Thursday, April 11, 2024

मेरठ में बिजली घर में डकैती के साजिशकर्ता निकले कर्मचारी, दो की सेवा समाप्त

मेरठ। रोहटा थानाक्षेत्र में बिजली घर में डकैती का पुलिस ने खुलासा कर दिया। डकैती का षडयंत्र रचने के को लेकर दो कर्मचारियों पर बड़ी कार्रवाई हुई है।

 

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

मेरठ के रोहटा क्षेत्र में उखलीना बिजलीघर में डकैती की साजिश ड्यूटी पर तैनात एसएसओ और लाइनमैन ने ही रची थी। विभागीय जांच में बाहरी व्यक्तियों से मिलीभगत कर षडयंत्र रचने के खुलासे के बाद दोनों कर्मचारियों की सेवा समाप्त कर दी गई है। वहीं पुलिस की जांच अभी पूरी नहीं हुई है। पुलिस कर्मचारियोंं का साथ देने वाले बाहरी लोगों की तलाश कर रही है।

 

उखलीना गांव स्थित 33/11 बिजलीघर में मंगलवार रात जानी क्षेत्र के बहरामपुर गांव निवासी एसएसओ सुरेश और कैथवाड़ी निवासी लाइनमैन नरेश शर्मा ड्यूटी पर थे। बुधवार सुबह दोनों ने विभागीय अधिकारियों को सूचना दी कि देर रात बिजलीघर की दीवार में कुंबल कर 7-8 बदमाश अंदर घुसे और दोनों को तमंचे के बल पर बंधक बनाकर बिजलीघर 14 लाख का सामान ले गए। अवर अभियंता अशोक कुमार ने थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी।

शौचालय की दीवार में अंदर से किया गया था कुंबल, जेई को चार्जशीट

मुख्य अभियंता जोन-2 राघवेंद्र सिंह ने बताया कि मौके पर जांच की गई तो पाया गया कि शौचालय की दीवार में जो कुंबल किया गया है, वह अंदर से बाहर की ओर किया गया था। दीवार का मलबा बाहर गिरा हुआ मिला। कुंबल की परिधि भी इतनी कम है कि कोई व्यस्क व्यक्ति प्रवेश नहीं कर सकता। इससे स्पष्ट है कि विभागीय कर्मचारियों ने बाहरी व्यक्तियों से मिलीभगत कर षडयंत्र रचा है।

 

एसएसओ सुरेश, संविदा लाइनमैन नरेश शर्मा की सेवा समाप्त कर दी गई। प्रबंध निदेशक ईशा दुहन ने जेई के खिलाफ चार्जशीट, एसडीओ और एक्सईएन को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए हैं। मुख्य अभियंता स्तर के अधिकारियों से भी स्पष्टीकरण मांगा गया है।

 

ईशा दुहन, प्रबंध निदेशक, पीवीवीएनएल ने बताया कि इस मामले में दो कर्मचारियों की सेवा समाप्त की गई है। मुख्य अभियंता सहित अन्य अधिकारियों से भी स्पष्टीकरण मांगा गया है।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,237FansLike
5,309FollowersFollow
45,451SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय