बीजेपी टिकटार्थियों के लिए आज का दिन बहुत अहम, टिकट पर चुनाव समिति करेगी विचार 

 
न

लखनऊ।  आगरा - उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान वाले , मुज़फ्फरनगर,शामली, गाज़ियाबाद, नॉएडा,आगरा, मथुरा व अलीगढ़ समेत पश्चिमी उत्तर प्रदेश की 58 विधानसभा सीटों पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से टिकट की दावेदारी कर रहे नेताओं के लिए आज का दिन  बेहद अहम होने जा रहा हैं।
भाजपा चुनाव समिति की बैठक सोमवार को लखनऊ में होने जा रही है। इस बैठक में विधानसभा चुनावों के पहले चरण के लिए प्रत्याशियों के नामों पर निर्णायक फैसला किया जायेगा। प्रदेश समिति संभावित प्रत्याशियों की सूची पर विचार करके उसे अंतिम मुहर लगाने के लिए केंद्रीय समिति को भेज देगी। सूत्रों के अनुसार इस बैठक में पहले चरण के चुनाव वाली विधानसभा सीटों के लिये प्रत्याशियों के नामों पर अंतिम दौर की चर्चा के साथ ही चुनाव अभियान संबंधी अन्य अहम विषयों पर विचार विमर्श होगा। बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य तथा डा दिनेश शर्मा के अलावा प्रदेश भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, पार्टी के प्रदेश प्रभारी राधामोहन सिंह और चुनाव प्रभारी धर्मेन्द्र प्रधान एवं उप प्रभारी अनुराग ठाकुर सहित अन्य वरिष्ठ नेता भाग लेंगे। पश्चिमी यूपी से राज्यमंत्री संजीव बालियान और अश्वनी त्यागी इस बैठक में शामिल होंगे। 

माना जा रहा है कि प्रदेश समिति द्वारा सुझाये गये नामों पर ही केंद्रीय समिति अपनी मुहर लगा देती  है। केवल विशेष परिस्थितियों में कुछेक सीटों पर अंतिम समय में फेरबदल की गुंजाइश रहती है। केंद्रीय समिति प्रत्याशियों की सूची घोषित करने में भले ही एक-दो दिन का समय लगाये, पर अधिकांश दावेदारों की किस्मत 10 जनवरी को लखनऊ में होने वाली बैठक में ही तय हो जायेगी।
आगरा जिले की सभी नौ सीटों पर पिछले चुनावों में भाजपा ने जीत हासिल की थी। इस बार सभी सीटों को बचाये रखना पार्टी के लिये बड़ी चुनौती है। सूत्रों का दावा है कि इस चुनौती से निपटने के लिए पार्टी कुछ सीटों पर प्रत्याशी बदल भी सकती है।
भाजपा की 24 सदस्यीय चुनाव समिति की सोमवार को लखनऊ में होने वाली बैठक के बारे में यूं तो कहा जा रहा है कि इसमें प्रत्याशियों की सूची तैयार की जायेगी, लेकिन सूत्रों का दावा है कि लगभग सभी सीटों पर प्रत्याशियों के बारे में प्रदेश के शीर्ष नेताओं में सहमति बन चुकी है। बैठक में इन प्रत्याशियों के बारे में जानकारी देने की औपचारिकता भर ही शेष है। संभावना यह भी है कि निरन्तर जुटाये जा रहे फीडबैक के आधार पर कुछ सीटों पर आखिरी समय में पुनर्विचार कर लिया जाये।
इस लिहाज से भाजपा की टिकट के दावेदारों के लिए आज का दिन बेहद अहम हैं। सभी टिकटार्थियों की निगाहें इस बैठक पर लगी हुई हैं और प्रत्याशियों की सूची में अपना नाम शामिल कराने के लिए वे हर स्तर पर प्रयास जारी रखे हुए हैं।

From around the web