहन यही एम्बुलेंस करती है। एम्बुलेंस की यह सेवा निशुल्क है। उन्होंने कहा कोरोना काल में गर्भवती को अपने स्वास्थ्य का विशेष ख्याल रखना चाहिए। अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए खानपान पर विशेष ध्यान दें और किसी भी तरह के संक्रमण से बचें।
उन्होंने बताया सामान्य स्थिति (नॉन कोविड) में प्रसव के लिए जनपद में दस स्वास्थ्य केन्द्रों जिला अस्पताल, सीएचसी भंगेल, सीएचसी बादलपुर, सीएचसी दादरी, सीएचसी बिसरख, सीएचसी ढाडा कासना, पीएचसी दनकौर,पीएचसी जेवर,पीएचसी रबुपुरा, पीएचसी बरौला पर सुविधा उपलब्ध है। इनमें चार एल-3 फैसिलिटी हैं, जो फर्स्ट रेफरल यूनिट (एफआरयू) के रूप में काम करती हैं। यहां अन्य स्वास्थ्य केन्द्रों से रेफर होकर प्रसूता यहां आती हैं। जिला अस्पताल, सीएचसी भंगेल, सीएचसी बादलपुर, सीएचसी दादरी एफआरयू के रूप में क्रियाशील हैं।
 जिला सलाहकार मातृ स्वास्थ्य राजेन्द्र प्रसाद ने बताया- संस्थागत प्रसव को बढ़ावा देने और मातृ-शिशु मृत्युदर को कम करने के लिए स्वास्थ्य विभाग प्रयासरत है। इसी क्रम में हर महीने की नौ तारीख को प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान दिवस जनपद के 22 स्वास्थ्य केन्द्रों पर मनाया जाता है। हालांकि इस बार नौ जनवरी को रविवार होने के कारण यह दस जनवरी को मनाया जाएगा। इस दिन उच्च जोखिम गर्भावस्था वाली गर्भवती की पहचान की जाती है। उन्होंने बताया प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान दिवस पर जनपद के कई निजी चिकित्सक भी अपनी सेवा देते हैं। इसके अलावा प्रोत्साहन के लिए इस दिवस पर अच्छी सेवा देने वाले स्वास्थ्य केन्द्रों को पुरस्कृत किया जाता है।

From around the web