प्रदेश में आज से शुरु हुई कोविड टीके की प्रिकॉशन डोज

 
ह

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना और इसके नये वैरिएंट ओमिक्रॉन के बढ़ते खतरे के मद्देनजर जीवन और जीविका की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिये सोमवार से शुरु हो रही कोविड टीके की प्रिकॉशन डोज लगवाने की प्रदेशवासियों से अपील की है।
उत्तर प्रदेश में सरकार ने आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुये संक्रमण के अधिक खतरे की जद में आये लोगों को टीके की प्रिकॉशन डोज लगाने के लिये आज से शुरु हो रहे अभियान को प्राथमिकता दी है। उल्लेखनीय है कि स्वास्थ्यकर्मियों और 60 साल से अधिक उम्र वाले वरिष्ठ नागरिकों के अलावा निर्वाचन प्रकिया में तैनात होने वाले कर्मचारियों काे भी ‘फ्रंटलाइन वर्कर’ की श्रेणी में रखते हुये इन सभी को प्रिकाॅशन डोज के दायरे में शामिल किया है।
इस बीच प्रदेश की राजधानी लखनऊ में पिछले 24 घंटों में 1115 कोरोना संक्रमित मिलने के बाद सरकार अलर्ट माेड पर है। योगी ने सोमवार को लखनऊ स्थित कोविड कमांड सेंटर का औचक निरीक्षण किया। इस बीच योगी ने ट्वीट कर कहा, “आदरणीय प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में आज से स्वास्थ्य कर्मियों, फ्रंटलाइन वर्कर्स और 60 वर्ष से अधिक आयु के नागरिकों को कोविड टीके की प्रिकॉशन डोज लगनी शुरू हो गई है।” उन्होंने प्रिकॉशन डोज को ‘टीका जीत का’ बताते हुये आह्वान किया “टीका लगवाकर ही जीवन एवं जीविका की सुरक्षा और कोरोना की पराजय सुनिश्चित की जा सकती है। टीका अवश्य लगवाएं।”
राज्य सरकार का दावा है कि प्रदेश में संक्रमित लोगों की पहचान के लिये चलाये गये सघन अभियान, जांच आैर त्वरित इलाज एवं तेज टीकाकरण की नीति के बदौलत कोविड की स्थिति नियंत्रण में है। सरकार के आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक राज्य में कोरोना के सक्रिय मामलों की कुल संख्या वर्तमान में 25,974 है। इनमें 25,445 लोग ‘होम आइसोलेशन’ में स्वास्थ्य लाभ ले रहे हैं।
स्पष्ट है कि बहुत कम संख्या में लोगों को अस्पताल में भर्ती होने की जरूरत पड़ रही है। पिछले 24 घंटों में 2 लाख 22 हजार 428 सेंपल की जांच की गयी। इनमें से 7695 संक्रमित पाये गये। एक दिन में सर्वाधिक संक्रमित मरीज गौतम बुद्ध नगर में 1149 और राजधानी लखनऊ में 1115 मिले हैं।

From around the web