Sunday, May 26, 2024

शामली में दबिश के लिए पहुंची हरियाणा पुलिस का व्यापारियों ने किया जबरदस्त विरोध

मुज़फ्फर नगर लोकसभा सीट से आप किसे सांसद चुनना चाहते हैं |

 

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

शामली। जिला मुख्यालय शामली पर एक ज्वैलरी व्यापारी के यहां दबिश डालने के लिए पहुंची हरियाणा पुलिस की सीआईए यूनिट को व्यापारियों के विरोध का सामना करना पड़ा। व्यापारियों ने हरियाणा पुलिस पर बिना वजह उत्पीड़न करने का आरोप लगाते हुए हंगामा किया। इसके कारण टीम को बैरंग वापस लौटना पड़ा। व्यापारियों ने कहा कि हरियाणा पुलिस आय दिन किसी भी आरोपी को साथ लेकर आती है और किसी भी व्यापारी को उठाकर ले जाती है।

दरअसल, रविवार को हरियाणा पुलिस की सीआईए यूनिट के कर्मचारी शामली के बड़ा बाजार में एक कथित मुजरिम को रिमांड पर साथ लेकर ज्वैलरी व्यापारी के यहां दबिश डालने के लिए पहुंचे थे, लेकिन बाजार में पहुंचते ही स्थानीय व्यापारियों ने हरियाणा पुलिस की गाड़ी को घेर लिया। व्यापारियों ने हरियाणा पुलिस पर बिना वजह उत्पीड़न करने और स्थानीय पुलिस की गैरमौजूदगी में दबिश डालने का आरोप लगाया। इस दौरान पुलिसकर्मियों और व्यापारियों के बीच जमकर तू-तू मैं, मैं भी हुई। आखिरकार व्यापारियों के सख्त विरोध के चलते हरियाणा पुलिस को मौके से लौटना पड़ा।

 

व्यापारियों ने आरोप लगाया कि हरियाणा पुलिस किसी भी आरोपी को साथ लेकर सर्राफा व्यापारियों को बिना वजह परेशान करती है। व्यापारियों को उठाकर ले जाने के बाद उनसे वसूली की घटनाएं भी सामने आ चुकी है। बड़ा बाजार निवासी व्यापारी राकेश कुमार कुच्छल ने बताया कि हरियाणा पुलिस वाले व्यापारियों का उत्पीड़न करने के लिए हर महीने आते हैं। पहले भी कई व्यापारियों को उठाकर उनका उत्पीड़न किया जा चुका है। व्यापारियों ने हरियाणा पुलिस पर व्यापारियों की फर्जी नामजदगी और वसूली कर छोड़ने का आरोप लगाते हुए स्थानीय अधिकारियों से सख्त कार्रवाई की मांग की है, ताकि व्यापारी वर्ग का उत्पीड़न ना हो सके।

 

वही जब इस मामले में कोतवाली में मुंशी दफ्तर में एक मुंशी से बात की गई, तो मुंशी ने बताया कि हरियाणा पुलिस ने थाने में आमद करवाई है। साथ में वह एक मुस्लिम को भी लेकर आए हैं। जब मुंशी से पूछा गया कि यदि बाहर की पुलिस आती है, तो जनपद कि पुलिस का सहयोग लेती है,परंतु उन्हें जनपद की पुलिस का सहयोग नहीं लिया। इस बात पर मुंशी ने कोई जवाब नहीं दिया और चुपचाप काम करते रहे।

 

Related Articles

STAY CONNECTED

74,188FansLike
5,319FollowersFollow
51,314SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय