Friday, February 23, 2024

मुजफ्फरनगर में हाईस्कूल व इण्टरमीडिएट की परीक्षाएं 22 फरवरी से, 72 परीक्षा केंद्र बनाए गए

मुजफ्फरनगर। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की हाईस्कूल व इण्टरमीडिएट की परिषदीय परीक्षाएं 22 फरवरी 2०24 से आरंभ हो रही है। जिले में इस वर्ष 72 परीक्षा केंद्र बनाए गए है, शासन द्वारा प्रत्येक परीक्षा केंद्र पर एक केंद्र व्यवस्थापक के साथ-साथ एक बाह्य अतिरिक्त केंद्र व्यवस्थापक और एक स्टेटिक मजिस्ट्रेट भी नियुक्त किए गए है। विभाग द्वारा नियुक्त सभी बाह्य केंद्र व्यवस्थापको की एक कार्यशाला का आयोजन सनातन धर्म इण्टर कॉलेज में किया गया।

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

 

 

जिला विद्यालय निरीक्षक डॉ धर्मेन्द्र शर्मा ने कहा कि बाह्य केंद्र व्यवस्थापक के अधिकार व कर्तव्य केंद्र व्यवस्थापक के समान ही है, परीक्षा केंद्र पर प्रत्येक गतिविधि के लिए केंद्र व्यवस्थापक के साथ साथ अतिरिक्त केंद्र व्यवस्थापक भी उत्तरदायी रहेंगे, उनको अपने केंद्र पर पैनी निगाह रखनी होगी । कभी कभी छोटी छोटी लापरवाही के परिणाम घातक हो जाते है। प्रत्येक केंद्र पर केंद्र व्यवस्थापक, अतिरिक्त केंद्र व्यवस्थापक, स्टेटिक मजिस्ट्रेट को एक संयुक्त टीम के रूप में श्रेष्ठ कार्य करना है। परिषदीय परीक्षा से सम्बंधित सभी निर्देश आदेश निर्गत किए जा चुके है उनके अनुसार ही अपनी पूर्व कार्य योजना बनाएं।

 

 

हाईस्कूल व इण्टरमीडिएट परीक्षाओं से सम्बंधित उत्तर पुस्तिकाओं का वितरण आरंभ हो गया है, सभी केंद्र व्यवस्थापक परीक्षा केंद्र पर आवंटित परीक्षार्थियों के सापेक्ष फर्नीचर, पेय जल, शौचालय, विद्युत आपूर्ति, स्ट्रांग रूम, सीसीटीवी कैमरा, वॉयस रिकॉर्डर, इंटरनेट आदि की पर्याप्त व्यवस्था समय से पूर्व कर लें। सभी केंद्र व्यवस्थापक प्रश्न पत्र खोलते समय अधिक सावधानी रखेंगे। किसी भी स्थिति में गलत प्रश्न पत्र न खुलने पाएं, प्रश्नपत्र खोलने से पूर्व लिफाफे पर हस्ताक्षर करने से पूर्व दिनांक, पाली, विषय, दिवस आदि का मिलान अवश्य करेंगे।

 

 

प्रश्न पत्र खोलते समय या स्ट्रांग रूम के अंदर केंद्र व्यवस्थापक मोबाइल या कोई भी इलेक्ट्रोनिक डिवाइस ले कर नही जाएंगे और ना ही परीक्षा अवधी में केंद्र पर केंद्र व्यवस्थापक के अतिरिक्त किसी भी कर्मचारी या शिक्षक शिक्षिका के पास मोबाइल या अन्य कोई भी इलेक्ट्रोनिक डिवाइस होगी। परीक्षा ड्यूटी के समय केंद्र व्यवस्थापक सहित सभी शिक्षक व कर्मचारी विभाग द्वारा निर्गत अपना परिचय पत्र व आधार कार्ड अनिवार्य रूप से अपने साथ रखेंगे। राजकीय हाईस्कूल रसूलपुर के प्रधानाचार्य ललित मोहन गुप्ता ने कहा कि प्रत्येक पाली में केंद्र व्यवस्थापक समय से एक घंटा पूर्व यदि पहुंच जाए तब कार्य को अधिक सूचितापूर्ण किया जा सकेगा।

 

सभी केंद्रों पर पुलिस, कक्ष निरीक्षक आदि की सभी व्यवस्था समय पूर्व ही विभाग द्वारा कर दी जाएगी। सनातन धर्म इण्टर कॉलेज मीरापुर के प्रधानाचार्य व मास्टर ट्रेनर डॉ विकास कुमार ने शासन से प्राप्त निर्देशों व आदेशों की विस्तृत चर्चा करते हुए कहा कि सभी  अतिरिक्त केंद्र व्यवस्थापक  विशेष रूप से ध्यान रखें कि किसी भी स्थिति में विषय अध्यापक की ड्यूटी उस पाली में कक्ष निरीक्षक के रूप में न लगे जिस पाली में सम्बन्धित विषय की परीक्षा हो, सभी कक्षणितीक्षकों व उपस्थित अन्य कर्मचारियों को परिचयपत्र के साथ साथ अपना आधार कार्ड भी नियमित लाना होगा। परीक्षार्थी अपनी उत्तर पुस्तिका के प्रत्येक पृष्ठ पर अनुक्रमांक व उत्तर पुस्तिका क्रमांक अनिवार्य रूप से लिखेंगे।

 

 

परिषदीय परीक्षा जिला कार्यालय के सदस्य शिक्षक संदीप कुमार कौशिक ने कंट्रोल रूप से जुड़ी जानकारी देते हुए कहा कि प्रत्येक परीक्षा कक्ष में दो कैमरे अनिवार्य रूप से रहेंगे, जिनमें वॉयस रिकॉर्डर भी हो। राजकीय इण्टर कॉलेज मुजफ्फरनगर के उप प्रधानाचार्य नितिन कुमार राठी ने कहा कि प्रत्येक परीक्षा केंद्र व्यवस्थापक प्रश्नपत्रों के रख रखाव हेतु एक स्ट्रांग रूम बनाएंगे, जो प्रधानाचार्य कक्ष या परीक्षा कक्ष में नहीं होगा।

 

प्रत्येक पाली में उपयोग में न आने वाले प्रश्नपत्रों को स्ट्रांग रूम में ही एक अन्य अलमारी में रखा जाएगा। ओएमआर शीट व उत्तरपुस्तिकाओं का संकलन कैमरे की निगरानी में ही होगा। इस अवसर पर अनिल कौशिक,संजय भटनागर, रामकुमार शर्मा, मदन पाल, मीनाक्षी आर्य, जयशंकर अभिषेक गर्ग आदि उपस्थित रहे।।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,381FansLike
5,290FollowersFollow
41,443SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय