Thursday, June 13, 2024

शामली में सुबह काम पर निकले युवक पर पुलिसकर्मी ने बरसाया डंडा,पीड़ित काट रहा अस्पताल व थानों के चक्कर

शामली। सुबह के समय बाइक पर सवार होकर काम पर जा रहे युवक के हाथ में पुलिसकर्मी ने डंडा मार दिया, जिसके चलते वह गंभीर रूप से घायल हो गया। पीड़ित की शिकायत पर थाना आदर्श मंडी और शामली कोतवाली पुलिस ने आरोपी पुलिसकर्मी के संबंध में कोई जानकारी होने से ही इंकार कर दिया। पुलिस की डंडे वाली कार्यप्रणाली से प्रताडित युवक अब उपचार के लिए अस्पताल और न्याय के लिए पुलिस थाने व अफसरों के चक्कर काट रहा है।

 

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

जानकारी के मुताबिक शामली जनपद के गांव अकबरपुर सुन्हैटी निवासी आदेश पुत्र लखमी आदर्श मंडी बिजलीघर पर बतौर संविदाकर्मी लाइनमैन के पद पर काम करता है। आदेश शुक्रवार को घायल अवस्था में अन्य लाइनमैन के साथ उपचार के लिए सीएचसी शामली पर पहुंचा। उसने बताया कि वह सुबह के समय अपनी बाइक पर सवार होकर अपने काम पर बिजलीघर जा रहा था। रास्ते में झिंझाना नहर पुल के पास एक कार नहर में गिरी हुई थी, जिसे देखने के लिए मौके पर भीड़ लगी हुई थी। लाइनमैन ने बताया कि सड़क पर भीड़ होने के कारण उसे भी बाइक रोकनी पड़ी, लेकिन आरोप है कि इसी बीच पीछे से आए एक अज्ञात पुलिसकर्मी ने उसके हाथ पर डंडा मार दिया, जिसके चलते वह गंभीर रूप से घायल हो गया।

 

पुलिस ने किया इंकार

घायल लाइनमैन ने बताया कि वह पुलिसकर्मी के खिलाफ शिकायत करने के लिए थाना आदर्श मंडी पर पहुंचा, लेकिन वहां कार्यालय पर तैनात पुलिस कर्मचारियों ने आरोपी पुलिसकर्मी ने उनके थाने से संबंधित होने से इंकार कर दिया, जिसके बाद वह साथियों के साथ शामली कोतवाली पर पहुंचा और वहां पर भी पुलिसकर्मियों ने कहा कि आरोपी उनके क्षेत्र से संबंधित नही है। पीड़ित ने हाथ में चोट के कारण सीएचसी शामली पर उपचार कराया। घटना के बाद पीड़ित पक्ष में रोष बना हुआ है, जिन्होंने बताया कि पूरे मामले की शिकायत पुलिस ऑफिस पर पहुंचकर एसपी से की जाएगी।

 

पुलिस की डंडा व्यवस्था पर रोष

शामली जिले में पुलिसकर्मियों की डंडा व्यवस्था के कारण आय दिन शिकायतें सामने आती रहती है। पुलिसकर्मियों को पीड़ित को न्याय दिलाने में मद्द करने और आरोपियों पर कार्रवाई का अधिकार है, लेकिन इसके बावजूद भी डंडाधारी पुलिसकर्मी खाकी का रौब गालिब करने के लिए कई बार स्वयं ही न्यायाधिकारी बनकर दंड देने पर तुल जाते हैं। जनपद की सड़कों पर अक्सर बाइक सवारों के साथ इस तरह के मामले जरूर देखने को मिलते हैं।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,188FansLike
5,329FollowersFollow
58,054SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय