Monday, May 27, 2024

लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण में मतदान 61 प्रतिशत से अधिक, मोदी-अमित शाह ने डाली वोट

मुज़फ्फर नगर लोकसभा सीट से आप किसे सांसद चुनना चाहते हैं |

नयी दिल्ली – लोकसभा चुनाव 2024 के तीसरे चरण में मंगलवार को 11 राज्यों एवं केन्द्रशासित प्रदेश दादर-नगर हवेली और दमन एवं दीव की 93 सीटों पर कुल मिलाकर शांतिपूर्ण ढंग से हुये मतदान में 61.57 प्रतिशत से अधिक मतदान हुआ।

मतदान के अंतिम आंकड़े इससे अधिक हो सकते हैं, पर इसका प्रतिशत पहले और दूसरे चरण के मुकाबले कम है।

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

इसके साथ ही लोकसभा की 543 सीटों में से 283 सीटों पर प्रत्याशियों का भाग्य इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीनों में दर्ज हो गया है। तीसरे चरण में शामिल सीटों में सामान्य- 72, अनुसूचित जनजाति- 11 और अनुसूचित जाति के लिये आरक्षित 10 सीटें शामिल थीं।

मतदान सुबह सात बजे से शाम छह बजे तक चला। देश के कई इलाकों में तेज और गर्मी के के बीच मतदान का प्रतिशत तीसरे चरण में भी तुलनात्मक रूप से कम रहा। चुनाव आयोग शाम को जारी मतदान के प्रांरभिक आंकड़ों के अनुसार असम में सबसे अधिक 75.30 प्रतिशत मतदाताओं ने मताधिकार का इस्तेमाल किया जबकि महाराष्ट्र 54.98 प्रतिशत वोट पड़े।

बिहार में 56.55 प्रतिशत, छत्तीसगढ़ में 66.99 प्रतिशत, दादर नगर हवेली और दमन एवं

दीव में 65.23 प्रतिशत, गोवा में 74.32 प्रतिशत,गुजरात में 56.83 प्रतिशत, कर्नाटक में 68.22 प्रतिशत, मध्यप्रदेश 63.13, महाराष्ट्र में 54.98, उत्तर प्रदेश में 57.34 और पश्चिम बंगाल में 73.93 प्रतिशत वोट पड़े।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, केन्द्रीय मंत्री अमित शाह और कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खडगे ने अपने-अपने गृह क्षेत्र में मतदान किया।

कुल सात चरणों में कराये जा रहे आम चुनाव के पहले चरण में 19 अप्रैल को 21 राज्यों की 102 सीटों पर मतदान हुआ जिसमें 66.14 प्रतिशत मतदाताओं ने वोट डाले। दूसरे चरण में 13 राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों की 88 सीटों पर 26 अप्रैल को 66.71 प्रतिशत वोट पड़े थे। तीसरे चरण का मतदान आज हो रहा है। वर्ष 2019 के लोक सभा चुनाव में पहले दो चरण में 69.43 फीसदी और 69.17 फीसदी था।

तीसरे चरण के चुनाव में असम की चार सीटों पर 47 प्रत्याशी, बिहार में पांच सीटों पर 54 प्रत्याशियों, छत्तीसगढ़ में सात सीटों पर 168 प्रत्याशियों,दादर-नगर हवेली और दमन एवं दीव की दो सीटों पर 16 प्रत्याशी, गुजरात की 25 सीटों पर 266 ,कर्नाटक की 14 सीटों पर 227,महाराष्ट्र की 11 सीटों 258, उत्तर प्रदेश की 10 सीटों पर 100 और पश्चिम बंगाल की चार सीटों पर 57 उम्मीदवारों सहित कुल 1332 उम्मीदवार मैदान में थे।

गुजरात की सूरत सीट पर भाजपा के प्रत्याशी निर्विरोध निर्वाचित घोषित किये गये हैं।

तीसरे चरण में केन्द्रीय गृह अमित शाह का गांधीनगर (गुजरात) सीट पर कांग्रेस के सोनल रमन भाई पटेल से मुकाबला है। केन्द्रीय मंत्री परशोत्तम रूपाला राजकोट सीट पर कांग्रेस के धनानी पारेस के मुकाबले खड़े हैं। केन्द्रीय मंत्री मनसुख मंडाविया पोरबंदर सीट पर कांग्रेस के ललित वसोया के सामने हैं।

तीसरे चरण में चुनाव लड़ रहे प्रमुख उम्मीदवारों में केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया, मध्यप्रदेश में गुना सीट से , मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान विदिशा सीट से ,कांग्रेस नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह राजगढ़ सीट से, शिवसेना उद्धव बालठाकरे महाराष्ट्र के रायगढ़ सीट से, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (शरद पवार) की सुप्रिया सुले महाराष्ट्र की बारामती सीट से राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की सुनेत्रा अजितदादा पवार से टक्कर ले रही हैं।

उत्तर प्रदेश की मैनपुरी सीट से समाजवादी पार्टी की डिंपल यादव का मुकाबला भाजपा के जयवीर सिंह से है। पश्चिम बंगाल में मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के मोहम्मद सलीम मुर्शिदाबाद सीट से त्रिकोणीय मुकाबले में हैं।

इसी चरण में असम की धुबरी सीट पर आल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट के नेता मोहम्मद बदरुद्दीन अजमल का मुकाबला असम गण परिषद के जावेद इस्लाम से है।

इन सीटों पर कुल 17.24 करोड़ मतदाता पंजीकृत हैं।

आयोग ने चुनाव को सहभागिता के साथ स्वतंत्र, निष्पक्ष और शांतिपूर्ण तथा प्रलोभन मुक्त रखने के लिये केन्द्रीय पर्यवेक्षकों की एक बड़ी टीम तैनात कर रखी थी। मुख्य निर्वाचन आयुक्त राजीव कुमार अपने दोनों सहयोगी चुनाव आयुक्तों ज्ञानेश कुमार और सुखवीर

सिंह संधूु के साथ चुनाव आयोग के मुख्यालय से मतदान प्रक्रिया पर नजर रखे हुये थे।

तीसरे चरण में भारत की मतदान प्रक्रिया और प्रबंधन का मौके पर जायजा लेने के लिये आयोग के निमंत्रण पर 23 देशों के चुनाव निकायों पर 75 प्रतिनिधियों ने विभिन्न राज्यों में जाकर प्रबंधों का जायजा लिया।

छत्तीसगढ़, असम,पश्चिम बंगाल और गाेवा में कई मतदान केन्द्रों पर सुबह से मतदाताओं की लंबी कतारें देखी गयीं। कर्नाटक में एक मतदान केन्द्र पर करीब 70 साल के एक व्यक्ति को मतदाताओं की कतार में दिल का दौरा पड़ा और अस्पताल में उसकी मृत्यु हो गयी।

छत्तीसगढ़ में एक मतदान केन्द्र पर एक ही परिवार के पांच पीढ़ी के मतदाता वोट देने आये थे। पश्चिम बंगाल में मालदा जिले में एक माॅडल मतदान केन्द्र को मालदा आम की थीम पर सजाया गया था।

आयोग ने गर्मी को देखते हुये मतदान केन्द्रों पर छाया और पेयजल का प्रबंध किया था।

आयोग ने तीसरे चरण के मतदान के लिये 1.85 लाख मतदान केंद्र स्थापित कराये थे। स्वतंत्र एवं शांतिपूर्ण मतदान के लिये 18.5 लाख कर्मियों को तैनात किया गया था।

मंगलवार को जिन सीटों पर मतदान हुआ, उनमें असम में धुबरी, कोकराझार, बारपेटा, गौहाटी, बिहार में झंझारपुर, सुपौल, अररिया, मधेपुरा, खगड़िया, छत्तीसगढ़ में सरगुजा, रायगढ़, जांजगीर-चांपा, कोरबा, बिलासपुर, दुर्ग, रायपुर, दादरा और नगर हवेली और दमन और दीव, गोवा में उत्तरी गोवा, दक्षिणी गोवा, गुजरात में कच्छ, बनासकांठा, पाटन, महेसाणा, साबरकांठा, गांधीनगर, अहमदाबाद पूर्व, अहमदाबाद पश्चिम, सुरेंद्रनगर, राजकोट, पोरबंदर, जामनगर, जूनागढ़, अमरेली, भावनगर, आनंद, खेड़ा, पंचमहल, दाहोद, वडोदरा, छोटा उदयपुर, भरूच, बारडोली , नवसारी, वलसाड, कर्नाटक में चिक्कोडी, बेलगाम, बागलकोट, बीजापुर, गुलबर्गा, रायचूर, बीदर, कोप्पल, बेल्लारी, हावेरी, धारवाड़, उत्तर कन्नड़, दावणगेरे, शिमोगा, मध्य प्रदेश में मुरैना, भिंड, ग्वालियर, गुना, सागर, विदिशा, भोपाल, राजगढ़, बैतूल, महाराष्ट्र में बारामती, रायगढ़, धाराशिव, लातूर (एससी), सोलापुर (एससी), माधा, सांगली, रत्नागिरी-सिंधुदुर्ग, कोल्हापुर, हटकनंगले, उत्तर प्रदेश में संभल, हाथरस, आगरा (सुरक्षित), फ़तेहपुर सीकरी, फ़िरोज़ाबाद, मैनपुरी, एटा, बदायूँ, आंवला, बरेली पश्चिम बंगाल में मालदाहा उत्तर, मालदाहा दक्षिण, जंगीपुर, मुर्शिदाबाद हैं।

एक जून को सभी चरणों में चुनाव सम्पन्न हो जाने के बाद चार जून को चुनाव नतीजे आयेंगे।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,188FansLike
5,319FollowersFollow
51,314SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय