Wednesday, April 10, 2024

यूपी के बदायूं में दो भाइयों की हत्या और आगजनी, आरोपी को पुलिस ने किया मुठभेड़ में ढेर

बदायूं। उत्तर प्रदेश के बदायूं में बाल काटने वाले एक सिरफिरे ने मंगलवार को दो बच्चों की हत्या कर दी। इसके बाद पुलिस ने आरोपी को भी एनकाउंटर में मार गिराया।

बरेली के आईजी राकेश कुमार ने बताया कि बदायूं में दो बच्चों की हत्या कर दी गई। हत्या की सूचना पर पुलिस पहुंची। पुलिस ने अपराधी को मौके पर पकड़ने का प्रयास किया। मगर अपराधी ने पुलिस पर फायर कर दिया। बचाव में पुलिस ने फायरिंग की, जिसमें अपराधी की मौत हो गई।

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

उन्होंने कहा कि इस अपराधी के बारे में डिटेल्स जुटाई जा रही है। दो बच्चे छत पर खेल रहे थे। अपराधी ने उन बच्चों की हत्या कर दी है। कार्रवाई की जा रही है।

बदायूं के बाबा कॉलोनी में विनोद कुमार और उनकी पत्‍नी संगीता रहती हैं। संगीता का अपने घर के नीचे ही पार्लर है। वह अपने तीन बच्चों के साथ घर पर अकेली थीं। वहीं, जावेद और साजिद सामने सैलून चलाते हैं। इन दोनों का विनोद के परिवार से अक्सर झगड़ा होता रहता था। आस-पास के लोगों ने बताया कि मंगलवार शाम के समय साजिद और जावेद विनोद के घर पर पहुंचे और सीधे दूसरी मंजिल पर जाकर विनोद के तीनों बेटों पर उस्तरे से हमला कर दिया। इसमें विनोद के दो बच्चों की मौत हो गई। वहीं, तीसरा बेटा पीयूष मामूली रूप से घायल हो गया है। उसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

इस घटना के दौरान मां संगीता पार्लर में थीं। चीख-पुकार मचने के बाद लोग ऊपर पहुंचे। इतने में आरोपी घटना को अंजाम देने के बाद फरार हो गए। घटना के बाद इलाके में तनाव फैल गया है। पड़ोसियों ने बताया कि दो बालकों की हत्या पर विनोद के घर में चीख-पुकार मची तो वहां पहुंचे। जावेद दरवाजे के पास ही खड़ा रहा, फोन काॅल पर आई पुलिस उसे मंडी चौकी ले गई। क्षेत्र के दर्जनों लोगों की भीड़ एकत्र हो गई। इसके बाद नारेबाजी और जावेद की दुकान पर पथराव होने लगा। तोड़फोड़ की गई। कुछ दूरी पर दुकान फूंक दी गई।

पुलिस ने वहां से भीड़ खदेड़ी तो लोगों ने दातागंज मार्ग जाम कर दिया। बड़ी संख्या में पीएसी, पुलिस और अर्द्धसैनिक बल लगाकर बवाल रोका जा सका। बवाल होने पर डीएम मनोज कुमार और एसएसपी आलोक प्रियदर्शी घटनास्थल पर पहुंचे। मृत बालकों के पिता विनोद की तहरीर पर प्राथमिकी दर्ज करने के निर्देश दिए गए हैं।

इससे पहले हत्यारोपित की गिरफ्तारी के लिए मृतकों के परिवार ने जमकर हंगामा किया था। आरोपित के परिवार से झगड़ा और सैलून को आग के हवाले कर दिया था। इलाके की तनावपूर्ण स्थिति को संभालने के लिए पुलिस कप्तान  पैरामिलिट्री फोर्स के साथ इलाके में पहुंचे । परिवार को शांत कराते हुए आरोपितों की तलाश शुरू कर दी थी। एडीजी, आईजी और मंडला आयुक्त डीएम भी घटनास्थल पहुंचे थे।

घटना की जानकारी पर एडीजी पीसी मीणा, आईजी रेंज डॉ राकेश सिंह, एसएसपी आलोक पियदर्शी, डीएम मनोज कुमार और कई थानों की फोर्स पहुंची। पुलिस ने बड़ी मुश्किल से शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम भेजा। पुलिस ने घेराबंदी कर आरोपित को मुठभेड़ में मार गिराया। पुलिस सभी पहलुओं पर जांच कर रही है।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,237FansLike
5,309FollowersFollow
45,451SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय