Saturday, April 13, 2024

देवभूमि के पहाड़ों तक ट्रेन चलने का सपना हो रहा सच: धामी

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की विकास रेल पटरी पर सरपट दौड़ रही है। प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में देवभूमि में पहाड़ तक ट्रेन पहुंचने का सपना सच होने जा रहा है। कर्णप्रयाग से ऋषिकेश तक रेल लाइन का काम तेजी से चल रहा है। जल्द ही इस पटरी पर ट्रेन रफ्तार भरेगी।

मुख्यमंत्री धामी मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के देहरादून-लखनऊ-देहरादून वंदे भारत ट्रेन का शुभारम्भ एवं एक स्टेशन-एक उत्पाद स्टॉल का वर्चुअल हुए लोकार्पण कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। रेलवे स्टेशन देहरादून पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री धामी के अलावा राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (सेनि) ने प्रतिभाग किया। इस दौरान प्रधानमंत्री ने 85 हजार करोड़ रुपये की योजनाओं का लोकार्पण या शिलान्यास किया। उत्तराखंड से भी कई ट्रेन प्रारंभ हुई हैं।

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

इस मौके पर मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि देहरादून-लखनऊ-देहरादून वंदे भारत ट्रेन से उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश की कनेक्टिविटी बढ़ेगी। हाईस्पीड स्वदेशी ट्रेन वंदे भारत उभरते भारत की बुलंद तस्वीर प्रदर्शित करती है। यह ट्रेन देवभूमि के दुर्गम पहाड़ों पर दौड़कर एक नया कीर्तिमान स्थापित करेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देवभूमि में दो लाख करोड़ की योजनाएं धरातल पर उतरी हैं। रेलवे के क्षेत्र में भी 5120 करोड़ रुपये का आवंटित किया गया है। योजना के तहत छह स्टेशनों का पुनर्विकास किया जा रहा है। प्रधानमंत्री देश के साथ देवभूमि के प्रति पूरी तरह समर्पित हैं। जनसुविधा को लेकर भी प्रतिबद्ध हैं।

ओएसओपी से कारीगरों के हुनर को मिलेगी पहचान

एक स्टेशन-एक उत्पाद (ओएसओपी) योजना के तहत प्रत्येक रेलवे स्टेशन पर स्टाल लगाए जा रहे हैं। इससे हस्तशिल्प कारीगरों, कुम्हारों, बुनकरों व शिल्पकारों के हुनर को पहचान मिलेगी ही, आजीविका के साधन भी उपलब्ध होंगे। प्रत्येक दुकान से चार से पांच हजार लोगों को रोजगार मिलेंगे।

रेलवे स्टेशनों पर जन औषधि केंद्र से यात्रियों को सस्ती दरों पर मिलेंगी दवाइयां

मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखंड के दो रेलवे स्टेशनों पर जनऔषधि केंद्र से यात्रियों को सस्ती दरों पर दवाइयां मिल सकेंगी। डबल इंजन की सरकार विकास के साथ अंतिम छोर पर खड़े व्यक्ति को मुख्यधारा से जोड़ने के लिए योजनाओं को धरातल पर उतारने के लिए काम कर रही हैं। वहीं, उत्तराखंड सरकार विकल्प रहित संकल्प पर काम कर रही है।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,237FansLike
5,309FollowersFollow
45,451SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय