Saturday, May 18, 2024

नोएडा में आफिस जा रही युवती को युवक ने छेड़ा, डॉक्टर से ठगी, मुकदमे दर्ज

मुज़फ्फर नगर लोकसभा सीट से आप किसे सांसद चुनना चाहते हैं |
नोएडा। सेक्टर 12 में रहने वाली एक युवती ने अपने पुराने दोस्त पर उसके साथ छेड़छाड़ करने और उसे परेशान करने का आरोप लगाया है। इसको लेकर युवती ने सेक्टर 24 थाने में आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कराया है।
पुलिस को दी गई शिकायत में युवती ने बताया कि उनकी दोस्ती कुछ समय पहले मिथिलेश विश्वकर्मा नाम के युवक से थी। जिसके बाद उन दोनों के बीच किसी बात को लेकर विवाद हो गया। इस दौरान उन्होंने आरोपी से पूरे रिश्ते को खत्म कर दिया। पीड़िता युवती ने बताया कि इसके बाद भी आरोपी मिथिलेश ऑफिस जाते वक्त उनका रास्ता रोकता है। इसके साथ ही कई बार आरोपी उसको रास्ते में रोककर उनके साथ गाली गलौज और छेड़छाड़ की । पीड़िता ने आरोपी को समझाया लेकिन आरोपी उसे लगातार परेशान कर रहा है। पीड़िता ने बताया कि आरोपी अपने दोस्तों से उनके पास फोन कराकर बात करने के लिए दबाव बनाता है। जब उन्होंने उससे बात करने से मना कर दिया। इस दौरान आरोपी ने उनको जान से मारने की धमकी दी है। पीड़िता ने बताया कि आरोपी ने कई बार कंपनी जाते समय उसका पीछा किया। जिसकी वजह से वह मानसिक रूप से बहुत परेशान और डरी हुई हैं। थाना प्रभारी ने बताया कि मामले में युवती की दी गई शिकायत पर आरोपी के खिलाफ विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया गया है।
इसके अलावा  साइबर अपराधियों ने सेक्टर 52 में रहने वाले एक डॉक्टर को अपने झांसे में फंसा कर उनके साथ 83 हजार 700 रुपये की ठगी कर ली है। पीड़ित डॉक्टर ऑनलाइन सीमेंट का ऑर्डर कर रहे थे। इसको लेकर उन्होंने सेक्टर 24 थाने में केस दर्ज कराया है।
 पुलिस को दी गई शिकायत डॉक्टर एसी थोमस ने बताया कि कुछ दिन पहले वह अपने कंस्ट्रक्शन के काम को लेकर ऑनलाइन सीमेंट की कंपनी खोज रहे थे। इस दौरान उनको इंटरनेट पर एक सीमेंट कंपनी के डीलर का फोन नंबर मिला था। जिस पर जब उन्होंने फोन किया तो बिपिन गुप्ता नाम के एक व्यक्ति से उनकी बात हुई। आरोपी ने खुद को सीमेंट कंपनी का प्रतिनिधि होने की बात कही। इस दौरान उन्होंने उससे अपने ऑफिस को वीडियो कॉल के जरिए दिखाने के लिए कहे जिस पर उन्होंने ऑफिस को दिखाने से इनकार कर दिया। हालांकि आरोपी ने उनको अपने विश्वास में लेने के लिए कुछ दस्तावेज को भेजा। जिसको देखने के बाद उन्होंने 540 बोरी सीमेंट का ऑर्डर कर दिया। इसके लिए उन्होंने आरोपी को 83 हजार 700 रुपये का भुगतान किया। जिसकी आरोपी ने एक रसीद भी उनके पास भेज था। पीड़ित ने बताया कि आरोपी के द्वारा दिए गए समय पर जब सीमेंट की डिलीवरी नहीं हुई। इस दौरान उन्होंने उन लोगों से बात करने की कोशिश की तो उनका नंबर बंद आया। इसके साथ ही उनके भेजे गए सारे दस्तावेज फर्जी मिले। शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरु कर दी है।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,188FansLike
5,319FollowersFollow
50,181SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय