Thursday, July 11, 2024

विपरीत परिस्थितियों ने हमें और मजबूत बनाया – गौतम अदाणी

अहमदाबाद। अदाणी ग्रुप के चेयरमैन गौतम अदाणी ने सोमवार को कहा कि विपरीत परिस्थितियों ने हमारी परीक्षा ली और हमें पहले के मुकाबले अधिक मजबूत बनाया। साथ ही कहा कि कोई भी चुनौती ग्रुप की नीव नहीं हिला सकती। अदाणी एंटरप्राइजेज की एनुअल जनरल मीटिंग (एजीएम) को संबोधित करते हुए गौतम अदाणी ने कहा कि विदेशी शॉर्ट सेलर की ओर से उन पर तथ्यहीन आरोप लगाए गए और उनकी दशकों की मेहनत पर सवाल उठाए गए।

 

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

अदाणी ग्रुप के चेयरमैन ने कहा, “हमारे संस्थान की प्रतिष्ठा पर अचानक किए गए हमले का हमने सफलतापूर्वक जवाब दिया है। हमने साबित करके दिखाया है कि कोई भी चुनौती हमारे ग्रुप की नींव को नहीं हिला सकती।” आमतौर पर शॉर्ट सेलर वित्तीय बाजार से फायदे के लिए ऐसा करते हैं, लेकिन ये कुछ अलग था। गौतम अदाणी ने कहा कि हम पर दोतरफा हमला हुआ। एक तरफ हमारे वित्तीय स्थिति पर सवाल उठाए गए। इसी दौरान हमारे खिलाफ गलत जानकारियों के साथ एक कैंपेन चलाया गया और राजनीति में घसीटा गया। ये हमला पूरी तरह से सुनियोजित था और हमारे फॉलो-ऑन पब्लिक ऑफर के बंद होने से पहले किया गया था। इसे मीडिया के एक सेगमेंट ने हमें बदनाम करने, अधिकतम नुकसान पहुंचाने और मेहनत से अर्जित मार्केट कैप को नष्ट करने के लिए इसका प्रचार किया।

 

गौतम अदाणी ने आगे कहा कि देश के सबसे बड़े एफपीओ के जरिए 20,000 करोड़ रुपये जुटाने के बाद भी इस मामले के कारण कंपनी ने एक बड़ा निर्णय लिया और निवेशकों के सारे पैसे लौटा दिए। ये निर्णय हमारी निवेशकों के प्रति प्रतिबद्धता को दर्शाता है। अदाणी ने आगे कहा कि यह हमारी यह दृढ़ता ही है जिसने हमें देश की सबसे प्रशंसित कंपनियों में से एक बनने की अनुमति दी है और हमारी दृढ़ता कभी भी इससे अधिक स्पष्ट नहीं थी जो हमने पिछले वर्ष प्रदर्शित की थी। अदाणी ग्रुप ने अपना कैश रिजर्व बढ़ाने के लिए 40,000 करोड़ रुपये अतिरिक्त जुटाए हैं, जो कि अगले दो वर्षों के डेट रीपेमेंट के बराबर है।

 

 

गौतम अदाणी ने आगे कहा कि यह निर्णय कंपनी की मजबूती को बताता है। इससे बाजार का विश्वास वापस लौटा है। किसी उठापटक से अपने पोर्टफोलियो को सुरक्षित रखने के लिए हमने 17,500 करोड़ रुपये के मार्जिन-लिंक्ड फाइनेंसिंग का समय से पहले भुगतान कर दिया है। कर्ज भुगतान करने में कोई परेशानी न आने के बाद भी कंपनी ने अपना डेट टू ईबीआईटीडीए रेश्यो छह महीने में कम करके 2.5 गुना कर लिया था। फिलहाल यह घटकर 2.2 गुना पर है। इससे हमारे ग्रुप की वित्तीय स्थिति मजबूत हुई है। इसके साथ तेज विस्तार की नई संभावनाएं खुली हैं।

 

गौतम अदाणी ने शेयरधारकों से कहा कि हमले के खिलाफ हमारे रुख की पुष्टि तब और हुई जब भारत के सर्वोच्च न्यायालय ने हमारे कार्यों को लेकर क्लीन चिट दी। हम संचालन में कुशलता और पारदर्शी डिस्क्लोजर के लिए प्रतिबद्ध हैं। दुनिया के कई जाने माने निवेशक जैसे जीक्यूजी पार्टनर, टोटल एनर्जी, आईएचसी, क्यूआईए और यूएस डेवलपमेंट फाइनेंस कॉरपोरेशन ने निवेश के लिए हमें चुना है। आगे कहा कि विपरीत परिस्थितियों ने हमारी परीक्षा ली और हमें पहले के मुकाबले अधिक मजबूत बनाया।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,098FansLike
5,351FollowersFollow
64,950SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय