Friday, April 19, 2024

रक्षा मंत्रालय ने इंजन के उन्नत ईंधन के लिए समझौता किया

मुज़फ्फर नगर लोकसभा सीट से आप किसे सांसद चुनना चाहते हैं |

नयी दिल्ली। रक्षा मंत्रालय ने भारी आकार वाले उपकरणों एवं वाहनों के इंजनों के लिए उन्नत ईंधन और नियंत्रण प्रणाली के देश में ही विकास के उद्देश्य से बीईएमएल लिमिटेड, भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड (बीईएल) और मिश्र धातु निगम लिमिटेड (मिधानी) के साथ एक त्रिपक्षीय समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं।

 

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

इस समझौता ज्ञापन पर बीईएमएल लिमिटेड के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक शांतनु रॉय, मिश्र धातु निगम लिमिटेड के मुख्य प्रबंध निदेशक डॉ एसके झा और भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड के मुख्य प्रबंध निदेशक भानु प्रकाश श्रीवास्तव के साथ रक्षा सचिव गिरिधर अरमाने की उपस्थिति में हस्ताक्षर किए गए।

 

 

यह पहल ईंधन के परिप्रेक्ष्य में एक उन्नत और विशिष्ट नियंत्रण प्रणाली के डिजाइन, परीक्षण व निर्माण के लिए स्वदेशी क्षमताओं का अधिकतम लाभ उठाने पर ध्यान केंद्रित करेगी, जो बढ़ी हुई दक्षता, कार्य प्रदर्शन तथा विश्वसनीयता प्रदान करती है। इन कंपनियों का लक्ष्य इंजन की प्रौद्योगिकी और नियंत्रण प्रणालियों में नवीनतम प्रगति का उपयोग करके इंजन प्रणालियों के विकास के लिए अपनी डोमेन विशेषज्ञता का विस्तार करना है, जो लड़ाकू वाहनों के क्षेत्र में भारत की आत्मनिर्भरता सुनिश्चित करेगी।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,237FansLike
5,309FollowersFollow
46,191SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय