Saturday, June 22, 2024

गाजियाबाद में आरआरटीएस स्टेशनों पर रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम बनाने का काम तेज

गाजियाबाद। दिल्ली-मेरठ रैपिड रेल कॉरिडोर पर स्थित सभी स्टेशनों पर रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम बनाने का काम तेज हो गया है। दिल्ली के सराय काले खां से लेकर मेरठ तक के बीच आरआरटीएस 900 पिट्स बना रहा है। करीब 75 फीसदी काम पूरा करने का दावा किया गया है।

 

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

 

एनसीआरटीसी के सीपीआरओ पुनीत वत्स का कहना है कि वैश्विक पर्यावरण लक्ष्यों के अनुरूप वर्षा जल संचयन के लिए प्रभावी तंत्र तैयार किया जा रहा है। इसके तहत दिल्ली के सराय काले खां से लेकर मेरठ के मोदीपुरम तक के एलिवेटेड वायडक्ट, स्टेशनों और डिपो में 900 से ज्यादा वर्षा जल संचयन पिट्स बनाए जा रहे हैं। इन पिट्स के जरिए लाखों क्यूबिक मीटर ग्राउंड वॉटर रिचार्ज हो सकेगा।

 

 

स्टेशनों पर भी प्रत्येक प्रवेश-निकास द्वारों के पास दो-दो वर्षा जल संचयन पिट्स विकसित किए जा रहे हैं। इस कॉरिडोर पर ट्रेनों के रखरखाव और संचालन के लिए दो डिपो होंगे। एक डिपो दुहाई, गाजियाबाद में बनकर तैयार हो चुका है और दूसरा मोदीपुरम मेरठ में निर्मित किया जा रहा है। दुहाई डिपो में 20 से ज्यादा वर्षा जल संचयन पिट्स बनाए गए हैं।

 

इन पिट्स की गहराई लगभग 16 से 22 मीटर भूजल स्तर के मुताबिक रखी गई है। इस सिस्टम की मदद से भूजल स्तर को बढ़ाने में सहयोग मिलेगा।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,188FansLike
5,329FollowersFollow
60,365SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय