Saturday, May 18, 2024

सीबीएसई बोर्ड परीक्षा परिणाम में देवबंद के स्कूलों का शानदार प्रदर्शन,मेधावी छात्र-छात्राओं ने किया स्कूल और परिवार का नाम रोशन

मुज़फ्फर नगर लोकसभा सीट से आप किसे सांसद चुनना चाहते हैं |
देवबंद (सहारनपुर)। सीबीएसई हाईस्कूल एवं इंटरमीडिएट की बोर्ड परीक्षा में देवबंद क्षेत्र के बच्चों ने अपनी प्रतिभा का उत्कृष्ठ प्रदर्शन किया है। मेधावी बच्चों के स्कूलों में ही नहीं बल्कि परिवार में भी खुशी का माहौल है।
देवबंद नगर के दून वैली स्कूल की प्रधानाचार्य सीमा शर्मा ने बताया कि 12वीं में अनुष्का गोस्वामी व शैली रोर 96.6, मैत्री बंसल 94.4 व युक्ति 94 जबकि हाईस्कूल में उत्कर्ष बंसल 98.4, कृति, अक्षिता सिंघानिया 98.2 व खुशी 98 प्रतिशत अंकों के साथ प्रथम, द्वितीय व तृतीय रहे।

स्प्रिंग डेल स्कूल के प्रबंधक साद सिद्दीकी व अहमद सिद्दीकी ने बताया कि 12वीं में हाजरा 96, फैजीन मलिक 95 प्रतिशत जबकि दसवीं में मो. माज 96.4, अब्दुल रहमान 95.4 नमरा उस्मानी 93 प्रतिशत अंक लेकर प्रथम, द्व्तिीय व तृतीय स्थान पर रहे हैं।

मेपल्स एकेडमी की प्रधानाचार्य डा. चित्रा जोशी ने बताया कि कक्षा 12 में काजल 96.8, उन्नति गोयल 96.2, गौरी गर्ग व सारा नरवाल 95.4 प्रतिशत तथा हाईस्कूल में तन्मय 96, वैष्णवी गुप्ता 94.6 व अशहब मिनहाल 94 प्रतिशत अंक लेकर प्रथम, द्वितीय व तृतीय रहे।
दून हिल्स एकेडमी के डायेक्टर तनुराज वर्मा ने बताया कि कक्षा 12 में नेहा त्यागी 94.5, कशिश 93 व आस्था 92.6 प्रतिशत अंकों के साथ प्रथम, द्वितीय व तृतीय रहे।
सर्वोदय ज्ञान पब्लिक स्कूल के प्रधानाचार्य रूपेश सैनी ने बताया कि इंटरमीडिएट में क्रिस 98, अभिषेक सैनी 92.4 व पर्व सैनी 91.6 जबकि हाईस्कूल में नंदिनी 95.6, खुशालदीप 93.6 व अनमोल प्रजाति 92.2 प्रतिशत अंक लेकर प्रथम, द्वितीय व तृतीय रहे।
नवाज गल्र्स पब्लिक स्कूल में आयशा हाशमी ने 95 प्रतिशत, अरीबा 94.8 प्रतिशत और नौशीन नाज़ ने 94.2 प्रतिशत अंक प्राप्त कर कक्षा 12 में प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान प्राप्त किया। जबकि कक्षा 10 में उमैमा तुन्निसा ने 95 प्रतिशत, आयशा मरयम ने 93.4 और हफ्सा फातिमा एवं उम्मे सलमा ने 93 प्रतिशत अंक प्राप्त कर क्रमश प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान प्राप्त किया।
स्कूल संचालक डा. नवाज देवबंदी ने स्कूल की सभी छात्राओं को बधाई देते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की। उन्होंने कहा कि बड़े स्कूलों के संसाधन की अपेक्षा बच्चियों ने अपनी मेहनत से कामयाबी हासिल कर स्कूल का नाम रोशन किया।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,188FansLike
5,319FollowersFollow
50,181SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय