Wednesday, July 17, 2024

एक युग का अंत: विराट कोहली और रोहित शर्मा ने की टी20 क्रिकेट से संन्यास की घोषणा

नई दिल्ली। टी20 क्रिकेट में टीम इंडिया के दूसरी बार विश्वविजेता बनने की खुशी के साथ ही भारतीय क्रिकेट प्रेमियों के लिए आंखें नम कर देने वाली भी एक खबर है। टी20 विश्वकप 2024 के फाइनल मैच में प्लेयर ऑफ द मैच बनने के साथ ही विरोट कोहली ने टी20 क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी है। रोहित शर्मा ने विराट कोहली के साथ मिलकर बारबाडोस में दक्षिण अफ्रीका को रोमांचक फाइनल में हराकर विश्व कप जीतने के बाद टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया है। उन्होंने पुष्टि की है कि वह वनडे और टेस्ट खेलना जारी रखेंगे।

विराट कोहली ने टी20 वर्ल्ड कप 2024 के फाइनल में 76 रनों की पारी खेलने के लिए प्लेयर ऑफ द मैच का खिताब जीता। मैच के बाद कोहली ने कहा, “यह मेरा आखिरी टी20 वर्ल्ड कप था और हम यही हासिल करना चाहते थे। एक दिन आपको लगता है कि आप रन नहीं बना पा रहे, तो कई चीजें घटित होती हैं। ईश्वर महान है, और जिस दिन टीम के लिए महत्वपूर्ण दिन था उस दिन मैंने टीम के लिए काम को पूरा किया।”

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

कोहली ने आगे कहा कि “अभी नहीं तो कभी नहीं, भारत के लिए यह मेरा आखिरी टी20 मैच था। मैंने इसका भरपूर फायदा उठाना चाहा और सफल भी रहा। कप उठाना चाहता था, स्थिति को मजबूर करने के बजाय उसका सम्मान करना चाहता था। यह एक खुला रहस्य था, अब अगली पीढ़ी के कार्यभार संभालने का समय आ गया है, कुछ अद्भुत खिलाड़ी टीम को आगे ले जाएंगे और ध्वज को ऊंचा लहराएंगे।”

रोहित ने फाइनल के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, “यह मेरा आखिरी टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच भी था। इस प्रारूप को अलविदा कहने का इससे बेहतर समय नहीं हो सकता। मैंने इसके हर पल का लुत्फ़ उठाया है। मैंने अपना भारतीय करियर इसी प्रारूप में खेलते हुए शुरू किया था। मैं यही चाहता था, मैं कप जीतना चाहता था। मैं यह बहुत चाहता था। शब्दों में बयां करना बहुत मुश्किल है। यह मेरे लिए बहुत भावुक पल था। मैं अपने जीवन में इस खिताब के लिए बहुत बेताब था। खुश हूं कि हमने आखिरकार यह मुकाम हासिल कर लिया।”

रोहित ने इस प्रारूप से सबसे ज़्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी के रूप में संन्यास लिया है। उन्होंने 159 मैचों में 4231 रन रन बनाए हैं, साथ ही टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में सबसे ज़्यादा शतक (पांच) का रिकॉर्ड भी उनके नाम है। उन्होंने दो टी20 विश्व कप खिताब जीते हैं: 2007 में खिलाड़ी के तौर पर पहला खिताब और अब 2024 में कप्तान के तौर पर।

रोहित और कोहली का टी20 प्रारूप से संन्यास लेना पूरी तरह से अप्रत्याशित नहीं था। दोनों खिलाड़ियों ने 2022 टी20 विश्व कप सेमीफाइनल में भारत की हार के बाद कोई टी20 मैच नहीं खेला था और इस साल जनवरी में ही 2024 टी20 विश्व कप पर ध्यान केंद्रित करते हुए इस प्रारूप में खेलना शुरू किया।

रोहित ने टूर्नामेंट में दूसरे सबसे ज़्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी के रूप में अपना प्रदर्शन जारी रखा उन्होंने, टूर्नामेंट में 156.70 की स्ट्राइक रेट से 257 रन बनाए वो भी अमेरिका और वेस्टइंडीज़ में मुश्किल बल्लेबाज़ी परिस्थितियों में। उन्होंने अपने आक्रामक दृष्टिकोण से भारत को तेज़ शुरुआत देने की ज़िम्मेदारी ली और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपने आखिरी सुपर आठ गेम और इंग्लैंड के खिलाफ सेमीफाइनल में महत्वपूर्ण मैच जीतने वाले अर्धशतक बनाए।

बता दें कि वेस्टइंडीज के बारबाडोस में आज खेले गए 2024 आईसीसी पुरुष टी20 विश्व कप के फाइनल में भारत ने दक्षिण अफ्रीका को 7 रन से हराकर विश्वकप का खिताब अपने नाम किया है। जहां मैन ऑफ द मैच कोहली को चुना गया, वहीं मैन ऑफ द सीरीज का खिताब तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह के नाम रहा। भारतीय टीम पहली ऐसी टीम भी बनी है, जो विश्वकप के एक संस्करण में एक भी मैच नहीं हारी। टी20 विश्वकप 2024 के पूरे टूर्नामेंट में टीम इंडिया अपराजेय रही।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,098FansLike
5,348FollowersFollow
70,109SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय