Thursday, June 13, 2024

ओबीसी फ्रंट के चीफ दामोदर यादव की सरकार और चुनाव आयोग को चेतावनी, एग्जिट पोल जैसे परिणाम आए तो करेंगे प्रदर्शन

भोपाल। लोकसभा चुनाव के नतीजे 4 जून को आने वाले हैं। चुनाव परिणाम से पहले आए एग्जिट पाेल में तीसरी बार मोदी सरकार बनती दिख रही है। मप्र में भी भाजपा को 29 में से 28 सीटें मिलने का अनुमान है। वहीं एग्जिट पोल को लेकर सवालिया निशान भी खड़े होने लगे हैं। ओबीसी फ्रंट के चीफ दामोदर सिंह यादव ने एग्जिट पोल पर ऐतराज जताया है। उन्होंने कहा है कि अगर एग्जिट पोल जैसा चुनाव परिणाम आया, तो प्रदेशव्यापी आंदोलन और ज़िला मुख्यालयों पर चुनाव आयोग के पुतले दहन करेंगे। आन्दोलन की शुरुआत 5 जून को भोपाल और दतिया से की जायेगी।

भोपाल में सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दामोदर सिंह यादव ने कहा कि अगर एग्जिट पोल जैसा चुनाव परिणाम आया तो प्रदेशव्यापी आंदोलन करेंगे। उन्होंने कहा कि 10 सालों में आम चुनाव के परिणामों से ठीक 2-3 दिन पहले सभी सर्वे एजेंसियां बड़े मीडिया हाउस के साथ मिलकर जान-बूझकर एग्जिट पोल के ऐसे आंकड़े प्रस्तुत करती हैं। जिससे सत्ताधारी भाजपा के लिये आम मतदाता भी मानसिक रूप से तैयार हो सके और फिर चुनाव आयोग का असली खेल शुरू होता है। आयोग भाजपा की एक शाखा की तरह काम करता है और जनता में कितनी भी भाजपा विरोधी लहर हो लेकिन सरकार उसी की बनाता है और कांग्रेस सहित सभी विपक्षी दल भी हाथ पर हाथ रखकर बैठे रहते हैं। लेकिन हर बार की तरह इस बार भी जनादेश को लूटने की कोशिश हुई या फिर नकली जनादेश प्रस्तुत किया गया तो हम पूरे प्रदेश में आंदोलन कर चुनाव आयोग के सभी जिला मुख्यालयों पर पुतला दहन एवं धरना प्रदर्शन करेंगे और किसी भी सूरत में नकली जनादेश को स्वीकार नहीं किया जाएगा।

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

दामोदर यादव ने कहा कि इस बार का चुनाव मोदी बनाम जनता के बीच था। जिसका लाभ निठल्ली कांग्रेस को मिलने जा रहा है और वह बैठे बिठाए प्रदेश की 10 सीटों पर टक्कर करके 6-7 सीट जीतने जा रही है। अगर चुनाव आयोग मोदी सरकार से सांठगांठ करके असली जनादेश को बदलकर नकली जनादेश प्रस्तुत करती है, तो हम दतिया भोपाल के पश्चात उन सीटों पर पहले आंदोलन चलायेंगे जिन पर भाजपा की हार और संयोग से कांग्रेस की जीत स्पष्ट दिखाई दे रही है। जिनमें मुरैना, भिंड, ग्वालियर, राजगढ़, मण्डला, छिन्दवाड़ा, रतलाम, सतना, सीधी और खरगोन मुख्य रूप से शामिल है।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,188FansLike
5,329FollowersFollow
58,054SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय