Wednesday, April 10, 2024

शामली में पूर्व में किए गए निर्माण कार्यों को वर्तमान ई-टेंडर में शामिल करने का आरोप

शामली। नगर पालिका परिषद कैराना ने विगत वर्षों में पूर्ण हुए हुए निर्माण कार्यों को “मुख्यमंत्री नगर सृजन योजना” पुन: शामिल कर, टेंडर जारी करने का मामला प्रकाश में आया है। लोगों का कहना है कि जो कार्य 6 माह पूर्व पूरे हो गए थे, उन्हें इस योजना के माध्यम से टेंडर में शामिल करने का मकसद नगर पालिका अध्यक्ष और कुछ अधिकारियों की मिली भगत से सरकार को लाखों रुपए का चूना लगाने का प्रयास है।

कैराना नगर पालिका द्वारा नगर में कराई जा रहे है। विभिन्न विकास कार्यों को लेकर जारी किए गए टेंडर को लेकर एक नया विवाद खड़ा हो गया है। नगर वासियों ने पालिका द्वारा जारी किये गये ई-टेंडर में बड़ा भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए पालिका अध्यक्ष व अधिकारियों के विरुद्ध जिला अधिकारी को एक शिकायती पत्र देकर मामले की जांच कर कर दोषी व्यक्ति के विरुद्ध कार्रवाई करने की गुहार लगाई है। शिकायतकर्ता का कहना है कि “मुख्यमंत्री नगर सृजन योजना” के अंतर्गत सरकार द्वारा विकास कार्यों के लिए काफी पैसा भेजा गया है। उक्त पैसे को गलत तरीके से खर्च होना दर्शाकर उसकी पालिका अध्यक्ष व अधिकारी कर्मचारी आपस मे पैसो की बंदर बांट करने का प्रयास कर रहे हैं। शिकायती पत्र में आरोप लगा है कि पालिका अध्यक्ष द्वारा छोड़े गए ई-टेंडर में कुछ ऐसे निर्माण कार्यों को शामिल कर लिया गया है।जो 6 माह पहले पूर्ण कर लिए गए थे। दोबारा से टेंडर में इन्हें शामिल करने के पीछे पालिका अध्यक्ष व अधिकारियों की नियत पर शक हो रहा है।

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

जो निर्माण कार्य 6 माह पूर्व करा लिए गए थे, वे अब ई-टेंडर में शामिल किए गए हैं। उनका भी शिकायती पत्र में उल्लेख किया गया है। जिनमें नगर क्षेत्र कैराना के नई तहसील परिसर 7.5 एचपी नलकूप के अधिष्ठापन का कार्य, मोहल्ला छड़ियान वार्ड दो जहांनपुर रोड पर 7.5 एचपी नलकूप के अधिष्ठापन का कार्य, पालिका के अफगान वार्ड 24 व 25 में विभिन्न गलियों में 90 एमएम की 800 मीटर पाइप लाइन डाले जाने का कार्य, नगरपालिका के विभिन्न वार्ड 3,8व 12 में पाइप लाइन रहित गलियों में 90 एमएम की 1800 मी पीवीसी पाइप लाइन बिछाने का कार्य, जो पहले ही हो चुका है, उन्हें दोबारा शामिल कर लिया गया है। शिकायतकर्ता ने अपने पत्र में इन कार्यों की जांच कर कर तथा टेंडर में शामिल किए जाने के प्रकरण की जांच कर कर, आरोपी व्यक्ति के विरुद्ध कार्रवाई करने की गुहार लगाई। उधर डीएम शामली रविंद्र कुमार ने जांच कर कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,237FansLike
5,309FollowersFollow
45,451SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय