Monday, February 26, 2024

योगी की अगुवाई में उप्र कैबिनेट और राजग गठबंधन सहयोगियों ने किये रामलला के दर्शन

अयोध्या-उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में उनके मंत्रिमण्डल एवं सहयोगियों तथा राजग गठबंधन के साथ आज श्रीरामजन्मभूमि पर विराजमान रामलला का दर्शन-पूजन किया।

Royal Bulletin के साथ जुड़ने के लिए अभी Like, Follow और Subscribe करें |

 

प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना ने अपनी पूरी कैबिनेट एवं विधायकों एवं राजग गठबंधन के साथ श्रीरामजन्मभूमि पर भव्य और दिव्य मंदिर के हो रहे निर्माण में विराजमान रामलला का दर्शन-पूजन किया। यह पहला मौका है जब पूरी योगी कैबिनेट ने रामलला का दर्शन और पूजन किया। इस दौरान सभी मंत्री और विधायक बेहद उत्साहित दिखे और भक्ति भाव में डूबे हुए नजर आये। जय श्रीराम के नारे बराबर लगाये जा रहे थे।

मंत्रिमण्डल के सदस्यों तथा विधायकों ने श्रीरामजन्मभूमि पर भव्य और दिव्य बन रहे राम मंदिर निर्माण का भी बड़ी बारीकी से अवलोकन किया और घूम-घूम कर देखा भी। इस अवसर पर श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महामंत्री चम्पत राय ने मंत्रिमण्डल के मंत्रियों और विधायकों को ले जा करके पूरे मंदिर का भ्रमण कराया। उत्तर प्रदेश में पहली बार मंत्रिमण्डल द्वारा श्रीरामलला का दर्शन-पूजन हुआ है।

अयोध्या में भव्य और दिव्य राम मंदिर के हो रहे निर्माण में बाईस जनवरी को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ने रामलला की  प्राण प्रतिष्ठा की थी। विधान मण्डल के दोनों सदन, विधानसभा के अध्यक्ष सतीश महाना और विधान परिषद् के सभापति कुंवर मानवेंद्र सिंह के नेतृत्व में विधानसभा और विधान परिषद के सदस्यों ने पार्टी लाइन से हटकर रामलला का दर्शन पूजन किया।

श्रीरामजन्मभूमि पर विराजमान रामलला का दर्शन-पूजन करने के बाद उत्तर प्रदेश के विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना ने पत्रकारों से कहा “ मैं बहुत भावुक हूं, क्योंकि मैं जब इस स्थान पर आया था तो यहां एक ढांचा खड़ा था, जो छह दिसम्बर 1992 को हमारे सामने टूटा था। मैं उस समय यहां पर आया था। जब 1990 में यहां गोली चली थी मैं उस समय भी यहां पर आया था, जिस समय चबूतरे का निर्माण हुआ था ,वह भी मुझे याद है और आज सबसे सौभाग्य की बात है कि भगवान के प्रत्यक्ष रूप से दर्शन करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ है। ”

उन्होंने कहा कि आज भव्य और दिव्य राम मंदिर निर्माण होते देख और इसी मंदिर में भगवान राम का विराजमान होना इतनी खुशी हो रही है कि इसका अंदाजा नहीं लगाया जा सकता। पूरा देश प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का जय-जयकार कर रहा है। पूरा देश राममय हो गया है, बल्कि ऐसा राम मंदिर पूरे विश्व में नहीं देखा जा सकता है।

रामजन्मभूमि के गेट नं 11 से दस बसों से आये विधायकों और मंत्रियों को प्रवेश दिया गया। उधर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ महर्षि वाल्मीकि अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा से रामलला के दर्शन के लिये पहुंचे थे। विधान भवन से अयोध्या के लिये दस लग्जरी बसों से विभिन्न पार्टी के विधायकों, विधान परिषद के सदस्यों ने यात्रा को राममय बना दिया। यात्रा के साथ अयोध्या जनपद के विधायक गण द्वारा अपने-अपने विधानसभा क्षेत्रों में भव्य फूलों से वर्षा की गयी। इसमें विधानसभा क्षेत्र रुदौली के विधायक रामचन्द्र यादव ने अयोध्या के प्रवेश द्वार पर विधान मण्डल के सदस्यों और मंत्रीगणों का भव्यता के साथ स्वागत किया।

इस प्रकार बीकापुर विधानसभा क्षेत्र के विधायक डा. अमित सिंह चौहान द्वारा अपने विधानसभा क्षेत्र सोहावल में मंत्रिमण्डल के सहयोगियों और विधान मण्डल के सदस्यों का फूलों से भव्य स्वागत किया। अयोध्या के विधायक वेदप्रकाश गुप्ता ने भी अपने विधानसभा क्षेत्र के सहादतगंज के पास विधायकगणों और मंत्रीगणों का फूलों से वर्षा कर स्वागत किया।

मंत्री एवं विधायकों को प्रसिद्ध हनुमानगढ़ी मंदिर में भी दर्शन कराना था परन्तु भीड़ को देखते हुए दर्शन कराने का कार्यक्रम कैंसिल किया गया। मुख्यमंत्री के निर्देश पर सभी सदस्यों का रामनामी पट्टा पहनाकर स्वागत किया गया। करीब पौने चार घंटे अयोध्या में योगी का मंत्रिमण्डल रामलला का दर्शन और मंदिर का अवलोकन करने के बाद लंच भी किया।अयोध्या के लिये यह दूसरा मौका है जब पूरी प्रदेश सरकार यहां आयी।

गौरतलब है कि नौ नवम्बर को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में पूरी कैबिनेट यहां आयी थी लेकिन इस बार कैबिनेट की बैठक नहीं हुई, केवल रामलला का दर्शन ही कराया गया।

अयोध्या में दर्शन के दौरान सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गयी थी। कई जगह बैरीकेडिंग भी लगायी गयी थी। बड़े वाहनों का अयोध्या में प्रवेश नहीं हो रहा था।

इस अवसर पर प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री गृह संजय प्रसाद, पुलिस महानिदेशक प्रशांत कुमार, अयोध्या मण्डल के मण्डलायुक्त गौरव दयाल, अयोध्या मण्डल के पुलिस महानिरीक्षक प्रवीण कुमार, जिलाधिकारी नितीश कुमार, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक राजकरण नैय्यर, नगर निगम के नगर आयुक्त विशाल सिंह, श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चम्पत राय, सदस्य अनिल मिश्रा, नगर निगम अयोध्या के मेयर गिरीशपति त्रिपाठी, विधायक रामचन्द्र यादव, वेदप्रकाश गुप्ता, डा. अमित सिंह चौहान, अपर पुलिस महानिदेशक पीयूष मोर्डिया, सूचना निदेशक शिशिर सिंह, मुख्य विकास अधिकारी ऋषिराज सिंह सहित अन्य प्रशासनिक एवं पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहे।

Related Articles

STAY CONNECTED

74,381FansLike
5,290FollowersFollow
41,443SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

सर्वाधिक लोकप्रिय