Friday, April 12, 2024

महाराष्ट्र के ‘जोशी सर’ नहीं रहे, अंतिम संस्कार आज शाम, राजकीय सम्मान के साथ दी जाएगी विदाई

मुंबई। समूचे महाराष्ट्र और राजनीतिक हल्कों में ‘जोशी सर’ के नाम से विख्यात प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और पूर्व लोकसभा अध्यक्ष मनोहर जोशी (86 ) का आज (शुक्रवार) तड़के करीब तीन बजे माहिम स्थित हिंदुजा अस्पताल में निधन हो गया। उन्हें गुरुवार शाम को हार्ट अटैक आने के बाद यहां भर्ती कराया गया था। ‘जोशी सर’ का अंतिम संस्कार शाम को पूरे राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा।

पिछले साल मई में भी उन्हें स्वास्थ्य कारणों से इसी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। कुछ दिन बाद पता चला कि उन्हें ब्रेन ट्यूमर है। उस समय उन्होंने बीमारी को मात दे दिया था। जोशी का पार्थिव शरीर आज उनके आवास पर रखा जाएगा। इसके बाद शिवाजी पार्क स्थित श्मशान घाट पर राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा।

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

मनोहर जोशी का जन्म दो दिसंबर, 1937 को रायगढ़ जिले के नंदवी गांव में मध्यमवर्गीय परिवार में हुआ था। उन्होंने मुंबई में शिक्षा ग्रहण की। पढ़ाई पूरी करने के बाद मुंबई नगर निगम में कुछ समय तक नौकरी की। कुछ समय बाद बालासाहेब ठाकरे के नेतृत्व में शिवसेना से जुड़ गए। ठाकरे के वह करीबियों में रहे।

वह 1976 से 1977 तक मुंबई के मेयर रहे। शिवसेना नेता मनोहर जोशी चार साल (1995-1999) तक मुख्यमंत्री रहे। पार्टी ने भाजपा के साथ गठबंधन में पहली बार महाराष्ट्र में सत्ता हासिल की। उन्होंने अटल बिहारी वाजपेयी सरकार के दौरान लोकसभा अध्यक्ष (2002-2004) के रूप में कार्य किया। वह कांग्रेस के शिवराज पाटिल (1991-1996) के बाद इस प्रतिष्ठित पद को संभालने वाले राज्य के दूसरे व्यक्ति बने। जोशी मुंबई सेंट्रल संसदीय सीट से सांसद रह चुके हैं। उन्होंने छह साल तक राज्यसभा सदस्य के रूप में भी काम किया है। पिछले कुछ समय से खराब सेहत के चलते वह महाराष्ट्र की राजनीति से दूर थे।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,237FansLike
5,309FollowersFollow
45,451SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय