Thursday, April 18, 2024

मुजफ्फरनगर की होनहार तान्या सिंह ने पेरिस में किया देश का नाम रोशन

मुज़फ्फर नगर लोकसभा सीट से आप किसे सांसद चुनना चाहते हैं |

मुजफ्फरनगर। संयुक्त राष्ट्र महासभा के एक प्रमुख संगठन यूनाईटेड नैशंस एजुकेशनल, साईटिफिक एवं कल्चरल आर्गेनाईजेशन के परिस (फ्रांस) स्थित मुख्यालय पर अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर एक भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें विभिन्न देशों की छात्राओं को आमंत्रित किया गया। इस भव्य कार्यक्रम में मूल रूप से जनपद मुजफ्फरनगर की होनहार तान्या सिंह को भी आमंत्रित किया गया, जो पेरिस (फ्रांस) में रहकर शोध कार्यों में लगी हुई हैं। इस अवसर पर महिलाओं के साथ भेदभाव और लिंग आधारित हिंसा के कलंकÓ को समाप्त करने पर तान्या सिंह ने अपने विचार रखे।

इस मौके पर तान्या सिंह ने बेबाक तरीके से कहा कि हमने ऐसी अनेक महिलाओं को भी देखा है, जिन्होंने अपने-अपने क्षेत्रों में विशेष कामयाबी हासिल की है और वह शक्तिशाली होने के साथ ही सभी के लिये प्रेरणाश्रोत हैं। उन्होंने मैगी मर्फी, सीईओ लुईस फुटबॉल क्लब, गैब्रिएला रामोस, मैक्सिकन इंटरनेशनल सिविल सर्वेंट, अमांडा गुटिरेज, फुटप्रो अध्यक्ष समेत कई अन्य के उदाहरण भी पेश किये। इस मौके पर लिंग भेदभाव से सम्बन्धित चुनौतियों का समाधान करने के लिये रणनीतियों, विनियमों, प्रोत्साहनों और प्रतिबंधों का पता लगाने के लिये गहन मंथन हुआ। तान्या सिंह ने कहा कि अपनी कामयाबी के बल पर महिलाएं उन्नति कर सकती हैं।

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

 

यदि ऐसा होता है तो उनके लिये रोज ही जश्न है। महिलाओं का जश्न मनाने का अवसर अब वास्तव में किसी विशेष दिन तक सीमित ही सीमित होने की आवश्यता नहीं है। अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में विभिन्न मुद्दों को लेकर विस्तृत चर्चा की गई, लेकिन एक अहम मुद्दा यह रहा कि विश्वभर में फुटबाल का खेल महिला एवं पुरूष खिलाडियों द्वारा खेला जाता है, लेकिन खेल क्लबों, खेल संघों एवं अंतर्राष्ट्रीय फुटबाल संघ द्वारा खिलाडियों को दी जा रही सुविधाओं में पुरूष खिलाडियों को महिला खिलाडियों से अधिक सुविधाएं दी जाती हैं। इस विषय पर एक प्रस्ताव पारित कर अंतर्राष्ट्रीय फुटबाल संघ को प्रेषित किया गया, जिसें इस भेदभाव को तुरन्त समाप्त करने की मांग की गई। ज्ञातव्य है कि यूनेस्को संगठन के अन्तर्गत शिक्षा, विज्ञान, सांस्कृतिक गतिविधियों, कम्यूनिकेशन और सूचना प्रौद्योगिकी विषयों में अंतर्राष्ट्रीय सहयोग को बढावा देते हुए शान्ति एवं सहयोग को बढावा दिया जाता है। यूनेस्को की स्थापना 16 नवम्बर, 1945 को की गई थी, इसमें 195 देश सदस्य हैं, जबकि 8 देश सहयोगी सदस्य हैं।

 

इस संगठन के दुनिया भर में 5 से अधिक क्षेत्रीय कार्यालय हैं। अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर दिनांक 8 मार्च को आयोजित कार्यक्रम में प्रेरिस में ही शिक्षा प्राप्त कर रही भारतीय छात्रा तान्या सिंह को भी आमंत्रित किया गया था। ज्ञातव्य है कि तान्या सिंह ने भारत से बी.टैक परीक्षा पास की थी, तभी एमटैक करने के लिये उनका चयन फ्रांस स्थित एक विश्वविद्यालय में हो गया था। एमटैक करने के उपरान्त तान्या सिंह वहीं पर शोध कार्यों में लगी हुई हैं। तान्या सिंह वरिष्ठ पत्रकार व प्रमुख किसान परिवार से जुड़े मनोज कुमार व एस.डी. कालेज ऑफ लॉ की प्रवक्ता अनिता सिंह की पुत्री हैं।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,237FansLike
5,309FollowersFollow
46,191SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय