Monday, May 27, 2024

केदारनाथ दर्शन को पहुंच रहे तीर्थयात्री व्यवस्थाओं से खुश, धाम में लगातार चल रही साफ-सफाई

मुज़फ्फर नगर लोकसभा सीट से आप किसे सांसद चुनना चाहते हैं |

केदारनाथ। उत्तराखंड की धामी सरकार की विश्व प्रसिद्ध केदारनाथ सहित चारधाम यात्रा में आए तीर्थयात्रियों को सरल, सुगम और सुखद यात्रा को लेकर संकल्पित है। इसी के तहत आस्था पथ पर रेन सेल्टर बनाए गए हैं, जिससे तीर्थयात्री बारिश के दौरान भीगने से बच रहे हैं। केदारनाथ धाम की तीर्थयात्रा पर पहुंच रहे यात्री मीडिया से अपनी यात्रा के अनुभव साझा कर रहे हैं। अधिकांश यात्री जहां व्यवस्थाओं से खुश हैं वहीं कुछ यात्री व्यवस्थाओं में सुधार लाने की बात कर रहे हैं।

केदारनाथ धाम में आस्था पथ से जाने वाले दर्शन को जाने वाले यात्री रेल सेल्टर बनाए जाने की व्यवस्था से खुश दिखाई दे रहे हैं। इससे उन्हें बारिश में भीगना नहीं पड़ रहा है। यह यात्रियों के लिए बड़ी राहत है। हालांकि पैदल मार्ग में यात्रियों को बारिश से परेशानियां जरूर हो रही हैं। तीर्थ यात्रियों को केदारनाथ धाम में सभी मूल भूत सुविधाएं उपलब्ध हों, इसके लिए जिला प्रशासन सहित संबंधित विभाग निरंतर प्रयासरत हैं।

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

केदारनाथ धाम में स्वच्छ और साफ सुथरा वातावरण श्रद्धालुओं को उपलब्ध हो, इसके दृष्टिगत नगर पंचायत केदारनाथ एवं सुलभ इंटरनेशनल के पर्यावरण मित्रों की ओर से निरंतर साफ सफाई व्यवस्था की जा रही है।

केदारनाथ धाम के दर्शन करने आये मुंबई महाराष्ट्र के यात्री वैभव ओढेकर ने बताया कि वह अपने साथी के साथ पैदल चलकर केदारनाथ धाम पहुंचे हैं। केदारनाथ धाम के दर्शन सुगमता के साथ हुए हैं। वे साफ सफाई की व्यवस्था से खुश हैं।

दिल्ली से आए तीर्थ यात्री राजेश चौधरी ने भी अपना अनुभव साझा करते हुए बताया कि बाबा केदारनाथ धाम के दर्शन बहुत ही अच्छे से हुए हैं। सरकार बेहतर कार्य कर रही है। पैदल यात्रा मार्ग से धाम तक रहने और खाने की व्यवस्था है। दिल्ली से आईं तीर्थ यात्री अनीशा कपूर ने अपना अनुभव साझा करते हुए बताया कि कुछ देर लाइन में लगने के बाद दर्शन हो रहे हैं। कुछ यात्रियों ने यह भी कहा कि कुछ दिक्कतें पैदल मार्ग पर हो रही हैं। जब यात्री, घोड़े-खच्चर और डंडी-कंडी एक साथ चल रहे हैं तो थो मुश्किल हो रही है। पैदल मार्ग पर सफाई की पूरी व्यवस्था है। साथ ही जगह-जगह गर्म पानी और ठंडे पानी की भी व्यवस्था की गई है। यात्री कह रहे हैं कि पैदल मार्ग पर एक साथ घोड़े-खच्चर, डंडी-कंडी और पैदल यात्रियों के चलने से दिक्कतें हो रही हैं। घोड़े-खच्चरों के धक्के लगने से चोटिल होने का खतरा बना हुआ है।

वातावरण को दूषित करने वालों को किया जा रहा चालान-

अधिशासी अधिकारी नगर पंचायत केदारनाथ चंद्रशेखर चौधरी ने बताया कि धार्मिक स्थल में धूम्रपान कर वातावरण को दूषित करने वाले छह व्यक्तियों का चालान किया गया है। इसी के साथ दो दुकानदारों का गंदगी करने पर उनके चालान किए गए हैं। सभी संबंधित व्यक्तियों से एक हजार रुपये का अर्थ दंड वसूला गया और चेतावनी दी गई कि यदि भविष्य में दोबारा धार्मिक स्थल पर धूम्रपान करने व गंदगी करते पकड़े गए तो संबंधित के विरुद्ध नियमानुसार की जायेगी।

केदारनाथ यात्रमार्ग में संचालित हो रहे घोड़े, खच्चरों का पशुपालन विभाग और निगरानी टीम की ओर से निरंतर जांच की जा रही है। किसी भी तरह से कोई भी घोड़ा, खच्चर यात्रा मार्ग में बिना लाइसेंस के संचालित न हो और घोड़े, खच्चरों के फिटनेस की भी जांच की जा रही है।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,188FansLike
5,319FollowersFollow
51,314SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय