Tuesday, April 16, 2024

लोकसभा चुनाव के पहले ही हार मान चुका है विपक्ष, इसलिए मुझे दे रहा है गालियां : मोदी

तिरुवनंतपुरम/नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को कहा कि विपक्ष 2024 के लोकसभा चुनाव में अपनी हार मान चुका है, इसलिए वह मुझे गालियां दे रहा है। उन्होंने दावा किया कि विपक्ष के पास देश की प्रगति के लिए कोई रोडमैप नहीं है।

प्रधानमंत्री केरल के तिरुवनंतपुरम के सेंट्रल स्टेडियम में भाजपा की राज्य इकाई की पदयात्रा के समापन समारोह को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि केरल आना और केरल के लोगों के प्यार और आशीर्वाद के बीच रहना हमेशा खुशी की बात है। उन्होंने केरल के मतदाताओं से 2024 के लोकसभा चुनाव में भाजपा को दोहरे अंकों में सीटों के साथ जीत का आशीर्वाद देने का आग्रह किया। केरल 2024 के लोकसभा चुनावों में भाजपा को दोहरे अंक में सीटें जीतने में सक्षम बनाने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने लोकप्रिय जनभावना को दोहराया कि एक बड़ा विश्वास है कि एनडीए 2024 में आगामी लोकसभा चुनावों में 400 सीटों के साथ उभरेगा।

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

मोदी ने कहा कि केरल के लोग नकारात्मकता की राजनीति से नफरत करते हैं और भारत को बदलने के लिए भाजपा के एजेंडे में मदद करेंगे। भाजपा को जो समर्थन मिल रहा है, उससे पता चलता है कि भाजपा आगामी लोकसभा चुनाव में 370 सीटों के साथ उभरने जा रही है।

प्रधानमंत्री ने कांग्रेस, एलडीएफ और यूडीएफ पर जमकर निशाना साधा। मोदी ने कहा कि वे (कांग्रेस और वामपंथी) केरल में एक-दूसरे के दुश्मन हैं, हालांकि राज्य के बाहर वे बेस्ट फ्रेंड फॉरएवर (बीएफएफ) हैं। तिरुवनंतपुरम में उनकी एक अलग भाषा है और दिल्ली में एक अलग, केरल के लोग इस धोखाधड़ी का जवाब चुनाव में देंगे। उन्होंने कहा कि एलडीएफ और यूडीएफ का कुशासन सबके सामने है। केरल के लोग भाजपा को आशा की किरण के रूप में देखते हैं। एक तरफ जहां भाजपा सरकार केरल के लोगों को प्राथमिकता दे रही है, वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस-कम्युनिस्ट गठबंधन का ट्रैक रिकॉर्ड परिवारवाद से घिरा हुआ है। कम्युनिस्ट और कांग्रेस दोनों ‘बेस्ट फ्रेंड्स फॉरएवर’ हैं। उन्होंने कहा, ‘जहां एक ओर केरल की पहचान पर्यटन और प्रतिभा से जुड़ी थी, वहीं कांग्रेस-कम्युनिस्ट के तहत यह भ्रष्टाचार और अराजकता बन गई है। जहां केरल अपनी व्यावसायिक संभावनाओं और निवेश के लिए जाना जाता था, वहां आज बेरोजगारी और उद्योगों की कमी है।

देश के समग्र विकास पर प्रधानमंत्री ने कहा कि भाजपा कभी भी किसी व्यक्ति को वोट-बैंक के नजरिए से नहीं देखती है और उसका लक्ष्य सभी को सशक्त बनाना है। यह केरल के लोगों के लिए भी यही मंत्र है क्योंकि भाजपा राज्य के विकास पर अत्यधिक ध्यान केंद्रित कर रही है, जिससे केरल के लोगों में आत्मविश्वास पैदा हो सके। मोदी ने दावा किया कि पिछले 10 वर्षों में केरल को अन्य भाजपा शासित राज्यों की तरह विकास से लाभ हुआ है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि मोदी 3.0 के दौरान भारत दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनकर उभरेगा। पिछले दशक में भारत में 25 करोड़ लोग गरीबी से बाहर निकले हैं। मोदी 3.0 भारत के सेमीकंडक्टर उद्योग और हरित हाइड्रोजन को आगे बढ़ाने के लिए समर्पित होगा।

केरल के विकास को प्राथमिकता देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार के समर्थन की कमी के बावजूद केंद्र की भाजपा सरकार ने हमेशा केरल के विकास को प्राथमिकता दी है। उन्होंने कहा कि इसके लिए केरल सहित पूरे भारत में भागीदारी को सक्षम करने के लिए स्थानीय माध्यम में विभिन्न परीक्षाएं आयोजित की गई हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भाजपा सबका साथ, सबका विकास, सबका प्रयास और सबका विश्वास की भावना के साथ काम करती है। भाजपा का उद्देश्य सभी को सशक्त बनाना है। उन्होंने विश्वास जताया कि केरल के लोग आगामी लोकसभा चुनाव में भाजपा का समर्थन करेंगे।

Related Articles

मुज़फ्फर नगर लोकसभा सीट से आप किसे सांसद चुनना चाहते हैं |

STAY CONNECTED

74,237FansLike
5,309FollowersFollow
46,191SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय