Wednesday, July 24, 2024

आपातकाल लोकतंत्र का काला अध्याय – मोहन यादव

भोपाल। आपातकाल के 50 साल पूरे होने पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने आपातकाल को लोकतंत्र का काला अध्याय बताया। सीएम डॉ. मोहन यादव ने कहा कि ‘आपातकाल’ लोकतंत्र का काला अध्याय है, जो असफलता की कुंठा से उपजे अहंकार और दमन के कुचक्र का प्रतीक है। उन्होंने आगे कहा कि 1975 में आज ही के दिन (25 जून को) इंदिरा गांधी की सरकार ने देश पर आपातकाल थोप दिया था। तब मां भारती की साहसी संतानों ने ही कड़ा प्रतिरोध किया और यातनाएं सहकर भी लोकतंत्र को पुनर्स्थापित किया। लोकतंत्र के लिए समर्पित सभी विभूतियों को शत्-शत् नमन करता हूं।

 

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

राज्य के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने आपातकाल के 50 साल पूरे होने पर कहा कि 25 जून 1975 का दिन भारतीय लोकतंत्र के इतिहास का एक ऐसा काला अध्याय है, जिसे कभी भुलाया नहीं जा सकता। दंभ से भरी निरंकुश कांग्रेस सरकार ने संविधान की मर्यादा को तार-तार किया, अभिव्यक्ति की आजादी का गला घोंटा। भारत की लोकतांत्रिक परंपराओं पर विश्वास रखने वाले और देश के संविधान की गरिमा के प्रति समर्पित लोग, 25 जून को कभी नहीं भूल पाएंगे। आपातकाल में जेल गए लोकतंत्र सेनानियों की मार्मिक कहानियां सुनकर आज भी हृदय में पीड़ा के निशान उभर आते हैं।

 

 

आपातकाल की कालरात्रि की भयावह अवधि में लोकतंत्र की पुनर्स्थापना हेतु संघर्ष करने वाले सभी लोकतंत्र सेनानियों को मेरा नमन। गौरतलब है कि आज ही के दिन 25 जून 1975 को तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने आपातकाल लागू किया था। इस दौरान अपने राजनीतिक विरोधियों सहित तमाम लोगों को गिरफ्तार कर जेल में डाल दिया गया था। आपातकाल देश में लगभग 19 माह लागू रहा।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,098FansLike
5,348FollowersFollow
70,109SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय