Wednesday, July 24, 2024

राहुल गांधी एवं असदुद्दीन ओवैसी की संसद सदस्यता हो समाप्त – अंचल अडजरिया

झांसी। राष्ट्रभक्त संगठन एवं बुंदेलखंड समृद्धि परिषद के केंद्रीय अध्यक्ष अंचल अडजरिया के नेतृत्व में मंगलवार को राहुल गांधी एवं असदुद्दीन ओवैसी की संसद सदस्यता समाप्त करने के लिए राष्ट्रपति एवं लोकसभा अध्यक्ष को संबोधित जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपा।

उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने हिन्दूओं को आदतन हिंसा करने वाला,असत्य बोलने वाला, नफरत फैलाने वाला कहा है जो कि सम्पूर्ण विश्व के 140 करोड़ हिन्दुओं का अपमान है, उनका यह कृत्य हिन्दुओं की भावनाओं को ठेस पहुंचाने वाला है।

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

उल्लेखनीय है कि 01 जुलाई को संसद में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर चर्चा में बोलते हुये राहुल गांधी ने हिन्दुओं को आदतन हिंसा करने वाला, असत्य बोलने वाला, नफरत फैलाने वाला कहा है जो कि सम्पूर्ण विश्व के 140 करोड़ हिन्दुओं का अपमान है, उनका यह कृत्य हिन्दुओं की भावनाओं को ठेस पहुंचाने वाला है।

ऐसे कृत्य के लिए जनप्रतिनिधित्व अधिनियम 1951 की धारा 123 के तहत भ्रष्ट आचरण के अन्तर्गत आता है, जिसमें झूठी जानकारी,धर्म,नस्ल,जाति,समुदाय या भाषा के आधार पर भारतीय नागरिकों के विभिन्न वर्गों के बीच घृणा, दुश्मनी की भावनाओं को बढ़ावा देना अथवा ऐसा प्रयास करना शामिल है। राहुल गांधी ने ठीक यही कृत्य किया है और अपने प्रभाव का अनुचित इस्तेमाल किया है, जिससे सम्पूर्ण हिन्दू समाज को ठेस पहुंचाने, हानि पहुंचाने, सामाजिक स्थिरता पैदा करने आदि का कार्य राहुल गांधी की इस भाषा ने किया है। इस सामाजिक अपराधिक कृत्य को देखते हुये इनकी संसद सदस्यता समाप्त की जाये।

इसी तरह से असबुद्दीन औबेसी ने संसद के अन्दर जय फिलीस्तिन का नारा लगाया गया है जो भारतीय संसदीय परम्पराओं व मर्यादा के विपरीत है। इन्ही औबेसी को भारत माता की जय बोलने में शर्म आती है। पूर्व में सर्वोच्च न्यायालय ने भी आरपीए 1951 की धारा 123 की उपधारा 3 का हवाला देते हुये निर्णय सुनाया है कि धर्म निरपेक्ष गतिविधियों में धर्म का अतिक्रमण कठोरता से प्रतिबंधित है। ऐसी स्थिति में इन दोनों के ही खिलाफ कार्यवाही करते हुये इन दोनों की संसद सदस्यता समाप्त की जाये व इनके खिलाफ हिन्दू समाज की भावनाओं को आहत करने, धार्मिक उन्माद फैलाने का प्रयास करने आदि धाराओं में मुकदमा पंजीकृत करने का आदेश पारित करें।

इस अवसर पर प्रमुख रूप से सर्वेश पटेल, रामेश्वर गिरी, अर्पित शर्मा, दीपक वर्मा, मनमोहन गोलू, मोनू प्रताप, आकाश कुशवाहा, चंदन रैकवार, दीपक कुशवाहा, निशु आयरन, नरेंद्र कुशवाहा, जितेंद्र कोस्टा, साहू हर्ष, शुभ पुरोहित, अर्जुन, भूपेंद्र, हनी, आकाश, सोनू आदि बड़ी संख्या में कार्यकर्ता आदि विशेष रूप से उपस्थित रहे।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,098FansLike
5,348FollowersFollow
70,109SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय