Saturday, July 20, 2024

आईपीएचएल लैब तो बनी लेकिन ना उपकरण आए और ना स्टाफ मिला

मेरठ। पीएल शर्मा जिला अस्पताल में इंट्रीग्रेटेड पब्लिक हेल्थ लैब (आईपीएचएल) तो बन गई और पिछले साल सितंबर में इसका शिलान्यास भी केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. मनसुख मांडविया वर्चुअली किया था। लेकिन यह अभी तक शुरू नहीं हो पाई है। न तो पूरे जांच उपकरण आए हैं और न ही अलग से स्टाफ मिला है।

 

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

इस लैब में गंभीर बीमारियों की जांच होनी है। अभी जो सैंपल मेडिकल कॉलेज भेजने पड़ते हैं, लैब बनने के बाद वे वहां नहीं भेजने पड़ेंगे। जिला चिकित्सालय में इंटीग्रेटेड पब्लिक हेल्थ लैब का निर्माण किया गया है। यह लैब मेडिकल की माइक्रोबायोलॉजी लैब की तरह कार्य करेगी, जबकि जिला अस्पताल में जो पहले से पैथोलॉजी लैब है वह पहले की तरह कार्य करती रहेगी।

 

जिला अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ कौशलेंद्र सिंह ने बताया कि आईपीएचएल लैब शुरू होने के बाद सभी जांच सुविधा एक ही जगह मिलेंगी। मरीजों को जांच के लिए अलग-अलग जगह भटकने की जरूरत नहीं पड़ेगी। उन्होंने बताया कि लैब शुरू नहीं हो पाई है। इसे शुरू कराने के लिए पत्राचार चल रहा है।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,098FansLike
5,348FollowersFollow
70,109SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय