Tuesday, April 16, 2024

इटावा में दरोगा ने साथी की सर्विस रिवॉल्वर से गोली मारकर की आत्महत्या,आलाधिकारी जांच में जुटे

इटावा। उत्तर प्रदेश इटावा जिले के थाना सिविल लाइन इलाके के वृंदावन कालोनी की घटना है जहा दारोगा सतेंद्र वर्मा ने गोली मारकर आत्महत्या की। सत्येंद्र वर्मा ने अपने साथी दरोगा की पिस्टल से अपने कनपटी पर गोली मारी है। मौके पर साथी दरोगा लेकर अस्पताल गया जहां पर डॉक्टरों ने मृत्यु घोषित कर दिया। दरोगा की आत्महत्या की सूचना पर डीएम एसएसपी समेत आला अधिकारी अस्पताल पहुंचे। कानपुर से फोरेंसिक टीम भी जांच पड़ताल करने के लिए बुलाई गई। मौके पर भारी पुलिस फोर्स मौजूद है।

 

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

आपको बता दें कि वह आवास वृंदावन कॉलोनी में किराए का कमरा लेकर पत्नी सविता वर्मा,बेटी आस्था और बेटे अनुराग के साथ रहते थे।उसी कॉलोनी में उनके साथ का दरोगा रहता था। रविवार को शाम 7 बजे उनका साथी उनके कमरे पर आया। इसी दौरान सत्येंद्र वर्मा ने साथी की सर्विस रिवॉल्वर से कनपटी में गोली मार ली और गोली सिर के पार हो गई।जिससे वह खून से लतपथ होकर गिर पड़े। इसके बाद साथी दरोगा उनकी पत्नी सविता वर्मा के साथ आनन फानन में सत्येंद्र वर्मा को मुख्यालय के डॉक्टर भीमराव अंबेडकर राजकीय संयुक्त चिकित्सालय लेकर पहुंचे। जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।सत्येंद्र वर्मा 2018 बैच के दरोगा थे। वह अपने पिता की मौत के बाद पुलिस सेवा में आए थे।दरोगा सत्येंद्र वर्मा की आत्महत्या के बाद पत्नी और बच्चों का रो रो कर बुरा हाल है। सूचना मिलने पर जिलाधिकारी अवनीश राय,वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संजय कुमार,पुलिस उपाधीक्षक अमित कुमार सिंह, एसपी सिटी अभय नाथ त्रिपाठी समेत कई पुलिस अधिकारी घटनास्थल पहुंचे तथा घटना की जांच पड़ताल की।

 

दरोगा की पत्नी सविता ने बताया कि हमने खाना बनाया तो हमसे बोले कि मैं ड्यूटी जा रहा हूं। मैने बोला तबियत सही नही लग रही तो छुट्टी ले लो। उन्होंने कहा कि छुट्टी नहीं मिलेगी। हमने बोला कि हम खुद छुट्टी मांगने जायेंगे और हम आपको घर लेकर चलेंगे। इसके बाद उन्होंने खाना खाया। अंकित इनके दोस्त नीचे रहते हैं। उनको हमने बुलाया कि बात करनी है तब अंकित ऊपर उनके कमरे में आया था। दरोगा की पत्नी सविता का आरोप है कि उनके पति पुलिस अधिकारी से लगातार छुट्टी की मांग कर रहे थे,लेकिन कप्तान की ओर से उन्हें छुट्टी नहीं दी जा रही थी। इसके चलते उन्होंने आत्महत्या कर ली।

 

एसएसपी संजय कुमार वर्मा ने बताया कि सब इंस्पेक्टर की सर्विस रिवॉल्वर से गोली मारकर सत्येंद्र वर्मा ने आत्महत्या कर ली है। बताया कि सब इंस्पेक्टर सत्येंद्र वर्मा 37 वर्ष हरदोई का रहने वाला था। कुछ दिन से वह डिप्रेशन में था। आत्महत्या करने वाले कमरे को सीज कर दिया गया है। जांच कराई जा रही है। हरदोई के रहने वाले सत्येंद्र वर्मा 37 वर्ष इटावा के सिविल लाइन थाने में दरोगा के पद पर तैनात थे। मामले की जांच करवाई जा रही है। जो भी तथ्य निकलकर आएंगे,उनके आधार पर जांचकर कार्यवाही की जाएगी। इनकी पत्नी भी इनके साथ रहती थी। सब इंस्पेक्टर बाथरूम गए थे तभी सत्येंद्र वर्मा द्वारा उसकी सर्विस रिवॉल्वर से गोली मारने की बात सामने आ रही है। घटना दुखद और संवेदनशील है। पूरा विभाग घटना से आहत है।

 

हालांकि आत्महत्या करने की सही वजह स्पष्ट नहीं हो पा रही है। लेकिन ऐसा माना जा रहा है कि दरोगा सत्येंद्र वर्मा का अपनी पत्नी से किसी बात को लेकर विवाद चल रहा था। जिससे परेशान होकर उन्होंने आत्महत्या कर ली। घटना की सूचना मिलने पर फोरेंसिक टीम जांच के लिए घटनास्थल पहुंच गई। पुलिस के आलाधिकारी घटना की जानकारी जुटा रहे हैं।

Related Articles

मुज़फ्फर नगर लोकसभा सीट से आप किसे सांसद चुनना चाहते हैं |

STAY CONNECTED

74,237FansLike
5,309FollowersFollow
46,191SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय