Saturday, June 8, 2024

संविधान पर नहीं, लालू के ‘पारिवारिक आरक्षण’ पर खतरा- जदयू

पटना। बिहार में सत्तारूढ़ जनता दल (यूनाइटेड) ने राष्ट्रीय जनता दल के संविधान और आरक्षण पर खतरा वाले बयान पर करारा सियासी हमला बोला है। जदयू के प्रवक्ता और पूर्व मंत्री नीरज कुमार ने बुधवार को कहा कि इस चुनाव के बाद संविधान पर तो नहीं लेकिन सजायाफ्ता लालू यादव के पारिवारिक राजनीतिक आरक्षण पर खतरा तय है।

 

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

जदयू के प्रवक्ता नीरज कुमार ने राजद अध्यक्ष लालू यादव के पाटलिपुत्र संसदीय प्रत्याशी मीसा भारती के लिए प्रचार करने पर तंज कसते हुए बुधवार को कहा, “इस भीषण गर्मी में किडनी ट्रांसप्लांट के बावजूद आप पारिवारिक आरक्षण के लिए तड़प रहे हैं। आपके पुत्र कैसे हैं कि इसके लिए आपको रोक भी नहीं रहे हैं। जदयू तो आपके उत्तम स्वास्थ्य की कामना करती है।”

 

उन्होंने आगे राजद पर निशाना साधते हुए कहा कि राजनीति में परिवारवाद का यह घिनौना स्वरूप है कि अगले राजनीतिक कतार में परिवार के छह लोग खड़े हैं। आपके दल के लोग भी अब इस पर सवाल उठा रहे हैं। राजद के नेता भी अब सवाल उठा रहे हैं। उन्होंने कहा कि पार्टी के पिछड़े और अति पिछडे उम्मीदवारों के प्रचार के लिए लालू यादव के पास फुर्सत नहीं है, लेकिन बेटियों के प्रचार के लिए फुर्सत है, क्या परिवारवाद का यही स्वरूप है।

 

इससे पहले उन्होंने कहा था, जब परिवारवाद की बात होती है तो आपको राजनीतिक मिर्ची लग जाती है। अपनी बेटी रोहिणी आचार्य के लिए प्रचार के लिए आपकी तबीयत ठीक हो जाती है। इस भीषण गर्मी में अब मीसा भारती के भी प्रचार करने पहुंच गए हैं। नीरज कुमार ने लालू यादव को कहा कि पटना में 43 बीघा जमीन आपकी है, नया कानून बनाकर इसे जब्त किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि लालू यादव से लेकर राजद के सभी नेता संविधान और आरक्षण पर खतरे की बात कर रहे हैं।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,188FansLike
5,329FollowersFollow
56,098SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय