Sunday, June 23, 2024

विपक्ष एकजुट नहीं है, चुनाव के बाद एक-दूसरे पर फोड़ेंगे हार का ठीकरा : आचार्य प्रमोद कृष्णम

नई दिल्ली, 25 मई (आईएएनएस)। आचार्य प्रमोद कृष्णम ने शनिवार को कांग्रेस और इंडी गठबंधन पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने आईएएनएस से बातचीत करते हुए गांधी परिवार के पहली बार कांग्रेस पार्टी को वोट नहीं देने से लेकर, दिल्ली सरकार में मंत्री आतिशी की धीमी वोटिंग के आरोपों और पाकिस्तानी नेता फवाद चौधरी के दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के समर्थन में पोस्ट करने सहित कई मसलों पर अपनी प्रतिक्रिया दी।

 

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

पहली बार कांग्रेस नेताओं का आम आदमी पार्टी के चुनाव चिन्ह झाड़ू पर वोट देने के सवाल पर आचार्य प्रमोद कृष्णम ने कहा कि अच्छी बात है, कुछ ना कुछ तो गठबंधन का धर्म निभाना पड़ेगा, जो मजबूरियां हैं, वो निभानी ही पड़ेगी। लेकिन, यह बड़े दुर्भाग्य का विषय है। कांग्रेस पार्टी का शीर्ष नेतृत्व इतने बड़े चुनाव में अपनी पार्टी को वोट नहीं दे सका है।

 

 

कांग्रेस के नेतृत्व को पुन: मूल्यांकन और आत्मचिंतन करना चाहिए। जिस पार्टी ने देश को आजादी दिलाई, उस पार्टी के सारे बड़े नेता जहां वोट डालेंगे, वहां पर हाथ का निशान नहीं है। यह पार्टी के मैनेजर को पहले सोचना चाहिए था, आज का दिन कांग्रेस पार्टी के लिए बहुत ही दुर्भाग्य का दिन है। उन्होंने कहा कि विपक्ष एकजुट नहीं है, विपक्ष तो एक-दूसरे को गाली दे रहा है। कमरा बंद होता है तो एक-दूसरे को गरियाते हैं। 4 जून के बाद समाजवादी पार्टी वाले कहेंगे हमें कांग्रेस ने हरा दिया, कांग्रेस वाले कहेंगे हमें आम आदमी पार्टी ने हरा दिया और आम आदमी पार्टी वाले कहेंगे हमें सबने मिलकर हरा दिया।

 

 

 

सब एक-दूसरे को गाली देंगे। कांग्रेस नेता आदर्श शास्त्री के आगामी विधानसभा चुनाव में आप और कांग्रेस के बीच गठबंधन कायम नहीं रहने के बयान पर उन्होंने कहा कि पूरे देश का बच्चा-बच्चा जानता है कि ‘आप’ और कांग्रेस एक-दूसरे के साथ नहीं हैं। 4 जून को उसका परिणाम देखने को मिल जाएगा। पूरी दिल्ली में इनका सूपड़ा साफ हो रहा है। दिल्ली की सभी 7 सीटों पर भाजपा की जीत दिखाई दे रही है। 4 जून के बाद यह साफ हो जाएगा कि शास्त्री जी ने ठीक कहा था। पाकिस्तान की इमरान खान सरकार में मंत्री रहे फवाद चौधरी के सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर दिल्ली के मुख्यमंत्री को समर्थन करने पर आचार्य प्रमोद कृष्णम ने कहा कि अरविंद केजरीवाल बहुत ही सुलझे हुए नेता है।

 

 

 

क्यों वह अपने ऊपर पाकिस्तान का ठप्पा लगने देंगे। कांग्रेस पार्टी के जितने भी बेहूदा नेता हैं, यह ऐसी हरकतें करते हैं, जिससे यह बात साफ हो जाती है कि यह लोग पाकिस्तान के गीत गाते हैं। पाकिस्तान भारत का भला नहीं चाहता है। जो काम पाकिस्तान चाहता है, वह कांग्रेस के नेता करते हैं। इस देश में कांग्रेस अकेली पार्टी है और उसके महान नेता हैं, जो पाकिस्तान के गीत गाते हैं। भारत में चुनाव लड़ेंगे, हिंदुस्तान में रहेंगे और गीत पाकिस्तान के गाएंगे। पाकिस्तान के नेताओं से पूछो कि क्यों उन्होंने अरविंद केजरीवाल के पक्ष में ऐसा ट्वीट किया। अरविंद केजरीवाल ने इसका खंडन किया यह अच्छी बात है। आप आदमी पार्टी की नेता आतिशी की धीमी वोटिंग के आरोपों पर उन्होंने कहा कि मुझे लगता है, यह हार की निशानी है। हारने से पहले की आहट है, हार के डर से घबराकर इस तरह की बातें की जा रही है।

 

 

4 जून के बाद ईवीएम पर भी सवाल उठेंगे, पुलिस और पैरामिलिट्री फोर्स पर सवाल उठेंगे। तो, मुझे लगता है कि विपक्ष ने अपनी हार स्वीकार कर ली है। कश्मीर में पोलिंग बूथ पर मतदाताओं के उत्साह को लेकर आचार्य प्रमोद कृष्णम ने कहा कि यह भारत की जीत है, भारत की लोकतंत्र की जीत है और यह जो मौका आया है, जो वक्त और शुभ घड़ी आई है, जो पावन अवसर आया है, यह कश्मीर के लिए नहीं, पूरे भारत के लिए है।

 

 

मैं बधाई देना चाहता हूं कश्मीर की जनता को, तमाम कश्मीर के भाई बहनों को कि उन्होंने पूरी दुनिया को यह मैसेज दे दिया कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है और रहेगा। यह पाकिस्तान के मुंह पर, अलगाववादियों के मुंह पर और कट्टरपंथियों के मुंह पर बड़ा तमाचा है। जो यह कह रहे थे कश्मीर से आर्टिकल 370 हटने के बाद आग लग जाएगी, ज्वालामुखी फट जाएगा। मुझे लगता है इस बात के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बधाई दी जानी चाहिए। उनके इस फैसले की सराहना की जानी चाहिए।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,188FansLike
5,329FollowersFollow
60,365SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय