चुनाव में गड़बड़ी फैलाने की योजना बना रहे तीन बांग्लादेशी घुसपैठिए गिरफ्तार

 
न

झांसी। उत्तर प्रदेश विधानसभा के आसन्न चुनाव में गड़बड़ी फैलाने की योजना बना रहे तीन बांग्लादेशी घुसपैठियों को मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया गया है, जबकि उनके दो साथी फरार हो गए। एसटीएफ, एसओजी और सीपरी बाजार पुलिस की संयुक्त टीम ने मुठभेड़ के बाद तीनों को पकड़ा। तीनों से पूछताछ जारी है। ये तीनों झांसी में आधार कार्ड बनवाने की फिराक में थे। उनके पास से दिल्ली का आधार कार्ड, गाजियाबाद का डीएल, तमंचा एवं कारतूस बरामद किए गए हैं।

सिटी पुलिस अधीक्षक विवेक त्रिपाठी ने बताया कि चुनाव में गड़बड़ी फैलाने के उद्देश्य से हथियारों की तस्करी के लिए कुछ बांग्लादेशी घुसपैठियों के उत्तरप्रदेश में दाखिल होने की सूचना पुलिस और एसटीएफ को मिली थी। इसी क्रम में उनकी लोकेशन झांसी मिलने पर एसटीएफ टीम पीछा करते हुए आ पहुंची। टीम ने शुक्रवार देर रात एसओजी और सीपरी बाजार पुलिस की मदद लेते हुए ग्वालियर रोड रक्सा तिराहा के पास नहर की पुलिया के निकट घेराबंदी की। बदमाशोंं ने पुलिस टीम पर फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस ने भी जवाबी फायरिंग की। इसी बीच पुलिस ने तीन लोगों को पकड़ लिया, जबकि दो साथी अंधेरे का फायदा उठाते हुए फरार हो गए। गिरफ्तार तीनों व्यक्तियों ने अपने नाम सुलेमान उर्फ जिलमन, अलामीन उर्फ मिंटू और जाकिर खान उर्फ असलम निवासी जिला भगरठ खुलना बांग्लादेश बताया गया।

पुलिस ने आरोपितों के पास से दिल्ली के पते पर बना आधार कार्ड और गाजियाबाद से जारी ड्राइविंग लाइसेंस (डीएल) भी बरामद किया है। आरोपितों ने बताया कि उन्हें किसी गुरुजी नाम से चर्चित व्यक्ति ने आधार कार्ड बनवाया था। झांसी में भी आधार कार्ड बनवाने की कोशिश की जा रही थी। पुलिस उक्त गुरुजी को भी तलाश रही है।

पुलिस ने बताया कि ये लोग इससे पहले भी बॉर्डर पार कर भारत आ चुके हैं। उन्होंने स्वीकार किया कि 4 हजार रुपये प्रति व्यक्ति के हिसाब से बॉर्डर पार कराया गया था। गिरफ्तार करने वाली टीम में एसआई अक्षय परवीर कुमार त्यागी (एसटीएफ नोएडा), कॉन्स्टेबल जयकुमार, राजन कुमार, मुकेश सिंह, सुनील कुमार, राहुल भाटी, अंकुर (एसटीएफ), एसआई अजय भदौरिया सीपरी बाजार, अमरपाल सिंह चौकी प्रभारी लहर गिर्द, एसओजी प्रभारी सुरेंद्र सिंह शामिल रहे।

From around the web