एशिया का सबसे बड़ा एयरपोर्ट होगा नोएडा इण्टरनेशनल एयरपोर्ट, प्रदेश के विकास को नई रफ्तार

 
ु
नोएडा। भारत माता की जय के साथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री का नाम लेते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रदेश के 24 करोड़ लोगों को नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के भूमि पूजन की बधाई दी। उन्होंने कहा कि एयरपोर्ट के भूमि पूजन के साथ ही दाऊजी मेले के लिए प्रसिद्द जेवर अब अंतरराष्ट्रीय मानचित्र पर नाम रोशन हो गया है। अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट का लाभ पश्चिमी उत्तर प्रदेश समेत समूची दिल्ली-एनसीआर को मिलेगा। इक्कीसवीं सदी का भारत आज एक से बढ़कर एक बेहतरीन इंफ्रास्ट्रक्चर का निर्माण कर रहा है। बेहतरीन नेटवर्क, इंटरनेशनल एयरपोर्ट, एक्सप्रेसवे पूरे क्षेत्र का कायाकल्प कर देते हैं। ये सभी परियोजनाएं पूरे क्षेत्र के लोगों का जीवन ही बदल देते हैं। गरीब, किसान, व्यापारी, मजदूर या उद्यमी हर किसी को इसका लाभ मिलता है। जब कनेक्टिविटी बेहतर हो तो इंफ्रास्ट्रक्चर की ताकत और भी बढ़ जाती है। उन्होंने कहा कि जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट कनेक्टिविटी के मामले में बहुत ही बेहतर होगा। टैक्सी, मेट्रो, रेल, बस हर तरह से जेवर एयरपोर्ट से जुड़े हुए होंगे। यूपी, दिल्ली, हरियाणा कहीं भी जाना हो जरा सी देर में पहुंचाना आसान और सरल होगा। अब तो दिल्ली मुम्बई एक्सप्रेस-वे भी तैयार हो रहा है।
एक तरह से नोयडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट उत्तरी भारत का लाजेस्टिक गेट-वे बनेगा। आज देश में जितनी तेजी से एविएशन के क्षेत्र में वृद्धि हो रही है, भारतीय कंपनियां बड़ी तेजी से एविएशन खरीद रहीं हैं। उनमें नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट की अहम भूमिका है। यहाँ 40 एकड़ में मेंटिनेंस, रिपेयरिंग, ओवरहॉलिंग की भी सुविधा होगी, जो देश-विदेश के विमानों को भी सुविधा देगी और स्थानीय व व्यापक पैमाने पर रोजगार भी उपलब्ध कराएगी। उन्होंने कहा कि हम 85 फीसद विमानों को एयरो सेवा के लिए विदेश भेजते हैं, जिस पर हर साल 15000 करोड़ का व्यय आता है। नोयडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट की पूरी परियोजना ही 30000 करोड़ में तैयार हो रही है। इस प्रकार से जेवर एयरपोर्ट इस स्थिति को बदलने में भी मददगार साबित होगा, इससे भारत की मुद्रा भी बाहर नही जाएगी। नोयडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट कार्गो हब की भी कल्पना को साकार करेगा। इससे पूरे क्षेत्र के विकास को एक नई गति प्रदान होगी। उन्होंने कहा कि जिन राज्यों की सीमा समुंद्र से सटी हुई होती है उनके लिए बन्दरगाह, पोर्ट बहुत बड़ी परियोजनाएं और ऐसेट्स होते हैं। लेकिन उत्तर प्रदेश जैसे भारी और व्यापक भूमि वाले प्रदेशों के लिए नोयडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट जैसे प्रोजेक्टस विकास के क्षेत्र के वरदान साबित होंगे। इंटरनेशनल एयरपोर्ट बनने के बाद आसपास के क्षेत्रों की क्षमता में काफी बढोत्तरी देखने को मिलेगी। उन्होंने कहा कि इससे सहारनपुर, मुरादाबाद, आगरा, अलीगढ़ पश्चिमी उत्तर प्रदेश के एमएसएमई उत्पादों को विदेश पहुंचाने में आसानी होगी। हवाई अड्डे के निर्माण होने के दौरान स्थानीय स्तर पर रोजगार के अनेकों अवसर भी प्राप्त होंगे, इससे पश्चिमी उत्तर प्रदेश के नागरिकों को व्यापक स्तर पर रोजगार प्राप्त होगा।
प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के शिलान्यास कार्यक्रम में भारत के लोकप्रिय एवं यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का हार्दिक अभिनंदन एवं स्वागत करते हुए कहा कि हम सभी जानते हैं कि 2014 के बाद भारत को हम सभी ने बदलते हुए देखा है। एक भारत श्रेष्ठ भारत को हम सभी बदलते हुए देख रहे हैं। कोरोना कालखंड में एक-एक नागरिक का जीवन और उसकी जीविका को सुरक्षा प्रदान करते हुए उत्तर प्रदेश के कोरोना के बेहतर प्रबंधन को पूरे विश्व ने सराहा है।
आज नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के शिलान्यास कार्यक्रम में प्रधानमंत्री का आगमन पश्चिमी उत्तर प्रदेश को विकास की नई ऊंचाइयों तक पहुंचाएगा। यहां के किसानों ने गन्ने की मिठास को आगे बढ़ाने का कार्य किया है, पर कुछ लोगों ने गन्ने में कड़वाहट घोलने की असफल कोशिश भी की। आज यहाँ का क्षेत्र नई तरक्की की उड़ान भरने के लिए तैयार है। आज देश के यशस्वी प्रधानमंत्री का इस ऐतिहासिक अवसर पर हम सभी को स्वागत करने का अवसर प्राप्त हो रहा है।
ज्योतिरादित्य सिंधिया केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ने कहा कि आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुनिया के चौथे सबसे बड़े नोएडा के जेवर में नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट का शिलान्यास किया है। एयरपोर्ट के बन जाने से दिल्ली, नोएडा, गाजियाबाद, अलीगढ़, आगरा, फरीदाबाद, मेरठ जैसे शहरों के साथ ही अन्य शहरों के करोड़ों लोगों को इसका फायदा मिलेगा।
प्रदेश के नागरिक उड्डयन मंत्री नन्द गोपाल गुप्ता ने कहा कि जेवर एयरपोर्ट से न केवल उत्तर प्रदेश बल्कि आसपास के पड़ोसी राज्य, दिल्ली एनसीआर को भी फायदा होगा। अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट में प्रथम चरण में 10000 करोड़ का निवेश  होगा। इस अवसर पर उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, केन्द्र एवं प्रदेश सरकार के मंत्रीगण एस0पी0 सिंह बघेल, संजीव बालियान, जनरल वी0के0सिंह, अशोक कटारिया, श्रीकांत शर्मा, जयप्रताप सिंह, धर्मसिंह सैनी, चौधरी भूपेन्द्र सिंह, चौधरी लक्ष्मी नारायण, जी0एस0 धर्मेश, धर्मवीर प्रजापति, सांसद सतीश गौतम, राजवीर सिंह राजू, राजवीर दिलेर, कान्ता कर्दम, डाॅ भोला सिंह, सुरेन्द्र नागर, पूर्व सांसद एवं मंत्री डाॅ महेश शर्मा, विधायक बिमला शोलंकी, अनीता लौधी, विजेन्द्र, देवेन्द्र लौधी, पंकज, तेजपाल नागर, संजय शर्मा, धीरेन्द्र सिंह, आर0पी0सिंह सहित केन्द्र एवं राज्य सरकार के मंत्रीगण, जनप्रतिनिधिगण आदि उपस्थित रहें।

From around the web