Sunday, May 26, 2024

मेरे पिता को विरासत में धन-दौलत नहीं शहादत की भावना मिली : प्रियंका गांधी

मुज़फ्फर नगर लोकसभा सीट से आप किसे सांसद चुनना चाहते हैं |

मुरैना। कांग्रेस राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी पर विरासत के लिए कानून बदलने के लगे आरोपों का पहली बार खुलकर जवाब दिया। उन्होंने कहा कि उनके पिता को विरासत में धन और दौलत नहीं शहादत की भावना मिली थी।

मध्य प्रदेश के मुरैना संसदीय क्षेत्र से कांग्रेस उम्मीदवार सत्यपाल सिंह सिकरवार के समर्थन में आयोजित जनसभा में प्रियंका गांधी ने कहा, “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मेरे पिता को देशद्रोही बोलते हैं। वे कहते हैं मेरे पिता ने अपनी मां से विरासत लेने के लिए कानून बदल दिया। प्रधानमंत्री मोदी इस बात को समझ नहीं पाए कि मेरे पिता को विरासत में धन दौलत नहीं, बल्कि शहादत की भावना मिली।”

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

प्रिंयका गांधी ने अपने पिता की शहादत का जिक्र करते हुए कहा, “जब मैं 19 साल की थी, मेरे पिता के शरीर के टुकड़े तिरंगे में लपेटकर लाई गई थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शहीद इंदिरा गांधी के बारे में उल्टी-सीधी बात करते हैं। चाहे हमें देशद्रोही कहें, घर से निकाल दें, मेरे भाई को संसद से निकाल दिया, घर छीन लिया, वे हम पर केस डालें, मेरे भाई कचहरी जाते हैं, वहीं मार डालें, मगर शहादत की भावना हमारे दिल से कोई नहीं निकाल सकता।”

प्रियंका गांधी ने ग्वालियर-चंबल से सेना में जाने वाले जवानों का जिक्र करते हुऐ कहा कि जितनी बड़ी जिम्मेदारी आप अपने बेटों को सरहद पर भेजकर निभाते हो, उतनी ही बड़ी जिम्मेदारी आप वोट डालकर निभाते हो। आपको दो चीजें समझनी पड़ेगी। पहला यह कि पिछले दस साल से जो नरेंद्र मोदी की सरकार चल रही है, वह किस तरह की सरकार है। उसने आपके लिए क्या-क्या किया और क्या नहीं किया? प्रधानमंत्री का ध्यान आपकी तरफ है या कहीं और रहता है। दूसरी बात, आपको समझना होगी कि आपकी क्या परिस्थितियां हैं?

आजादी की लड़ाई में महात्मा गांधी के अंहिसक आंदोलन की चर्चा करते हुए प्रियंका गांधी ने कहा कि महात्मा गांधी ने अंग्रेजों के खिलाफ जो आंदोलन किया था, वो हिंदू धर्म पर आधारित था। कांग्रेस की जो नीति है, वह हिंदू धर्म पर आधारित है।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,188FansLike
5,319FollowersFollow
51,314SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय