Saturday, July 13, 2024

मुजफ्फरनगरः मैढ़ क्षत्रिय राजपूत सोनार सभा धर्मशाला पर रिसीवर नियुक्त

मुजफ्फरनगर। भगत सिंह रोड पर स्थित स्वर्णकार समाज की धर्मशाला पर सिटी मजिस्ट्रेट द्वारा सीआरपीसी की धारा 145 की कार्यवाही के चलते धर्मशाला को कुर्क किए जाने के आदेश जारी करते हुए तहसीलदार सदर को रिसीवर नियुक्त किया है। मुजफ्फरनगर के समस्त स्वर्णकार समाज में खुशी की लहर दौड़ गई, पिछले 22 वर्षों से इस धर्मशाला पर दबंग बाप बेटे का कब्जा है।

 

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

उप जिलाधिकारी कार्यालय पर स्वर्णकार समाज के सैकड़ों व्यक्तियों द्वारा पवन कुमार वर्मा के नेतृत्व में अपनी उपस्थिति दर्ज कराई गई। आपको बता दें कि मुजफ्फरनगर के भगत सिंह रोड पर स्थित मेड क्षत्रिय राजपूत सोनार सभा धर्मशाला स्थित है, जिस पर पिछले 22 वर्षों से बिरला सिंह व उसके दबंग पुत्र उत्तम वर्मा का अवैध रूप से कब्जा है।

 

यह धर्मशाला स्वर्णकार समाज के पूर्वजों द्वारा इस उद्देश्य से बनाई गई थी कि इसमें समाज के व्यक्ति घर परिवारों में होने वाले बच्चों के विवाह या अन्य कोई जीवन मरण कार्यक्रम के तहत इस्तेमाल कर सके। यह धर्मशाला सन 2००० तक सुचारू रूप से चल रही थी। सन 2००० के बाद इस धर्मशाला पर दबंग बिरला सिंह द्वारा खुद को अध्यक्ष घोषित कर इस धर्मशाला पर कब्जा कर लिया और पिछले 22-23 वर्षों से खुद को निर्विरोध अध्यक्ष साबित करता रहा है।

 

 

इस धर्मशाला में पिछले 22 वर्षों से न हीं कार्यकारिणी की कोई मीटिंग की गई और नहीं कोई चुनाव कराया गया, इतना ही नहीं पिछले 22 वर्षों से बिरला सिंह द्वारा रजिस्ट्रार सोसायटी सहारनपुर कार्यालय में कोई नवीनीकरण भी नहीं कराया गया, धर्मशाला की कार्यकारिणी में आजीवन संरक्षक और सदस्य द्वारा रजिस्टार सोसायटी सहारनपुर और जिला प्रशासन मुजफ्फरनगर के यहां उक्त बिरला सिंह के अनैतिक कार्यों की शिकायत की गई, जिसमें सिटी मजिस्ट्रेट द्वारा दोनों पक्षों की सुनवाई के बाद स्वर्णकार समाज की धर्मशाला पर सीआरपीसी की धारा 145 की कार्यवाही करते हुए धर्मशाला को कुर्क करने के आदेश जारी किए हैं, साथ ही तहसीलदार सदर मुजफ्फरनगर को रिसीवर के रूप में नियुक्त किया गया है।

 

 

इस कार्यवाही के चलते स्वर्णकार समाज के सैकड़ों लोग और सोनार धर्मशाला कार्यकारिणी के आजीवन संरक्षकों द्वारा उप जिलाधिकारी कार्यालय मह्यं उपस्थित होकर समाज की एकजुटता का परिचय दिया,  उप जिलाधिकारी सदर निकिता शर्मा द्वारा अपने कार्यालय में सदर तहसीलदार व क्षेत्र के लेखपाल को शीघ्र ही कार्यवाही करने के निर्देश देते हुए स्वर्णकार समाज को भरोसा दिलाया की 2 दिन के अंदर धर्मशाला को कब्जा मुक्त कर दिया जाएगा। उप जिलाधिकारी सदर कार्यालय पर मुख्य रूप से सुनील कुमार वर्मा पत्रकार, महेश वर्मा, दिनेश वर्मा, एडवोकेट अमित वर्मा, संजय वर्मा, राजेश सोनी, जगदीश प्रसाद वर्मा संरक्षक, प्रदीप वर्मा संरक्षक, शिवकुमार वर्मा प्रॉपर्टी डीलर,

 

 

कृष्ण गोपाल वर्मा संरक्षक, राम गोपाल मुनीम संरक्षक, बृजपाल वर्मा कानूनगो, प्रमोद कुमार वर्मा , मोहनलाल वर्मा, रवि वर्मा, मास्टर तिरस्कार वर्मा, श्रीराम गोपाल वर्मा, सुशील वर्मा डाई वाले, पवन वर्मा, सुभाष वर्मा, नरेंद्र भारती, शिवम वर्मा, शिवकुमार वर्मा, संदीप वर्मा, राहुल वर्मा, मोनू वर्मा, कार्तिक वर्मा, विजयपाल वर्मा, भूषण वर्मा, सौरभ वर्मा, मास्टर जय भगवान वर्मा, रविंदर वर्मा बिरालसी, सतीश फौजी, राजेश वर्मा पूर्व सभासद, मनोज सोनी, कोकिल वर्मा, सचिन वर्मा कवाल, अनिल वर्मा खतौली, पंकज वर्मा इत्यादि मुख्य रूप से उपस्थित रहे।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,098FansLike
5,351FollowersFollow
64,950SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय