Sunday, May 26, 2024

चारा खाने वाले लालू यादव ने पिछड़ों के आरक्षण में की लूटमारी, उनके सभी साथी भ्रष्टाचारी : अमित शाह

मुज़फ्फर नगर लोकसभा सीट से आप किसे सांसद चुनना चाहते हैं |

समस्तीपुर। बिहार के उजियारपुर लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी नित्यानंद राय के समर्थन में आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने राजद पर बड़ा हमला बोला।

उन्होंने राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि चारा खाकर जेल जाने वाले लालू यादव के सभी साथी भी भ्रष्टाचारी निकले। झारखंड में आज एक मंत्री के घर से 30 करोड़ रुपये जब्त हुए हैं। वहीं, कुछ दिन पहले कांग्रेस सांसद के घर से 350 करोड़ और उससे पहले ममता बनर्जी के मंत्री के घर से 51 करोड़ रुपये मिले थे।

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

उन्होंने लोगों को भरोसा दिलाते हुए कहा कि आपके पैसे की रखवाली मोदी जी करेंगे। ये लोग ईडी और सीबीआई की दुहाई देते हैं। भारत के गरीबों का आना-आना पैसा, जो इन्होंने खाया है, वह वापस गरीबों तक पहुंचाने का काम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे।

उन्होंने इंडी गठबंधन से जवाब मांगते हुए कहा कि जो रुपये मिलते हैं, उन्हें गिनने में मशीन भी खराब हो जाते हैं। आखिर ये पैसे कहां से आते हैं?

उन्होंने धर्म के आधार पर आरक्षण के मुद्दे पर कांग्रेस को घेरते हुए कहा कि पिछड़े की सबसे बड़ी विरोधी कांग्रेस है और आज उसी की गोद में जाकर लालू यादव भी बैठे हैं। कांग्रेस ने ओबीसी आरक्षण पर डाका डाला है। कर्नाटक में पिछड़े का आरक्षण काट कर मुस्लिमों को दे दिया गया। आंध्र प्रदेश में भी चार प्रतिशत आरक्षण काट दिया गया। कांग्रेस पिछड़ा समाज की सबसे बड़ी दुश्मन है। काका साहेब कालेलकर की रिपोर्ट को समाप्त कर दिया गया। मंडल कमीशन को भी ठंडे बस्ते में डाला और इसका सबसे ज्यादा विरोध राजीव गांधी ने किया था। पीएम मोदी ने पिछड़ा, अति पिछड़ा के लिए आयोग बनाया और संवैधानिक पहचान दिलाई।

अमित शाह ने आगे कहा कि लालू यादव ने पिछड़ों के आरक्षण में लूटमारी की। इसका हिसाब देना होगा। मोदी मंत्रिमंडल में 27 मंत्री पिछड़ा समाज से हैं। कर्पूरी जी ने जीवन भर गरीबों के लिए काम किया। पीएम मोदी ने कर्पूरी जी को भारत रत्न दिया।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,188FansLike
5,319FollowersFollow
51,314SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय