Wednesday, April 10, 2024

मुख्तार अंसारी के शव को गाजीपुर ले जाने की तैयारी, जिले में भारी फोर्स तैनात

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की बांदा जेल में बंद माफिया मुख्तार अंसारी की गुरुवार देर रात मौत हो गई। अंसारी के शव को एंबुलेंस के जरिए बांदा से गाजीपुर ले जाया जाएगा। यहां काली बाग कब्रिस्तान में सुपुर्द-ए-खाक किया जाएगा। यहां तैयारियां शुरू हो गई हैं। जिले में भारी सुरक्षा व्यवस्था भी की गई है।

शुक्रवार को डॉक्टरों की टीम मुख्तार के शव का पोस्टमार्टम कर रही है। उसका शव परिजन को सौंपा जाएगा। इसके बाद सड़क के रास्ते मुख्तार को उनके पुश्तैनी घर गाजीपुर लाया जाएगा। यहां काली बाग कब्रिस्तान में उसे सुपुर्द-ए-खाक किया जाएगा।

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

मुख्तार अंसारी के बेटे उमर अंसारी बांदा मेडिकल कॉलेज अस्‍पताल पहुंचे। पोस्टमार्टम के बाद मुख्तार अंसारी का शव उन्हें सौंप दिया जाएगा।

मुख्तार की मौत को लेकर स्‍वामी प्रसाद मौर्य ने एक्‍स पर ल‍िखा, “यह स्वाभाविक मौत नहीं, हत्या की साज‍िश प्रतीत होती है, पहले डॉक्टरों के पैनल ने अस्पताल से डिस्चार्ज किया और कुछ घंटों बाद ही उनकी मौत पारिवारजनों द्वारा लगाए गए हत्या की साजिश की पुष्टि करती है। अत: पूरे घटनाक्रम की जांच उच्च न्यायालय की देखरेख में होनी चाहिए। यहां तक कि पोस्टमार्टम भी उच्च न्यायालय के किसी जज के अभिरक्षण में ही किया जाना चाहिए, जिससे न्याय का गला घोटने वालों का चेहरा बेनकाब हो सके तथा थानो, जेलों, पुलिस अभिरक्षण में साजिशन किए जा रहे इस प्रकार के हत्याओं के फैशन पर विराम लग सके।”

मऊ के एसपी ने कहा कि मुख्तार अंसारी की मौत की सूचना के बाद से मऊ पुलिस ने तुरंत संवेदनशील इलाकों में जवानों को तैनात कर दिया। आज, शुक्रवार की नमाज भी पढ़ी जाएगी। हम हाई अलर्ट पर हैं। मऊ में सीआरपीसी की धारा 144 पहले ही लागू कर दी गई है। मैं सभी से शांति बनाए रखने की अपील करता हूं और अफवाहों पर विश्वास न करें। अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

दिवंगत पूर्व भाजपा विधायक कृष्णानंद राय की पत्नी अलका राय ने मुख्तार की मौत पर कहा कि “मैं क्या कह सकती हूं, यह भगवान का आशीर्वाद है। मैं न्याय के लिए उनसे प्रार्थना करती थी और आज न्याय मिल गया है। हमें घटना (हत्या) के बाद कभी होली नहीं मनाई, मुझे लगा कि आज हमारे लिए होली है।

मुख्तार अंसारी के शव को लेकर आने वाले एंबुलेंस ड्राइवर मनोज ने कहा है कि प्रशासन मुझे जो रूट बताएगा, उसी रास्ते से शव को ले जाया जाएगा। प्रशासन ही बता पाएगा कि शव कहां ले जाना है। एंबुलेंस में परिवार के चार लोग बैठ सकते हैं। हमारी गाड़ी तो प्रशासन की गाड़ी के बीच में रहेगी

उधर, पूरे राज्य में सुरक्षा बढ़ा दी गई है। मऊ और गाजीपुर में धारा 144 लागू कर दी गई है। बांदा में भी सुरक्षा के विशेष इंतजाम किए गए हैं। मौके पर बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं। डीजीपी मुख्यालय ने भी सतर्कता बरतने के निर्देश दिए हैं।

ज्ञात हो कि करीब ढाई साल से बांदा जेल में बंद पूरब के माफिया मुख्तार अंसारी की गुरुवार देर रात हार्ट अटैक (कार्डिया अरेस्ट) से मौत हो गई। मुख्तार को मौत से करीब तीन घंटे पहले ही इलाज के लिए मंडलीय कारागार से मेडिकल कॉलेज लाया गया था। जहां डॉक्टरों की टीम उसके इलाज में जुटी थी। रात करीब साढ़े दस प्रशासन ने मुख्तार की मौत की सूचना सार्वजनिक की। तब तक मुख्तार के परिवार का कोई सदस्य मेडिकल कॉलेज नहीं पहुंचा था।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,237FansLike
5,309FollowersFollow
45,451SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय