Friday, July 19, 2024

देश में हर रोज 30 से 35 विद्यार्थी कर रहे आत्महत्या-प्रो० संजय कुमार

मेरठ। आज मनोविज्ञान विभाग सीसीएस यूनिवर्सिटी मेरठ के पुरातन विद्यार्थियों द्वारा संचालित स्वयंसेवी संस्था ‘मेंटल हेल्थ मिशन इंडिया, मेरठ उ0प्र0’ द्वारा अलेक्ज़ेंडर पब्लिक स्कूल, शास्त्री नगर मेरठ में शिक्षकों के साथ *”हैंडलिंग क्लासरूम चैलेंजेज एंड इमोशनल वेलबीइंग”* विषय पर एक कार्यशाला आयोजित की गई। कार्यशाला में मुख्य अतिथि के रूप में प्रो० संजय कुमार,अध्यक्ष मनोविज्ञान ने कहा कि आज हर व्यक्ति किसी न किसी प्रकार के तनाव से गुजर रहा है जिसका नकारात्मक प्रभाव हमारे व्यक्तिगत, सामाजिक अथवा कार्यक्षेत्र से संबंधित जिंदगी पड़ता है, जिसमें स्कूल शिक्षक अपवाद नहीं है। उन्होंने कहा कि शिक्षकों की जिंदगी में बेहतर परिणाम देने और स्कूल से संबंधित दबाव और चुनौतियों का सामना करने के लिए शिक्षक की इमोशनल वेलबीइंग का बेहतर होना आवश्यक है। जिससे कि  वे शिक्षण कार्य के साथ-साथ विद्यार्थियों के मानसिक स्वास्थ्य को बेहतर बना सकेंगे।

 

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

उन्होंने कहा कि आज हमारे देश में लगभग 30 से 35 विद्यार्थी रोज आत्महत्या करते हैं और इससे कहीं ज्यादा संख्या में आत्महत्या का प्रयास करते है और बहुत बड़ी संख्या में तो रिपोर्ट भी नही किए जाते हैं। इसलिए हमारे देश का भविष्य, बच्चों के लिए आज हर शिक्षक को मानसिक स्वस्थ्य के लिए सेंसटाइज होना आवश्यक है। मुख्य वक्ता के रुप में नीरज शर्मा ने “इमोशनल वेल बीइंग” पर बात करते हुए कहा कि आज दुनिया भर में आत्महत्या अलग-अलग देशो की अलग अलग जनसंख्या में चौथे नंबर से लेकर पहला मृत्यु का कारण है इसलिए हमें सामान्य जिंदगी में आने वाले तनाव का सामना करने की विधियों की जानकारी होना आवश्यक है।

 

उन्होंने इमोशनल वेल्डिंग को बेहतर बनाए रखने के साधनों के बारे में बताते हुए कहा कि हमें स्वयं को खुश रखने के लिए दूसरों की सहायता करते रहना चाहिए, यदि हमारे मन में कोई बात हमें परेशान करती है तो वह हमें किसी न किसी से साझा अवश्य करना चाहिए, दूसरों को हम सब प्यार करते हैं परन्तु हमें स्वयं को भी प्रेम करने पर विचार करना चाहिए। उन्होंने कहा की जिंदगी को खुशनुमा बनाए रखने के लिए हमे दूसरों की सहायता करते रहना चाहिए और जरूरत पड़ने पर मदद ले भी लेनी चाहिए।

 

कार्यक्रम में फैसिलिटीटर के रूप मे मनोवैज्ञानिक प्रिया पाल एवं नईमा सिद्दीकी उपस्थित रहे। इस दौरान स्कूल के डायरेक्टर श्री एस० के० शर्मा,  प्रधानाचार्या  डॉ0 दिव्या भारद्वाज, कोऑर्डिनेटर प्राची गुप्ता  के साथ अन्य अध्यापक इंदु शर्मा, संगीता शर्मा,  सुनीता शर्मा, माज़ अंसारी,व इकरा अंसारी आदि उपस्थित रहे।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,098FansLike
5,348FollowersFollow
70,109SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय