Thursday, June 6, 2024

छात्र ही राष्ट्र का है उज्जवल भविष्य-जिलाधिकारी डा.दिनेश चन्द्र 

सहारनपुर। जिलाधिकारी डॉक्टर दिनेश चंद्र के समक्ष दून कॉलेज ऑफ एजुकेशन, सुन्दरपुर के 70 से अधिक अध्यनरत छात्र/छात्राओं द्वारा उपस्थित होकर दून कॉलेज के प्रबन्ध-तन्त्र द्वारा उनके किये जा रहे शोषण की शिकायत की। दून कॉलेज ऑफ एजुकेशन के प्रबन्ध-तन्त्र द्वारा छात्रों का डाटा पोर्टल पर अपलोड किये जाने के उपरान्त फार्मों का सत्यापित नहीं किया गया।
जिस कारण अध्यनरत छात्र/छात्राएं परीक्षा से वंचित रह गये। दून कॉलेज ऑफ एजुकेशन के प्रन्बध तन्त्र द्वारा की गयी इस प्रकार त्रुटि से छात्रों के उत्पीड़न किये जाने से शासन की छवि धूमिल हुई है। जिलाधिकारी डा.दिनेश चन्द्र द्वारा दून कॉलेज ऑफ एजुकेशन, सुन्दरपुर की सम्यक जॉच किये जाने हेतु समिति गठित की गई है। समिति में मा०कुलपति द्वारा नामित सदस्य, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व सहारनपुर, क्षेत्रीय उच्च अधिकारी, मेरठ अथवा नामित सदस्य, उप जिलाधिकारी, बेहट एवं मुख्य कोषाधिकारी, सहारनपुर शामिल है। यह समिति संयुक्त रूप से दून कॉलेज ऑफ एजुकेशन, सुन्दरपुर सहारनपुर की विस्तृत जॉच करते हुए एक सप्ताह में अपनी तथ्यात्मक आख्या इस कार्यालय को उपलब्ध करायेगी, ताकि प्रश्नगत प्रकरण में अग्रेत्तर कार्यवाही की जा सके।
पूर्व में भी दून कॉलेज के विरूद्ध शिकायत प्राप्त होने पर उप जिलाधिकारी, बेहट से जॉच करायी गयी, जिसमें जिलाधिकारी द्वारा मा० कुलपति मेरठ विश्व विद्यालय को अवगत कराया गया था। लेकिन निरंतर शिकायतें प्राप्त होने के कारण जांच समिति का गठन किया गया। अवगत कराना है कि जिलाधिकारी डॉ0 दिनेश चन्द्र के पास ग्राम सुन्दरपुर में स्थित दून कॉलेज के छात्र अपनी समस्या लेकर पहुॅचे। उन्होंने बताया कि उनकी आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है जिससे वो बकाया फीस नहीं जमा कर पा रहे। व्यवस्था होते ही वे शीघ्र फीस जमा करा देंगे।
बकाया फीस जमा होने की वजह से कॉलेज द्वारा परीक्षा फार्म कन्फर्म नहीं किये गये जिसकी वजह से उनका एक वर्ष खराब हो जाएगा। डीएम ने छात्रों की समस्याओं को समझते हुए कुलपाति मॉ शाकुम्भरी विश्वविद्यालय एच एस सिंह से वार्ता कर अनुरोध किया कि छात्रों के भविष्य के दृष्टिगत ऐसे विद्यार्थी जो नियमित रूप से आ रहे हैं और जिन्होंने बकाया फीस का भुगतान नही किया है। अन्डरटेकिंग प्राप्त कर उनके परीक्षा फार्म कन्फर्म करते हुए इनके प्रवेश पत्र निर्गत कराने की कृपा करें।
कुलपति से हुई वार्ता के बाद नियमित आने वाले विद्यार्थी जिन्होंने  अपनी फीस नही जमा की ऐसे विद्यार्थियों के परीक्षा फार्म छात्र हित में उनसे फीस जमा किये जाने की अन्डरटेकिंग प्राप्त कर फार्म विश्वविद्यालय को अग्रसारित कर दिये गए।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,188FansLike
5,329FollowersFollow
53,342SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय