Thursday, February 29, 2024

नोएडा में बच्चों की मानसिक बीमारियों को लेकर किया गया जागरूक

नोएडा। चिल्ड्रन मेंटल हेल्थ वीक (बाल मानसिक स्वास्थ्य सप्ताह) के अंतर्गत शुक्रवार को जिला मानसिक स्वास्थ्य की टीम ने आंगनबाड़ी केन्द्र हाजीपुर और छलेरा में बच्चों के मानसिक स्वास्थ्य को लेकर उनके अभिभावकों को जागरूक किया गया।

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

 

टीम ने बताया कि छोटे बच्चों से किस तरह व्यवहार करना चाहिए ताकि वह मानसिक रूप से स्वस्थ और प्रसन्न रहें। इसके अलावा टीम ने बच्चों में होने वाले मानसिक विकारों के बारे में भी जागरूक किया। शुक्रवार को सेक्टर 39 स्थित मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) कार्यालय में हस्ताक्षर अभियान भी चलाया गया। सीएमओ सुनील कुमार शर्मा एवं गैर संचारी रोग नियंत्रण कार्यक्रम की नोडल अधिकारी डा. शुभ्रा मित्तल के नेतृत्व में राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत जनपद में बाल मानसिक स्वास्थ्य सप्ताह मनाया जा रहा है। चार फरवरी से शुरू हुआ सप्ताह 11 फरवरी तक मनाया जाएगा।

 

बाल मानसिक स्वास्थ्य सप्ताह के तहत जनपद में जागरूकता परक विभिन्न गतिविधियों का आयोजन किया जा रहा है। इसी क्रम में जुवेनाइल होम, बचपन डे केयर, महिला सम्प्रेषण गृह, नवजीवन इंटर कालेज भंगेल, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बादलपुर की ओपीडी, आंगनबाड़ी केन्द्रों में मानसिक स्वास्थ्य को लेकर जागरूकता कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। इस दौरान जिला मानसिक स्वास्थ्य की टीम ने अभिभावकों एवं कार्यरत स्टाफ को बच्चों को मानसिक रूप से स्वस्थ रखने के टिप्स दिये। इसके अलावा बच्चों में होने वाली मानसिक बीमारी- मंदबुद्धिता, आटिज्म, एडीएचडी, स्पेसिफिक लर्निंग डिसेबिलिटी, डिप्रेशन, चाइल्ड हुड स्ट्रेस, मिर्गी के दौरे आदि बीमारियों के बारे में विस्तृत जानकारी दी।

 

अभिभावकों यह भी बताया गया कि वह किस तरह इन बीमारियों के लक्षण पहचानें। उन्हें बताया गया कि वह बच्चों के व्यवहार पर विशेष नजर ऱखें। यदि किसी तरह का व्यवहार परिवर्तन नजर आये तो तुरंत सतर्क हो जाएं। बच्चे की परेशानी समझने की कोशिश करें और जरूरत पड़ने पर मनोचिकित्सक से परामर्श करें। उन्हें बताया गया कि मानसिक रोग भी शारीरिक रोग की तरह उपचार से ठीक हो सकते हैं। बच्चे में किसी तरह के मानसिक रोग को लेकर झाड़-फूंक के चक्कर में नहीं पड़ना चाहिए।

 

टीम के सदस्यों ने बताया कि संयुक्त जिला अस्पताल में कमरा नंबर चार व छह में मेंटर हेल्थ ओपीडी संचालित की जाती है। ओपीडी में आकर मनोचिकित्सक से परामर्श लिया जा सकता है। यहां काउंसलिंग और दवा के जरिये उपचार किया जाता है। सप्ताह के अंतर्गत हुए विभिन्न कार्यक्रमों में मनोचिकित्सक डा. तनूजा, साइकेट्रिक सोशल वर्कर रजनी सूरी, साइकोलॉजिस्ट नीति सिंह, स्टाफ नर्स सोनी ने प्रतिभाग किया। शुक्रवार को सीएमओ कार्यालय में चलाये गये हस्ताक्षर अभियान में एसीएमओ, डिप्टी सीएमओ सहित अन्य अधिकारियों व कर्मचारियों ने भाग लिया।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,381FansLike
5,290FollowersFollow
41,443SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय