Monday, February 26, 2024

उपलब्धियों पर होगा 2024 का चुनाव : सत्तापक्ष

नयी दिल्ली। लोकसभा में सदस्यों ने आज कहा कि मोदी सरकार में महिलाओं को नेतृत्व देने, युवाओं को अवसर देने, किसानों की आय बढाने तथा गरीबों को सरकारी योजनाओं में भागीदार बनाने के उल्लेखनीय काम हुए हैं और इन अभूतपूर्व कार्यों को देखते हुए साफ हो गया है कि 2024 का आम चुनाव उपलब्धियों पर लड़ा जाएगा।

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

लोकसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा की शुरुआत करते हुए भाजपा की डॉ हिना वी गावीत ने कहा कि इस बार के जो हालात बन रहे हैं उनसे स्पष्ट हो गया है कि चुनाव उपलब्धियों पर होंगे। सरकार की उपलब्धियों के कारण जो माहौल बन रहा है और जिस तरह से भाजपा सरकार ने काम किया है उसे देखते हुए निश्चित है कि 2024 के चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तीसरी बार देश की सत्ता में आएंगे।

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार में महिलाओं की भागीदारी महत्वपूर्ण हो रही है और उन्हें ज्यादा अवसर दिए जा रहे हैं और हर क्षेत्र में महिलाओं का योगदान बढ़ रहा है। स्वयं सहता समूह इसका सबसे बड़ा उदाहरण है जिससे ग्रामीण क्षेत्र में महिलाएं उन्नत हो रही है। महिलाओं को ड्रोन की ट्रेनिंग दी जा रही है। महिलाओं के लिए प्रसवकालीन अवकाश बढ़ाया गया है। नेशन डिफेंस अकादमी जैसे संस्थाओं में लड़कियों को महत्व दिया जा रहा है।

डॉ गावीत ने कहा कि देश में पहली बार आदिवासी महिला राष्ट्रपति बनी हैं और देश की वित्त मंत्री भी महिला ही हैं। इससे साफ है कि मोदी सरकार में महिलाओं को नेतृत्व में बढ़ावा मिल रहा है। मोदी सरकार ने नारी शक्ति वंदन विधेयक लाकर महिलाओं को और सशक्त बनाने का काम किया है।

कांग्रेस पर महिलाओं के लिए काम नहीं करने का आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष महिला रही हैं लेकिन उन्होंने कभी महिलाओं को मजबूत बनाने के लिए काम नहीं किया है। कांग्रेस के शासन में यदि यह काम हो गया होता तो भाजपा सरकार को आज महिलाओं के लिए इस तरह की कसरत नहीं करनी पड़ती। भाजपा सरकार महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए जो काम कर रही है वह अभूतपूर्व है।

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने किसानों की आय दुगना करने के एजेंडा पर भी काम किया है। देश के किसान को हर साल 6000 की राशि दी जा रही है। किसान के लिए पानी महत्वपूर्ण होता है इसलिए इस हर खेत को पानी देने के लिए प्रधानमंत्री सिंचाई योजना शुरू की गई है और फसल बीमा योजना चलाई जा रही है।

भाजपा नेत्री ने कहा कि गरीब और किसानों को न्याय देने का काम हुआ है और युवा शक्ति की मजबूती के लिए उन्हें गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देकर उनका कौशल विकास किया जा रहा है। बीस साल पहले शिक्षा नीति बनी थी और अब 20 साल बाद मोदी सरकार नयी शिक्षा नीति लेकर आई है। यूपीआई रिकार्ड बना रहा है और इंडोनिशिया जैसे देश इस प्रणाली को अपना रहे हैं। जी 20 की बैठकों में भारत ने पूरी दुनिया को जता दिया है कि भारत में वैश्विक नेतृत्व की क्षमता है।

डॉ गावीत ने कहा कि मोदी सरकार में महिलाओं और गरीबों के हित में जो काम हुए वे अभूतपूर्व हैं और इन दोनों को न्याय मिल रहा है। महिलाओं के लिए विभिन्न क्षेत्रों में जिस तरह से अवसर के द्वार खुले हैं उससे नारी सशक्तिकरण होगा और देश में महिलाएं हर काम में बराबरी के साथ आगे बढेंगी। उनका कहना था कि लोकसभा और विधानसभाओं में महिलाओं के लिए 33 प्रतिशत आरक्षण की व्यवस्था ने महिलाओं को सशक्त बनाने और नेतृत्व प्रदान करने का अभूतपूर्व काम किया है।

भाजपा के प्रोफेसर एस पी सिंह बघेल ने कहा कि उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी ने 16 टिकट घोषित कर दिए लेकिन गठबंधन के साथियों को इस बारे में पूछा ही नहीं है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार में बिना जाति पात और बिना भेदभाव के और योग्यता के आधार पर युवाओं को नौकरी दी जा रही है।

उन्होंने चंद्रयान का जिक्र किया और कहा कि इस क्षेत्र में भारत ने जो उपलब्धि हासिल की है वह असाधारण है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार जिस तरह से काम कर रही है वह देश को मजबूती प्रदान करने वाले हैं और इसी बुनियाद पर देश 2047 में जब आजादी के सौ साल मना रहा होगा तो भारत विकसित राष्ट्र होगा।

प्रो सिंह ने कहा कि मोदी सरकार जिस गति से और जिस रफ्तार से काम कर रही है वह विकास की बुनियाद है और इसी बुनियाद पर भारत दुनिया की शक्ति बनने की दिशा में आगे बढ रहा है। देश के हर राज्य में जी 20 सम्मेलनों के सफल आयोजन से यह साबित हो गया है कि भारत विकास के रास्ते पर सही दिशा में बढ रहा है और 2047 भारत विकसित राष्ट्र होगा।

द्रविड़ मुनेत्र कषगम के टी आर बालू ने मदुरै में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के निर्माण का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री मोदी ने पांच साल पहले शिलान्यास किया था, उसके बाद आज तक एक ईंट नहीं रखी गयी। 1800 करोड़ रुपए की यह परियोजना अटकी पड़ी है। उन्होंने सेतुसमुद्रम परियोजना का क्रियान्वयन नहीं हो पाने की बात कही और कहा कि सागरमाला परियोजना संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार के समय की राष्ट्रीय समुद्री नीति का नाम बदल कर लायी गयी है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार को तमिलनाडु की कोई चिंता नहीं है।

बालू ने कहा कि पेट्रोल एवं डीज़ल को वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के दायरे में क्यों नहीं लाया गया है। यदि पेट्रोल डीजल को जीएसटी के दायरे में लाया जाये तो 28 प्रतिशत की अधिकतम दर के अंतर्गत भी देश में कहीं भी पेट्रोल 85 रुपए प्रति लीटर से अधिक भाव से नहीं मिलेगा। उन्होंने मांग की कि रसोई गैस को कर मुक्त किया जाना चाहिए। उन्होंने कर्मचारी भविष्य निधि की पेंशन बढ़ा कर कम से कम तीन हजार प्रतिमाह करने की मांग करते हुए कहा कि तमिलनाडु में गृहणियों को एक हजार रुपए की पेंशन मिलती है और औद्योगिक कामगारों को जिन्दगी भर काम करने के बावजूद एक हजार रुपए पेंशन दी जा रही है जो उनके प्रति अन्याय है।

चर्चा के बीच केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने नियम का मुद्दा उठाया और लोकसभा अध्यक्ष से मांग की कि कांग्रेस के गौरव गोगोई द्वारा राष्ट्रपति के सैंगोल के साथ सदन में आने और राष्ट्रपति एवं सदन के बीच पत्राचार को लेकर की गयीं ‘आपत्तिजनक’ टिपण्णियों को रिकार्ड से हटा दिया जाये। उन्होंने प्रधानमंत्री पर भी लगाये गये आक्षेपों को भी कार्यवाही की रिकॉर्ड से हटाने की मांग की।

तृणमूल कांग्र्रेस की डॉ. काकोली घोष दस्तीदार ने अपने भाषण की शुरूआत में सवाल किया कि राष्ट्रपति पहली बार नये संसद भवन में आयीं थीं। उनको उस दिन क्यों नहीं बुलाया गया था जिस दिन नये संसद भवन का उद्घाटन हुआ था। उन्होंने सरकार पर आक्षेप करते हुए कहा कि चंद्रयान और आदित्य एल-1 मिशनों की कामयाबी वैज्ञानिकों की मेहनत का परिणाम है, इसमें नेताओं को श्रेय क्यों लेना चाहिए। उन्होंने राष्ट्रीय आयुर्विज्ञान परिषद (एनएमसी) की डॉक्टरों के कार्य के संबंध में हाल ही जारी अधिसूचना का विरोध करते हुए कहा कि इसमें डॉक्टरों को बंधुआ मजदूर की भांति समझा गया है। इस अधिसूचना को वापस लेना चाहिए। उन्होंने डॉक्टरों के पारिश्रमिक में वृद्धि की भी मांग की।

डॉ. दस्तीदार ने कहा कि देश में 45 करोड़ लोग बेरोज़गार हैं जिनमें 15.5 करोड़ लोग सामान्य मजदूर हैं। उन्होंने कहा कि 45 प्रतिशत मजदूर शहरों से गांवों में लौट गये हैं। किसानों की आत्महत्याओं का आंकड़ा तेजी से बढ़ा है। वर्ष 2022 में 11290 किसानों ने आत्महत्या की है। खेती में विदेशी निवेश के कारण किसानों के हाथों से जमीन जा रही है। उन्होंने कहा कि यूपीआई यानी डिजीटल ट्रांसेक्शन में धोखाधड़ी के कारण युवाओं में आत्महत्या की प्रवृत्ति बढ़ रही है। इसी प्रकार से सरकार हाईस्पीड रेल लेकर आयी है लेकिन पटरियां सड़ी हुईं हैं तो ये वंदे भारत एक्सप्रेस गाड़ियां हाईस्पीड से चल नहीं सकतीं हैं। उन्होंने कहा कि पूर्वाेत्तर भारत में चिकित्सा एवं शिक्षा व्यवस्था की दयनीय दशा है।

भाजपा के किरीट प्रेमभाई सोलंकी ने चर्चा में शामिल होते हुये कहा कि संविधान को लेकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के बारे में इससे पहले कांग्रेस के सदस्यों की ओर से की गयी टिप्पणी की वह आलोचना करते हैं। उन्होंने कहा कि मोदी ने गुजरात के मुख्यमंत्री रहते हुये 2010 में संविधान यात्रा निकाली थी। इसी से समझा जा सकता है कि मोदी हमेशा से संविधान के प्रति कितने निष्ठावान रहे हैं।

सोलंकी ने कहा कि कांग्रेस ने संविधान निर्माता बाबा साहब डॉ भीमराव अंबेडकर का सदैव अपमान किया है। कांग्रेस ने डॉ अंबेडकर का दिल्ली में मेमोरियल तक नहीं बनवाया। उनकी पार्टी के प्रधानमंत्रियों ने इस दिशा में कार्य किये और डॉ अंबेडकर का मेमोरियल और डाॅ अंबेडकर इंटरनेशनल सेंटर बनवाये।

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने नारी शक्ति वंदन अधिनियम बनाकर 50 प्रतिशत आबादी को विधायिका में उचित प्रतिनिधित्व देने का संकल्प व्यक्त किया है। डिजिटल संरक्षण अधिनियम में बना है। गत 22 जनवरी को अयोध्या में राम मंदिर में राम लला की प्राण प्रतिष्ठा की गयी। इसके लिये वह पूरे देश की ओर से प्रधानमंत्री को धन्यवाद करते हैं।

सोलंकी ने कहा कि सरकार देश के विकास की बुनियाद गरीबों, युवाओं, किसानों और महिला चार स्तम्भों पर खड़ी करेगी। उन्होंने कहा कि इंग्लैंड के बाद भारत पांचवीं अर्थव्यवस्था वाला देश बन गया है। विकास दर लगातार दो तिमाहियों में आर्थिक वृद्धि दर साढ़े सात प्रतिशत रही है। देश का निर्यात बहुत बढ़ा है। मोबाइल फोन उत्पादन में देश दूसरा सबसे बड़ा राष्ट्र बन गया है।

उन्होंने कहा कि डिजिटल प्रबंधन से देश में लोगों का जीवन आसान बना है। चिकित्सा के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य किये गये हैं। सिकल सेल एनीमिया के उन्मूलन के लिये मिशन मोड पर कार्य किये जा रहे हैं। कोविड महामारी के दौर में दो-दो वैक्सीन बनाकर पूरी दुनिया को भारत की क्षमता लोहा मनवाया है।

सोलंकी ने कहा कि 80 करोड़ लोगों को निशुल्क खाद्यान्न उपलब्ध करवाकर किसी को भूखा नहीं रहने दिया जा रहा है। किसानों की पीएम सम्मान निधि के तहत सीधे धन उपलब्ध करवाकर मदद की जा रही है। उन्हें सस्ती खाद उपलब्ध करायी जा रही है।

उन्होंने दो पंक्तियां ….. सपने नहीं हकीकत बुनते हैं।

….. तभी तो सब मोदी को चुनते हैं। बोलकर अपनी बात पूरी की।

वाईएसआर कांग्रेस पार्टी की डाॅ बी वी सत्यवती ने चर्चा में भाग लेते हुये देश में विभिन्न क्षेत्रों में हो रही तरक्की का उल्लेख किया और कहा कि देश की अर्थव्यवस्था अत्यधिक तेजी से बढ़ रही है। विकास दर लगातार दो तिमाहियों में आर्थिक वृद्धि दर साढ़े सात प्रतिशत रही है। अस्सी करोड़ लोगों को मुफ्त राशन उपलब्ध कराया जा रहा है।

उन्होंने आंध्र प्रदेश में वाई एस जगनमोहन रेड्डी सरकार की ओर से किये जा रहे जनहित के कार्यों का जिक्र करते हुये कहा कि प्रदेश में 50 लाख परिवारों को राइस राशन कार्ड बनवाकर चावल उपलब्ध करवाया जा रहा है।

सत्यवती ने जलवायु परिवर्तन पर चिंता व्यक्त करते हुये कहा कि देश में कभी लू चलती है तो कभी चक्रवाती तूफान आते हैं। इससे उनके राज्य आंध्रप्रदेश को बड़ी दुश्वारियों का सामना करना पड़ता है। केन्द्र सरकार को चक्रवात पीड़ितों के लिये निधि बनानी चाहिये और उनकी मदद के पुख्ता इंतजाम किये जाने चाहिये।

बहुजन समाज पार्टी के मलूक नागर ने कहा कि सरकार ने सीमावर्ती गांवों को प्रथम गांव कहा है। उन गांवों में बड़ी संख्या में स्कूल, काॅलेज, पुलिस चौकियां आदि बनायी जानी चाहिये जिससे वहां विकास कार्य तेजी से कराये जा सकें। उन्होंने कहा कि सीमावर्ती गांवों में विशेष आर्थिक क्षेत्र बनाकर रोजगार के बेहतर साधन मुहैया कराये जाने चाहिये।

नागर ने 60 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को कर में छूट देकर उनकी मदद किये जाने की मांग की। उन्होंने उत्तर प्रदेश को चार भागों में विभाजित करने की मांग की जिससे प्रत्येक क्षेत्र में विकास कार्यों में तेजी लायी जा सके।

उन्होंने गन्ना किसानों की परेशानियों के मद्देनजर गन्ना का खरीद मूल्य कम से कम 550 रुपये प्रति क्विंटल किये जाने की मांग की। उन्होंने मेरठ में अनुसंधान संस्थान बनाकर फलों, फूलों पर अनुसंधान करने की मांग जिससे किसानों को इनकी खेती से लाभ हो सके। उन्होंने किसानों के लिये प्रशिक्षण केन्द्र की स्थापना की मांग की।

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अमोल राम सिंह कोल्हे ने प्याज के निर्यात पर लगाये गये प्रतिबंध को हटाने की मांग की जिससे प्याज किसानों को उनकी उपज का उचित मूल्य मिल सके। उन्होंने कहा कि प्याज के निर्यात पर प्रतिबंध से पूरे यूरोपीय बाजार पर पाकिस्तान का कब्जा हो रहा है और पाकिस्तान प्याज के निर्यात से बड़ी संख्या में विदेशी मुद्रा अर्जित कर रहा है। उन्होंने कहा प्याज के निर्यात पर प्रतिबंध लगने से देश में प्याज की कीमत बहुत घट गयी, जिससे किसानों की कमर टूट रही है।

भाजपा के राजेंद्र अग्रवाल ने कहा कि काम करने से समाज में परिवर्तन आया है और जिन गैस सिलेडर के लिए पहले लाइन लगती थी भाजपा सरकार ने उसे खत्म करने का काम किया है। मोदी सरकार भी जनता के हितों के काम में जुटी है और यहां तक यदि भारतीय विदेशों में फंस गये हों तो उन्हें सुरक्षित वापस लाया जा रहा है। कांग्रेस पर भ्रष्टाचार करने का आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि शुरू से ही कांग्रेस भ्रष्टाचार में लिप्त रही है, लेकिन वोट बैंक के लिए उसने तुष्टिकरण कर समाज बांटने का काम किया है। उनका कहना था कि यदि किसी व्यक्ति ने गलत काम किया है तो वोट बैंक के लिए अपराध करने वालों को महिमा मंडित नहीं किया जाना चाहिए।

कांग्रेस के डीन कुरियाकोसा ने कहा कि सरकार 2024 के चुनाव को ध्यान में रखते हुए लोगों को लुभाने के लिए काम कर रही है। लोगों की समस्याओं पर मोदी सरकार ध्यान नहीं दे रही है। मणिपुर में लम्बे समय से हिंसा चल रही है, लेकिन प्रधानमंत्री इस मामले में चुप्पी साधे हुए हैं। उनका कहना था कि सरकार ने आंगनवाड़ी कार्यकर्ता तथा ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों के लिए आर्थिक आधार बनकर उभरे मनरेगा को लेकर कुछ नहीं कहा गया है।

भाजपा के तेजस्वी सूर्या ने कहा कि पिछले दस साल में बहुत बड़े बदलावा आये हैं उनमें सबसे बड़ा बदलाव यह है कि देश के निराशा का माहौल आशा में बदला है। मोदी से पहले ‘निराशा’ थी और मोदी के बाद ‘आशा’ है यही पिछले दस साल में आया सबसे बड़ा बदलाव है। पिछले दस साल में समाधान हुआ है। पूर्वोत्तर में दशकों से लोग समस्याओं से जूझ रहे थे और लोग अशांत बने हुए थे, लेकिन आज मोदी के प्रयास से पूर्वोत्तर में स्थिति शांत है। वहां लम्बी समस्याओं का समाधान निकाला गया है।

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार की सबसे बड़ी उपलब्धि यह है कि देश के 25 करोड़ लोगों को गरीबी की रेखा से ऊपर निकाला गया है। सरकार ने गरीबों के कल्याण का काम रेवड़ी बांटकर नहीं किया है बल्कि प्रधानमंत्री के गरीबों की समस्याओं को समझने और उनके समाधान के लिए काम करने से हुआ है। उन्होंने कहा दक्षिण भारत से कांग्रेस के एक सांसद को दक्षिण भारत को अलग राज्य बनाने की बात की है यह बहुत दुखद है। तमिलनाडु के लोग भाषा की बात उठाते हैं।

भाजपा के रामचरण बोहरा ने कहा कि प्रधानमंत्री ने मेक इन इंडिया अभियान शुरू किया जो एक वैश्विक ब्रांड बन गया है। देश में स्टार्ट अप की धूम है। भारत का युवा रोजगार देने वाला बन रहा है। भारतीय नारी लड़ाकू विमान उड़ाने के साथ व्यापार भी कर रही है। ग्रामीण महिलाओं को स्वसहायता समूहों के माध्यम से सशक्त बनाया जा रहा है। हथियारों का आयात करने वाला भारत आज हथियारों का निर्यात कर रहा है। ब्रह्मोस मिसाइल एवं तेजस युद्धक विमान की दुनिया भर में मांग हो रही है। आज दुनिया की कोई भी ताकत भारत की ओर आंख उठा कर नहीं देख सकती।

कांग्रेस के कार्ति चिदंबरम ने कहा कि भाजपा के लोग कहते हैं कि वे श्यामाप्रसाद मुखर्जी के विज़न और विविधता में एकता के विचार के समर्थक हैं। जबकि हकीकत यह है कि वे एकीकरण में एकता के पक्षधर हैं। एक धर्म, एक संस्कृति, एक भाषा के बाद वे एक देवता एवं एक मंदिर की विचारधारा में विश्वास करने लगे हैं। उन्होंने कहा,“ राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु समारोहपूर्वक सेंगोल के साथ नये संसद भवन में दाखिल हुईं थीं। धर्म एवं न्याय के प्रतीक सेंगोल के सामने दो ऐसी घटनाएं हुईं हैं जो हम पर सवालिया निशान लगातीं हैं – एक, 13 दिसंबर को कुछ युवाओं का सदन में कूदना और दूसरा, 140 से अधिक सांसदों काे निलंबित करना।”

चिदंबरम ने कहा कि नारीशक्ति वंदन अधिनियम एक बिना तारीख वाला चेक हैं जो अभी नहीं भुनाया जा सकता है, सबको पता है। महिला आरक्षण पुनर्परिसीमन एवं जनगणना के बाद ही संभव हो सकता है। इसलिए अभी ये कानून एक मृगमरीचिका मात्र है। उन्होने कहा कि चीन की सीमा पर हो रहीं घटनाओं एवं मणिपुर की स्थिति पर सरकार की चुप्पी आश्चर्यजनक है। रोज़गार की बात सरकार किस मुंह से कर रही है जबकि सरकारी विभागों में 9.6 लाख रिक्तियां लंबित हैं। युवा बेरोज़गारी से परेशान हो कर रोज़गार की आशा में इज़रायल के संघर्ष वाले इलाकों में जा रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार प्रतीकात्मक कार्यों में अग्रणी है लेकिन ठोस परिणामों की दृष्टि से बहुत पीछे है।

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी(राकांपा) की सुप्रिया सुले ने कहा कि सरकार ख्वाबों की दुनिया में हैं। सरकार के कई काम अच्छे हैं लेकिन बहुत से गंभीर मसले लंबित हैं। संसद ग्राम योजना, शौचालयों के उपयोग, उज्ज्वला योजना के सिलेंडरों की रिफिलिंग आदि की कोई चिंता नहीं है। रेलवे में बदलाव आया है लेकिन वह बदलाव गरीबों के लिए नहीं है। वंदे भारत ट्रेन अच्छी है लेकिन महंगा टिकट होने के कारण उसमें लोग सवारी नहीं कर रहे हैं। वंदे भारत के साथ गरीब रथ भी चलाना चाहिए। जम्मू-कश्मीर में अच्छा काम हुआ लेकिन हमले आज भी हो रहे हैं। महाराष्ट्र में कितने ही आंदोलन चल रहे हैं।

श्रीमती सुले ने कहा कि भाजपा कांग्रेस मुक्त भारत की बात करती थी लेकिन भाजपा कांग्रेसी युक्त होती जा रही है। उन्होंने कहा कि आज व्यापारी बहुत तनावग्रस्त है। कारोबार कम हुआ है। किसानों को सालाना छह हजार रुपए दे कर उनकी आमदनी दोगुनी नहीं हो सकती है। प्याज, दूध, सोयाबीन ,सब्ज़ियां आदि सब कुछ बहुत महंगा है। बजट के दिन हर गृहणी महंगायी से मुक्ति दिलाने की बात कह रही थी। सरकार ने इथेनॉल की नीति बनायी और प्याज के निर्यात को बंद किया, अब उसे फिर से खोलना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि सभी लाभार्थियों का आयुष्मान भारत कार्ड काम नहीं कर रहा है। उन्होंने मांग की कि आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को पारिवारिक पेंशन दी जानी चाहिए।

राकांपा नेता ने कहा कि सरकार की कुछ बातें विरोधाभासी हैं। एक ओर उसका दावा है कि 25 करोड़ लोगों को गरीबी से निकाल दिया है, दूसरी ओर वह 80 करोड़ गरीब लोगों को मुफ्त राशन दे रही है। तो इन दोनों में क्या सही है। यदि 80 करोड़ लोगों को मुफ्त खाना देना पड़ रहा है तो गरीबी कहां कम हो गयी है।

भाजपा के रमेश बिधूड़ी ने कहा कि नयी शिक्षा नीति आयी है, स्किल इंडिया, स्टार्ट अप इंडिया में लाखों लोगों को फायदा हुआ है। 78 लाख लाेगों को स्वनिधि योजना से लोन मिला है। गरीब लोगों के उत्थान के लिए ये योजनाएं लागू की गयीं हैं। 43 करोड़ लोन अनुसूचित जाति जनजाति के लोगों को लोन मिला है। 643 मेडिकल कॉलेज,10 हजार अटल टिंकलिंग लैब खोली गयी है। खेलों में जाति, क्षेत्र वाद नहीं होता केवल राष्ट्रवाद की भावना बढ़ाती है, इसलिए खेलों को बढ़ावा दिया जा रहा है। देश में छह लाख खिलाड़ियों को सहायता दी जा रही है। खेलाें का बजट 1200 करोड़ से बढ़ाकर 3400 करोड़ रुपए दिये गये हैं। प्रधानमंत्री ने फिट इंडिया अभियान शुरू किया है। 45 मिनट के व्यायाम से कोरोना को दूर रखा गया।

भाजपा के रमेश बिधुडी ने कहा कि मोदी सरकार में समाज के सभी वर्गों का सम्मान किया जा रहा है। विपक्ष के लोग देशवासियों को सिर्फ़ गुमराह करने का काम करते हैं। मोदी- सरकार ने नारी बंधन विधेयक लाकर 33 प्रतिशत महिलाओं को आरक्षण देने का काम किया गया है। उन्होंने कहा कि मोदी के नेतृत्व में जो देश में काम हो रहा है वह कल्पना से परे है।

बीजू जनता दल के भर्तृहरि महताब ने कहा कि राष्ट्रपति के अभिभाषण में जिस बात की सबसे बड़ी झलक थी वह राम लला की प्राण प्रतिष्ठा थी। सबके अनुमति और सहमति से यह भव्य मंदिर बनी। जिस तरह की प्राण परितष्ठा हुई वह भविष्य के लिए एक मिसाल बन गई।

उन्होंने कहा कि किसानों और मज़दूरों को पेंशन देकर सरकार ने एक बड़ा काम किया है। पूर्वोत्तर भारत का आर्थिक विकास कैसे हो उस पर सरकार ध्यान दे रही है यह सराहनीय कदम है।

उन्होंने कहा कि लिस्ट ऑफ़ बिज़नस में अगर विपक्ष को शामिल किया जाये तो सदन में व्यवधान को ख़त्म किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि बीजू जनता दल ‘एक राष्ट्र एक चुनाव’ का समर्थन करती है।

कांग्रेस के विंसेंट एच पाला ने कहा कि राष्ट्रपति के अभिभाषण ने मणिपुर के बारे में कोई चर्चा नहीं की गई। मणिपुर में उत्पन्न समस्या से पूरा पूर्वोत्तर भारत प्रभावित हो रहा है लेकिन सरकार इसकी तरफ़ कोई ध्यान नहीं दे रही है।

भाजपा के संतोष पांडेय ने कहा कि वास्तव में महिलाओं को सम्मान देने का काम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में हुआ है। नारी शक्ति का सामर्थ्य बढ़ाने में सरकार ने हर क्षेत्र में काम किया है। नारी शक्ति की झलक गणतंत्र दिवस परेड में भी देखने को मिली। महिलाओं की आर्थिक भागीदारी बढ़ाने के लिए निरंतर प्रयास किया गया है।

कांग्रेस के अब्दुल खालिक ने कहा कि राष्ट्रपति के अभिभाषण पर भाजपा की हीना गावित की तरफ़ से जो प्रस्ताव लाया गया है उसका समर्थन नहीं कर सकते हैं क्योंकि नारी शक्ति वंदन अधिनियम को लागू करने के लिए परिसीमन की ज़रूरत नहीं है। वास्तव में ये लोग नारी शक्ति को सशक्त नहीं करना चाहते हैं। नारी शक्ति वंदन की बात करते हैं लेकिन हाथरस की बेटी को न्याय कैसे मिलेगा इसका अभिभाषण में ज़िक्र नहीं करते हैं।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,381FansLike
5,290FollowersFollow
41,443SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय