Saturday, June 15, 2024

इंडी गठबंधन का एजेंडा मोदी को हराना, हटाना और मिटाना : आचार्य प्रमोद कृष्णम

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता शशि थरूर ने बड़ी प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए कहा कि भाजपा ने राम मंदिर बनाया, जिसे लेकर हम शिकायत नहीं करेंगे। लेकिन, यह विकास का उदहारण नहीं हो सकता। शशि थरूर के इस बयान के बाद सियासत गरमा गई है। कांग्रेस के पूर्व नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम ने पलटवार करते हुए कहा कि राम मंदिर निर्माण से किसी पार्टिकुलर एक स्टेट, एक समुदाय का विकास नहीं होता है, पूरे देश का विकास होता है। इससे हर क्षेत्र और हर समुदाय का विकास होता है, इसके साथ पूरे मानवता का विकास होता है।

 

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

 

यह कहना कि मंदिर से विकास नहीं होता, सरासर गलत बात है। विकास और मंदिर एक-दूसरे से जुड़े हुए हैं। जहां तक सवाल राम मंदिर का है, अयोध्या का है, राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा के बाद पूरी दुनिया के नक्शे पर अयोध्या विकास के रास्ते पर पहले-दूसरे स्थान पर आ चुका है। भगवान से प्रार्थना करता हूं, कांग्रेस के सभी नेताओं को सद्बुद्धि दें। पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी की ओर से जालंधर को मेडिकल हब बनाने और वाघा बॉर्डर को खोल देने के सवाल पर आचार्य प्रमोद कृष्णम ने निशाना साधते हुए कहा कि चरणजीत सिंह चन्नी का शरीर हिंदुस्तान और आत्मा पाकिस्तान में है। आचार्य प्रमोद कृष्णम ने कहा कि भारत में सेक्युलरिज्म की बात करना ही बेमानी है।

 

 

भारत का मतलब ही सेक्युलर है। सनातन का मतलब ही सेक्युलर है। जहां तक सवाल इंडी गठबंधन के नेताओं का है, वह सनातन विरोधी हैं। उन्होंने कहा कि उनकी नजर में सनातन का नाम लेना, हिंदुत्व की बात करना, राम का नाम लेना, मंदिर की बात करना, कम्युनल बात है। वे लोग सनातन को मिटाना और बर्बाद करना चाहते हैं। इनका जो सेक्युलरिज्म है, वह सो कॉल्ड सेक्युलरिज्म है। ये लोग सेक्युलरिज्म के नाम पर धोखा दे रहे हैं और चाहते हैं कि भारत कम्युनल हो जाए। इनकी सोच भारत को कास्ट के आधार पर, कम्युनिटी के आधार पर, धर्म के आधार पर बांटना है।

 

 

दिल्ली में आम आदमी पार्टी (आप) और कांग्रेस के गठबंधन को लेकर उन्होंने कहा कि सीएम अरविंद केजरीवाल खुद कहते हैं कि कांग्रेस चोर और भ्रष्ट है। कांग्रेस खुद कहती हैं कि अरविंद केजरीवाल चोर और भ्रष्ट्र हैं। इन्होंने घोटाला किया है। दोनों पार्टियां एक-दूसरे को गाली देती हैं। लेकिन, मोदी को हटाने के लिए सब लोग एक हुए हैं। इनका सिर्फ एक ही मकसद और एजेंडा है कि मोदी को हटाना है। ये लोग मोदी को हटाना, हराना, मिटाना चाहते हैं। इनका बस चले तो ये मोदी को मिटा दें। लेकिन, देश की जनता मोदी को बनाना चाहती है। यह गठबंधन के नाम पर ठगबंधन है।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,188FansLike
5,329FollowersFollow
60,365SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय