Saturday, February 24, 2024

महाकुम्भ का महाआयोजन में योगी सरकार खर्च करेगी ढाई हजार करोड़

लखनऊ- उत्तर प्रदेश के समेकित विकास का खाका खींच रही योगी सरकार ने वार्षिक वित्तीय बजट 2024-25 में महाकुम्भ के भव्यतम आयोजन की भी नींव रख दी है।

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 


उत्तर प्रदेश विधानसभा में सोमवार को पेश हुए बजट में वर्ष 2025 में प्रयागराज में होने वाले महाकुम्भ के भव्य आयोजन को ध्यान में रखकर 2500 करोड़ रुपए की धनराशि प्राविधानित की है। इसके साथ ही, प्रयागराज में कुंभ संग्रहालय की स्थापना के साथ ही नागरिक सुविधाओं में वृद्धि की तमाम परियोजनाओं के गति देने पर योगी सरकार का फोकस रहा।

इसमें, राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय की स्थापना के लिए 100 करोड़ रुपए की धनराशि की स्वीकृति समेत अवस्थापना विकास की तमाम परियोजनाओं के लिए भी बजट आवंटन शामिल है। इसके अतिरिक्त, प्रयागराज में पर्यटक सुविधाओं को बढ़ावा देने के लिए भी तमाम परियोजनाओं को गति देने का मार्ग बजट आवंटन से संभव हो गया है।


विधानसभा में योगी सरकार द्वारा पेश किए गए वार्षिक बजट 2024-25 में उल्लेखित आंकड़ों के अनुसार, राज्य में वर्ष-2023 में जनवरी से अक्टूबर तक 37 करोड़ 90 लाख से अधिक पर्यटक आए थे। इनमें भारतीय पर्यटकों की संख्या लगभग 37 करोड़ 77 लाख व विदेशी पर्यटकों की संख्या लगभग 13 लाख 43 हजार रही। इसमें वाराणसी-अयोध्या के साथ ही प्रयागराज में भी पर्यटकों की संख्या में भारी इजाफा हुआ।

वहीं, महाकुम्भ 2025 के दृष्टिगत करोड़ों पर्यटकों के जुटने की संभावना है। यही कारण है कि महाकुम्भ की तैयारियों को अंतिम रूप देने के लिए परियोजनाओं को गति देने के साथ ही संपूर्ण प्रयागराज मंडल में तीर्थ व पर्यटन क्षेत्रों के समेकित विकास की प्रक्रिया को 2024-25 में लक्षित करने पर फोकस किया गया है। इसके फलस्वरूप, महाकुम्भ के लिए विशाल टेंट सिटी, कुम्भ म्यूजियम समेत तमाम परियोजनाओं को पूर्ण करने की प्रक्रिया को अब योगी सरकार प्रमुख प्राथमिकता पर रखते हुए पूरा करेगी।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,381FansLike
5,290FollowersFollow
41,443SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय