Thursday, June 13, 2024

मीरापुर में संविदाकर्मी लाईनमैन की मौत के बाद मुआवजे के लिए बिजली घर पर दिया धरना

मीरापुर। कस्बे के एक संविदाकर्मी लाईन में बिजली के तार सही करते समय खम्भे से गिरकर मृत्यु हो गई थी। संविदाकर्मियों, परिजनों व कस्बेवासियों ने मुआवजे की मांग को लेकर बिजलीघर पर धरना दिया। सूचना पाकर थैंक्स पावर कम्पनी के फील्ड ऑफिसर रोनित कुमार मौके पर पहुंचे तथा मृतक के परिजनों को साढे सात लाख रूपये, परिवार के सदस्य को नौकरी व पत्नी को पेंशन दिलाने के लिखित आश्वासन पर धरना समाप्त कर दिया।

मीरापुर के मौहल्ला मुश्तर्क निवासी गोविन्दा पुत्र राकेश बिजलीघर पर डेढ वर्ष से  संविदाकर्मी लाईनमैन के रूप में कार्यरत था । रविवार को करीब 4 बजे वह कस्बे के मौहल्ला बेरीबाग में बिजली के तार सही करने के लिए खम्बे पर चढा था, जब वह तार सही करके खम्बे से नीचे उतर रहा था, उसका पैर फिसल गया और वह सिर के बल जमीन पर गिर गया, गम्भीर हालत में परिजनों द्वारा मेरठ अस्पताल ले जाया गया, जहां पर उसकी रास्ते में ही मौत हो गई। पुलिस ने मृतक के शव का पंचनामाभर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

सोमवार की सुबह संविदाकर्मियों, परिजनों व कस्बेवासियों ने मृतक के परिजनों को मुआवजा दिये जाने की मांग को लेकर धरना प्रदर्शन करना शुरू कर दिया। सूचना पाकर जानसठ, मीरापुर व पुरकाजी के एसडीओ सर्वेश कुमार, रवि कुमार व अजय यादव तथा जे.ई. महिपाल सिंह, जे.ई. उत्तम कुमार, जे.ई. रामलाल, जे.ई. मंगतराम, जे.ई. संजय कुमार मौके पर पहुंच गये और गुस्साये परिजनों को समझाने का प्रयास किया तथा घटना की सूचना थैंक्स पावर कम्पनी को दी।

थैंक्स पावर कम्पनी के फिल्ड आफिसर रोनित कुमार मौके पर पहुंचे तथा मृतक के परिजनों को साढे सात लाख रूपये, एक परिजन को नौकरी तथा पत्नी को पेंशन लिखित में आश्वासन दिया गया तथा विद्युत विभाग के अधिशासी अभियन्ता शैलेन्द्र गौतम द्वारा भी लिखित में लेटर लिया गया जिस पर परिजनों व कस्बेवासियों ने धरना समाप्त कर दिया। दोपहर के बाद जब मृतक का शव उसके घर पर पहुंचा, तो परिजनों में कोहराम मच गया तथा भारी गमगीन माहौल में मृतक के शव का गंगा बेराज पर अंतिम संस्कार कर दिया गया।

धरने में मुख्य रूप से पूर्व चेयरमैन नवीन सैनी, पूर्व चेयरमैन जहीर कुरैशी, रामकुमार सैनी, विकास गोयल उर्फ डब्बू, राकेश कुमार, बुध सिंह, पंकज, शहजाद, शेखर सिंह, अमित, संजय, रजनीश, कविन्द्र, करतार सिंह, सचिन, प्रदीप, शाहनजर, वजीर, रोहित, सोनू, मनोज, मोनू, सुशील, सर्वेज आदि सैकड़ों लोग व संविदा कर्मचारी मौजूद रहे।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,188FansLike
5,329FollowersFollow
58,054SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय