Thursday, June 6, 2024

मेरठ में अवैध होर्डिंग्स लगाने पर विज्ञापन एजेंसियों पर कार्रवाई करते हुए 52.80 लाख रुपये का जुर्माना

मेरठ। महानगर में अवैध रूप से यूनिपोल और होर्डिंग्स लगाए जा रहे हैं। जांच के दौरान सैकड़ों अवैध यूनिपोल और होर्डिंग्स पाए जा चुके हैं। नगर निगम ने ऐसी ही चार विज्ञापन एजेंसियों पर कार्रवाई करते हुए 52.80 लाख रुपये जुर्माना किया है। आठ दिनों में विज्ञापन पट स्वयं उतारने की चेतावनी दी गई है। ऐसा नहीं करने पर नगर निगम यूनिपोल और होर्डिंग्स को उतारकर जब्तीकरण की कार्रवाई करेगा।

 

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

महानगर में काफी लंबे समय से अवैध यूनिपोल और होर्डिंग्स लगाने का कारोबार खूब हो रहा है। निजी भवनों, निजी जमीन के अलावा सरकारी भवनों, भूमि पर भी यूनिपोल और होर्डिंग्स लगाए जा रहे हैं। मुंबई के घाटकोपर में हुए होर्डिंग्स हादसे के बाद शासन ने भी पूरे प्रदेश में अवैध रूप से लगे यूनिपोल और होर्डिंग्स के खिलाफ कार्रवाई निर्देश सभी निकायों को दिए। इसके बाद नगर निगम ने इस ओर कार्रवाई की।

 

पहले जांच की गई तो महानगर में सैकड़ों की संख्या में अवैध रूप से लगाए गए यूनिपोल और होर्डिंग्स मिले। जिस पर यूनिपोल और होर्डिंग्स लगाने वाली विज्ञापन एजेंसियों को नोटिस जारी किए गए। अब जुर्माने की कार्रवाई की जा रही है।
अपर नगरायुक्त प्रमोद कुमार ने बताया कि जांच के उपरांत चार विज्ञापन एजेंसियों पर 52.80 लाख रुपये जुर्माना किया गया है। इनमें मैसर्स अभिनव एडवरटाइजिंग एजेंसी पर 13.80 लाख रुपये, मैसर्स ओशियन एडवरटाइजिंग सोल्यूशन पर 9.60 लाख रुपये, मैसर्स हीरा एडवरटाइजिंग पर 21.00 लाख रुपये और मैसर्स आरएस एटरप्राइजिज पर 8.40 लाख रुपये का जुर्माना किया गया है। सभी को आठ दिनों में अपने विज्ञापन पटो को स्वयं उतारने के आदेश दिए गए हैं। ऐसा नहीं करने पर नगर निगम संपत्तियों की जब्तीकरण करेगा।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,188FansLike
5,329FollowersFollow
53,342SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय