Thursday, June 13, 2024

दक्षिण-पश्चिम मानसून उत्तर-पूर्वी बंगाल की खाड़ी के शेष भागों में आगे बढ़ा

नयी दिल्ली- दक्षिण-पश्चिम मानसून उत्तर-पूर्वी बंगाल की खाड़ी, त्रिपुरा, मेघालय, असम के शेष भागों और उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल तथा सिक्किम के अधिकतर क्षेत्रों में आगे बढ़ गया है।

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने शुक्रवार को बताया कि केरल और पूर्वोत्तर भारत में गुरुवार को दक्षिण-पश्चिम मानसून के आगमन के आसार थे। मानसून केरल में अपनी सामान्य तिथि एक जून की जगह दो दिन पहले ही दस्तक दे चुका है। मौसम अधिकारियों ने कहा, “अगले दो-तीन दिनों के दौरान मध्य अरब सागर, लक्षद्वीप, केरल, कर्नाटक के कुछ हिस्सों, तमिलनाडु और दक्षिण-पश्चिम बंगाल की खाड़ी के कुछ स्थानों पर मानसून के आगे बढ़ने के लिए परिस्थितियां अनुकूल हैं। ”

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली और पंजाब के कई हिस्सों में दो जून को भीषण लू की स्थिति रहने को आसार हैं। अगले दो-तीन दिनों के दौरान उत्तर-पश्चिम, मध्य और पूर्वी भारत में प्रचलित लू की स्थिति से धीरे-धीरे कुछ राहत मिलने का अनुमान है। पश्चिमी राजस्थान के श्री गंगानगर में गुरुवार को अधिकतम तापमान 48.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

अगले तीन दिनों के दौरान उत्तर-पश्चिम और मध्य भारत में अधिकतम तापमान में दो-तीन डिग्री सेल्सियस की गिरावट आने के आसार हैं। इसके अलावा, कोई और विशेष बदलाव नहीं होने का अनुमान है। एकतीस मई से तीन जून तक उत्तर-पश्चिम भारत के मैदानी इलाकों में गरज के साथ हल्की बारिश होने और पूर्वी राजस्थान में धूल भरी आंधी आने के आसार हैं। एकतीस मई-एक जून को उत्तर प्रदेश और एक-दो जून को पश्चिमी राजस्थान में धूल भरी आंधी चलने का अनुमान है।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,188FansLike
5,329FollowersFollow
58,054SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय