Saturday, May 25, 2024

कानपुर में दरोगा पर भडके भाजपा एमएलसी, बोले-तुम्हारी एसीपी कोई तोप है क्या?

मुज़फ्फर नगर लोकसभा सीट से आप किसे सांसद चुनना चाहते हैं |

लखनऊ। कानपुर में भाजपा के विधान परिषद सदस्य सलिल विश्वनोई की पुलिसकर्मियों से झड़प हो गई। उन्होंने दरोगा से कहा-कोई तोप हैं, श्वेता तुम्हारी एसीपी, बुलाओ उनको मांफी मांगे, नहीं तो कल सुबह तक सस्पेंड हो जाएंगी। बताया जा रहा है कि शुक्रवार को भाजपा महिला मोर्चा की महिलाएं राहुल गांधी और अखिलेश यादव की जनसभा का विरोध कर रही थीं। इसकी सूचना मिलते ही एसीपी सीसामऊ श्वेता फोर्स के साथ मौके पर पहुंचीं। उन्होंने महिलाओं को वहां से हटा दिया।

 

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

इसके बाद महिलाएं एसीपी पर बदसलूकी करने का आरोप लगाकर धरने बैठ गईं, तभी सलिल विश्वनोई पहुंच गए। महिलाओं की बात सुनते ही वह पुलिस कर्मियों पर भड़क गए।

 

महिलाएं बोलीं-एसीपी ने गर्मी निकाल देने की धमकी दी। इंडी अलाइंस की जीआईसी ग्राउंड में जनसभा थी। इसमें राहुल गांधी और अखिलेश यादव आए थे। इस दौरान पी-रोड वनखंडेश्वर मंदिर के पास भाजपा की महिला मोर्चा की महिलाएं विरोध प्रदर्शन कर रहीं थीं।

 

इसकी सूचना मिलते ही एसीपी सीसामऊ श्वेता कुमारी फोर्स के साथ पहुंचीं। उन्होंने महिलाओं को किसी तरह से हटाया। आरोप है कि एसीपी ने महिला मोर्चा की पदाधिकारियों से अभद्रता की। इस पर महिला मोर्चा की पदाधिकारी और कार्यकर्ता धरने पर बैठ गईं।

 

भाजपा महिला मोर्चा की पूनम कपूर ने बताया कि एसीपी ने महिला मोर्चा की पदाधिकारियों से अभद्रता की। उन्होंने महिला विंग की जिलाध्यक्ष सरोज का हाथ मरोड़ दिया। खींचकर किनारे कर दिया।
विरोध करने पर कहा- अभी सारी महिलाओं की हम गर्मी उतार देंगे, वो है क्या…? अगर हम शांतिपूर्वक ढंग से साइड में खड़े होकर वोट मांग रहे हैं, तो इसमें पुलिस को क्या ऐतराज है?

 

पूनम कपूर ने कहा- वो क्या गर्मी उतारेंगी? भाजपा का महिला मोर्चा इतना भी हल्का नहीं है। सम्मानित महिला मोर्चा है। एसीपी पहले दिन से सीसामऊ विधानसभा में चुनाव बिगाड़ने में लगी हैं। वो किसके प्रभाव में ऐसा कर रही हैं, हमें नहीं पता है। एम एल सी बोले-एसीपी माफी मांग लें तो ठीक, नहीं तो सीएम आवास घेर लेना, महिलाओं की प्रदर्शन की सूचना मिलते ही भाजपा एम एल सी सलिल विश्वनोई मौके पर पहुंचे, लेकिन तब तक एसीपी वहां चली गई थीं। दरोगा और पुलिसकर्मी मौजूद थे। महिलाओं ने उनसे पूरी बात बताई।

 

महिलाओं की बात सुनते ही वह भड़क गए। उनकी पुलिसकर्मियों से झड़प हो गई। उन्होंने कहा- श्वेता कुमारी आकर माफी मांग लें, तो ठीक है, नहीं तो कल तुम सीएम आवास को घेर लेना। इनको सस्पेंड कराकर रहना। इस दौरान काफी देर तक हंगामा होता रहा।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,188FansLike
5,319FollowersFollow
51,314SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय